Home /News /career /

DUTA: वेतन रुकने पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के शिक्षकों ने शुरू की भूख हड़ताल

DUTA: वेतन रुकने पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के शिक्षकों ने शुरू की भूख हड़ताल

डूटा अध्यक्ष राजीव रे ने कहा कि तीन कॉलेजों के शिक्षकों को मार्च का वेतन नहीं मिला है जो कि काफी चिंताजनक स्थिति है. इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है.

डूटा अध्यक्ष राजीव रे ने कहा कि तीन कॉलेजों के शिक्षकों को मार्च का वेतन नहीं मिला है जो कि काफी चिंताजनक स्थिति है. इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है.

डूटा अध्यक्ष राजीव रे ने कहा कि तीन कॉलेजों के शिक्षकों को मार्च का वेतन नहीं मिला है जो कि काफी चिंताजनक स्थिति है. इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है.

    दिल्ली सरकार की वित्त पोषित 12 कॉलेजों में शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन संकट के खिलाफ एकजुटता दिखाने के लिए मंगलवार को दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ने दिल्ली सरकार के खिलाफ 28 अप्रैल को एक दिन की भूख हड़ताल की घोषणा की है. अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक डूटा अध्यक्ष राजीव रे ने कहा कि तीन कॉलेजों के शिक्षकों को मार्च का वेतन नहीं मिला है जो कि काफी चिंताजनक स्थिति है. इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है.

    अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक डूटा उपाध्यक्ष आलोक रंजन पांडेय ने शिक्षकों और कर्मचारियों को वेतन न मिलने को सरकार के स्तर पर असंवदनशीलता बताया है. उन्होने मांग की कि शिक्षकों को शीघ्र वेतन दिया जाए. डूटा की तरफ से जारी प्रेस रिलीज में दिल्ली सरकार की तरफ से शिक्षकों के वेतन रोकने को क्रूर कदम बताया गया है. डूटा के साथ ही सभी शिक्षक दिल्ली सरकार से फौरन इन कॉलेजों के लिए अनुदान जारी करने की मांग कर रहे हैं.



    बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से भले ही कॉलेज और स्कूल बंद हैं लेकिन उनके लिए ऑनलाइन क्लासेज की व्यवस्था की जा रही है. साथ ही लगातार इस बात पर भी विचार किया जा रहा है कि कैसे परीक्षा को समय रहते करा लिया जाए ताकि छात्रों का सत्र गड़बड़ न हो.

    Tags: Career Guidance, Job and career, Ramesh Pokhriyal Nishank

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर