लाइव टीवी

कोरोना का असर: DU और IGNOU समेत कई यूनिवर्सिटीज में एडमिशन बाधित

News18Hindi
Updated: March 22, 2020, 12:48 PM IST
कोरोना का असर: DU और IGNOU समेत कई यूनिवर्सिटीज में एडमिशन बाधित
राजधानी दिल्ली में अधिकांश शिक्षण संस्थानों ने परीक्षाएं, प्रवेश प्रक्रिया और कक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं.

कोरोना के संक्रमण को देखते हुए राजधानी दिल्ली में अधिकांश शिक्षण संस्थानों ने परीक्षाएं, प्रवेश प्रक्रिया और कक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2020, 12:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आज रविवार को कोरोना वायरस की वजह से देश में जनता कर्क्यू लगाना पड़ा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोगों से इसके लिए अपील तक करनी पड़ी. कोरोना के संक्रमण को देखते हुए राजधानी के अधिकांश शिक्षण संस्थानों ने परीक्षाएं, प्रवेश प्रक्रिया और कक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च थी, जो 10 अप्रैल तक बढ़ाई जा सकती है.

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. महेश वर्मा ने बताया कि परीक्षाएं पहले ही स्थगित कर दी थीं और अब आवेदन की तिथि भी बढ़ा दी गई है. इसके पीछे कोरोना के संक्रमण का भय है. उन्होंने बताया कि ऑनलाइन आवेदन में किसी तरह की परेशानी होने पर छात्र हेल्पलाइन नंबर 02268202727 पर सहायता ले सकते हैं. इसके अलावा विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर बाकी सुविधाओं के लिए नंबर जारी किए हैं.

जामिया में 15 अप्रैल तक करें ऑनलाइन आवेदन
जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी ने अपने यहां ऑनलाइन आवेदन की तिथि बढ़ाकर 15 अप्रैल कर दी है. पहले यह तिथि 3 अप्रैल थी. कोरोना के कारण जामिया प्रशासन ने कई और महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं. जिसमें कर्मचारियों को घर से काम करने की सुविधा दी है. आवश्यक कार्य वाले कर्मचारियों को ही कार्यालय आने के लिए कहा गया है. प्रशासन ने मेस और कैंटीन बंद करने का भी आदेश दिया है. जामिया स्कूल के नर्सरी से 12वीं तक के दाखिलों की तिथि भी अगले आदेश तक स्थगित कर दी गई है. जामिया ने केंद्रीय लाइब्रेरी सहित अन्य विभागों की लाइब्रेरी भी बंद करने को कहा है.



डीयू में भी बढ़ेगी आवेदन की तिथि
डीयू में अप्रैल के पहले सप्ताह से स्नातक में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू होने थे, लेकिन फिलहाल दाखिला समिति की बैठकें टल गई हैं. विश्वविद्यालय 31 मार्च तक बंद है, ऐसे में अप्रैल के पहले सप्ताह से शुरू होने वाली आवेदन प्रक्रिया स्थगित होगी. दाखिला समिति के एक सदस्य का कहना है कि डीयू के छात्रों के लिए विश्वविद्यालय ने कई एहतियाती कदम उठाए हैं ऐसे में आवेदन प्रक्रिया शुरू होने में अभी और समय लग सकता है. ज्ञात हो कि इस बार डीयू ने दाखिला सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए डीन एडमिशन की नियुक्ति की थी और समिति ने अप्रैल के पहले सप्ताह से न केवल ऑनलाइन आवेदन का प्रस्ताव रखा था, जिस पर सहमति बन गई थी.
इग्नू ने स्थगित की कक्षाएं
इग्नू ने कोरोना के कारण देशभर में सपोर्ट सेंटर पर आयोजित होने वाली कक्षाएं 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी हैं. विश्वविद्यालय के 56 क्षेत्रीय केंद्रों से संबद्ध देशभर में 35 हजार से अधिक शैक्षणिक परामर्शदाताओं के साथ 1800 से अधिक एलएससी हैं, जहां सात लाख से अधिक छात्रों को सहायता सेवाएं प्रदान की जाती हैं. यह सब 31 मार्च तक स्थगित रहेगा. इग्नू ने असाइनमेंट जमा करने की तिथि भी 30 अप्रैल बढ़ा दी है. छात्र असाइनमेंट के लिए http://ignou.ac.in//userfiles/Notification%20of%20Assignments.pdf लिंक का प्रयोग कर सकते हैं.

इग्नू के कुलपति प्रो. नागेश्वर राव ने इस दौरान शिक्षार्थियों से अध्ययन केंद्र, क्षेत्रीय केंद्र और इग्नू मुख्यालय का दौरा नहीं करने का आग्रह किया है. इसके बजाय उन्हें इग्नू के हेल्पलाइन टेलीफोन नंबरों, इग्नू की वेबसाइट, आईजीआरएएम पोर्टल पर उपलब्ध ईमेल का उपयोग करने की सलाह दी है. किसी भी समर्थन सेवाओं और प्रश्नों के लिए सोशल मीडिया का प्रयोग छात्र कर सकते हैं.

इग्नू ने टर्म एंड परीक्षा की भी तिथि बढ़ाई
इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी ने जून में आयोजित होने वाली टर्म एंड परीक्षा की तिथि भी आगे बढ़ा दी है. इग्नू ने पहले आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च तय की थी, जिसे 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया गया है.

जामिया मिल्लिया के बाहर चल रहा धरना स्थगित
जामिया मिल्लिया इस्लामिया के नंबर 7 पर सीएए और एनआरसी के खिलाफ चल रहे विरोध-प्रदर्शन को अस्थायी रूप से स्थगित कर दिया गया है. सभी प्रदर्शनकारियों से अपील की गई है कि वे स्थिति को गंभीरता से लें और कोरोना से खुद को और दूसरों को बचाएं. बता दें कि जामिया में चल रहे प्रदर्शन को शनिवयार को 100 दिन पूरे हो गए हैं. जामिया कोआर्डिनेशन कमेटी का कहना है कि यह आंदोलन वर्तमान स्थिति को देखते हुए स्थगित किया जा रहा है.

ट्रेनें बंद, हॉस्टल वाले छात्र घर कैसे जाएंगे
दिल्ली के सभी विश्वविद्यालयों के हॉस्टल बंद करने के निर्देश दिए गए हैं. दिल्ली में बड़ी संख्या में छात्र हॉस्टल में रहते हैं. शुक्रवार को हास्टल खाली करने के फरमान के बाद छात्रों के सामने संकट है कि घर कैसे जाए. लंबी दूरी की बहुत सारी ट्रेनें रद्द हैं. पिंजरा तोड़ संगठन का कहना है कि हॉस्टल से जबरदस्ती निकालने का फरमान अलोकतांत्रित है. ऐसे समय में जब ट्रेन रद्द हो गई हैं और यात्रा में संक्रमण का खतरा है. हमारी मांग है कि प्रशासन इन बिंदुओं को एक बार फिर से देखे.

ये भी पढ़ें-  Corona Stress : गूगल ने लॉन्च की एजुकेशनल कोरोना वायरस वेबसाइट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2020, 12:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर