भारत के नामी शिक्षा संस्थान दूसरे देशों में भी खोल सकेंगे अपने कैंपस, यूजीसी ने जारी की गाइडलाइन

मशहूर शिक्षा संस्थान विदेशों में भी अपने संस्थान खोल सकेंगे.

मशहूर शिक्षा संस्थान विदेशों में भी अपने संस्थान खोल सकेंगे.

नई गाइडलाइन्स नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति, एनईपी (National Education policy) के तहत जारी किए गए हैं, जिनके अनुसार विदेशी विश्वविद्यालय भारत में और भारत के शीर्ष संस्थान दूसरे देशों में अपने कैंपस स्थापित कर सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 3:01 PM IST
  • Share this:
नयी दिल्ली: मशहूर संस्थानों का दर्जा प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय और कॉलेज अब दूसरे देशों में भी अपने कैंपसों की स्थापना कर सकेंगे. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग,यूजीसी (University Grants Commission, UGC) ने इस संबंध में नए निर्देश जारी किए हैं. शिक्षा मंत्रालय ने साल 2018 में प्रख्यात संस्थान (आईओए) योजना शुरू की थी, जिसके तहत 10 सार्वजनिक और 10 निजी संस्थानों समेत कुल 20 संस्थानों का चयन कर उन्हें पूरी एकेडमिक और प्रशासनिक स्वायत्ता प्रदान की जाती है.

ये नई गाइडलाइन्स नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति, एनईपी (National Education policy) के तहत जारी किए गए हैं, जिनके अनुसार विदेशी विश्वविद्यालय भारत में और भारत के शीर्ष संस्थान दूसरे देशों में अपने कैंपस स्थापित कर सकेंगे. नियमों के अनुसार मशहूर संस्थानों को पांच साल में अधिकतम तीन ऑफ-कैंपस केन्द्र खोलने की अनुमति होगी. वे एक एकेडमिक ईयर में एक से अधिक कैंपस नहीं खोल सकेंगे. बहरहाल, उन्हें इसके लिये शिक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय और विदेश मंत्रालय से अनुमति लेनी होगी.

ये भी पढ़ें

Sarkari Naukri: विधानसभा सचिवालय में भर्तियां, बढ़ गई आवेदन की अंतिम तिथि
NIOS DELEd:18 माह के डीएलएड कोर्स को देश भर में मान्यता, बन सकेंगे सरकारी टीचर

नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, 'प्रख्यात संस्थानों को प्रक्रियाओं का पालन करते हुए पांच साल में अधिकतम तीन ऑफ-कैंपस केन्द्र खोलने की अनुमति होगी. वे एक अकादमिक वर्ष में एक से अधिक कैंपस नहीं खोल सकेंगे.' इनमें कहा गया है, 'ऑफ कैंपस केन्द्र स्थापित करने के इच्छुक संस्थान को शिक्षा मंत्रालय में आवेदन देते हुए अपनी 10 वर्षीय 'रणनीतिक लक्ष्य योजना' और पांच वर्षीय 'कार्यान्वयन योजना' के बारे में बताना होगा. इसमें अकादमिक, संकाय की भर्ती, छात्रों का दाखिला, अनुसंधान अवसंरचना विकास तथा वित्तीय तथा प्रशासनिक योजनाएं शामिल हैं.'

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज