लाइव टीवी

अपने ही देश में इन पांच जगहों पर नहीं जा सकते भारतीय, जानिए क्या है वजह?

News18Hindi
Updated: February 25, 2020, 5:17 PM IST
अपने ही देश में इन पांच जगहों पर नहीं जा सकते भारतीय, जानिए क्या है वजह?
हिमाचल प्रदेश के कसोल में स्थित ‘फ्री कसोल कैफे’ में भारतियों का प्रवेश वर्जित है.

आज हम आपको ऐसी ही कई जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां भारतीय नहीं जा सकते हैं. साथ ही हम आपको इसकी वजह भी बताएंगे कि आखिर भारतीय यहां क्यों नहीं जा सकते.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2020, 5:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आपने लोगों को यह कहते हुए कई बार सुना होगा कि कोई भी भारतीय देश के किसी भा कोने में जा सकता है. कहीं भी जमीन खरीद सकता है और घर बना सकता है. लेकिन देश में ही कुछ पर्यटन स्थल ऐसे भी हैं जहां भारतीय पर्यटक नहीं जा सकते. यहां भारत के मूल निवासियों का प्रवेश से वर्जित है. आज हम आपको ऐसी ही कई जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां भारतीय नहीं जा सकते हैं. साथ ही हम आपको इसकी वजह भी बताएंगे कि आखिर भारतीय यहां क्यों नहीं जा सकते. आइए जानते हैं इन जगहों के बारे में....

फ्री कसोल कैफे (हिमाचल प्रदेश)
हिमाचल प्रदेश के कसोल में स्थित ‘फ्री कसोल कैफे’ में भारतियों का प्रवेश वर्जित है. इस कैफे का संचालन इज़राइल के लोग करते हैं. यह कैफे तब साल 2015 में चर्चा में आया था जब एक भारतीय महिला को सर्व करने से मना कर दिया गया था. कैफे संचालक का कहना था कि वो सिर्फ अपने मेंबर्स को ही सर्व करता है. इस घटना के बाद कैफे की काफी आलोचना भी थी और इस पर नस्लवाद के आरोप भी लगे थे. कैफे के मालिक ने इस पर कहा था कि कैफे में आने वाले अधिकतर भारतीय पर्यटकों में सिर्फ पुरुष होते हैं और उनका अन्य टूरिस्ट के प्रति व्यवहार अच्छा नहीं होता है. इसलिए यहां भारतीयों को नहीं आने दिया जाता.

Five Place in India, Indians, Indian citizens, tourists. Tourist places, Himachal Pradesh, Bangalore, Chennai, Goa, Island, देश की पांच जगह, भारतीय नागरिक,पर्यटक. पर्यटन स्थल, हिमाचल प्रदेश, बैंगलौर, चेन्नई, गोवा, आइलैंड, cbse english, cbse class 10, cbse class 12, cbse board, cbse sample, paper, bput exam schedule, board exam postponed, bput exam, icsi exam result, bput exam, schedule 2020
देश में ही कुछ पर्यटन स्थल ऐसे भी हैं जहां भारतीय पर्यटक नहीं जा सकते.




यूनो-इन होटल, बैंगलोर


बैंगलोर स्थित यूनो-इन होटल सिर्फ जापानी लोगों को ही सेवा देता है. साल 2012 में स्थापित इस होटल पर नस्लवाद के गंभीर आरोप लगे थे. साल 2014 में ग्रेटर बैंगलोर सिटी कॉर्पोरेशन द्वारा होटल को बंद करवा दिया गया था. होटल प्रशासन का कहना था कि उसने जापान की कई कंपनियों के साथ अनुबंध कर रखा है, जिसके चलते वह सिर्फ जापानी पर्यटकों को ही अपनी सेवाएं देता है. साल 2014 में ग्रेटर बैंगलोर सिटी कॉर्पोरेशन ने होटल के 30 कमरों में से 10 पर ताला जड़ दिया था.

Five Place in India, Indians, Indian citizens, tourists. Tourist places, Himachal Pradesh, Bangalore, Chennai, Goa, Island, देश की पांच जगह, भारतीय नागरिक,पर्यटक. पर्यटन स्थल, हिमाचल प्रदेश, बैंगलौर, चेन्नई, गोवा, आइलैंड, cbse english, cbse class 10, cbse class 12, cbse board, cbse sample, paper, bput exam schedule, board exam postponed, bput exam, icsi exam result, bput exam, schedule 2020
चेन्नई स्थित रेड लॉलीपॉप हॉस्टल भी अपने सेवाओं के चलते नस्लवाद के आरोपों से घिरा हुआ है.


रेड लॉलीपॉप हॉस्टल, चेन्नई
चेन्नई स्थित रेड लॉलीपॉप हॉस्टल भी अपने सेवाओं के चलते नस्लवाद के आरोपों से घिरा हुआ है. हॉस्टल में प्रवेश के लिए व्यक्ति को पासपोर्ट को आवश्यकता होती है, ऐसे में भारत के आम नागरिकों के लिए यह हॉस्टल अपनी सेवाएं नहीं देता. होटल का दावा है कि वह पहली बार भारत आने वाले पर्यटकों को सेवा प्रदान करता है. यूं तो होटल में भरतीयों का प्रवेश वर्जित है, लेकिन विदेशी पासपोर्ट के साथ होटल आने वाले भारतीय मूल के नागरिकों को होटल में प्रवेश मिल जाता है.

गोवा अपने खूबसूरत समुद्र तट के लिए दुनिया भर में मशहूर है.
गोवा के इन बीचों पर भारतीयों के प्रवेश पर लगी रोक आधिकारिक नहीं है.


नो इंडियन’ बीच, गोवा
गोवा अपने खूबसूरत समुद्र तट के लिए दुनिया भर में मशहूर है. भारतीयों के लिए भी गोवा देश के सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थल में से एक है. यूं तो गोवा के बीच में देश समेत दुनिया भर से पर्यटक आते हैं, लेकिन फिर भी गोवा के कुछ बीच ऐसे भी हैं जहां भारतीयों का प्रवेश निषेध है.

गोवा के इन बीचों पर भारतीयों के प्रवेश पर लगी रोक आधिकारिक नहीं है, लेकिन स्थानीय निवासियों की मानें तो देशी पर्यटक विदेश से आए पर्यटकों के लिए परेशानी खड़ी करने के साथ ही अनुचित व्यवहार करते हैं. ऐसे में स्थानीय लोगों ने कई बीच पर भारतीय पर्यटकों का प्रवेश वर्जित कर रखा है. गोवा में अंजुना बीच ऐसी ही जगह है जहां आपको बामुश्किल ही कोई भारतीय पर्यटक आस-पास घूमता हुआ दिखाई देगा.

Five Place in India, Indians, Indian citizens, tourists. Tourist places, Himachal Pradesh, Bangalore, Chennai, Goa, Island, देश की पांच जगह, भारतीय नागरिक,पर्यटक. पर्यटन स्थल, हिमाचल प्रदेश, बैंगलौर, चेन्नई, गोवा, आइलैंड, cbse english, cbse class 10, cbse class 12, cbse board, cbse sample, paper, bput exam schedule, board exam postponed, bput exam, icsi exam result, bput exam, schedule 2020
अंडमान-निकोबार द्वीप समूह का एक द्वीप नॉर्थ सेंटिनल आइलैंड भी है, जहां सिर्फ आदिवासी निवास करते हैं.


नॉर्थ सेंटिनल आइलैंड
अंडमान-निकोबार द्वीप समूह का एक द्वीप नॉर्थ सेंटिनल आइलैंड भी है, जहां सिर्फ आदिवासी निवास करते हैं. यह द्वीप बाहरी दुनिया से लगभग न के बराबर संपर्क रखता है. साल 2018 में एक अमेरिकी ईसाई धर्म प्रचारक की मौत के बाद यह द्वीप ख़ासी चर्चा में आया था.

इस तरह के कबीलों में रह रहे आदिवासियों की रक्षा के लिए वहां आम लोगों का प्रवेश पूरी तरह वर्जित रखा गया है, इसके लिए बाकायदा कानून की भी व्यवस्था की गई है. नॉर्थ सेंटिनल द्वीप 23 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है, वहीं यहं रहने वाले आदिवासियों की संख्या महज 100 के करीब है. विशेषज्ञों का मानना है कि बाहरी व्यक्तियों के संपर्क में आने से इन आदिवासियों को संक्रामण हो सकता है.

ये भी पढ़ें- CBSE Class 10: कल है अंग्रेजी का पेपर, अंतिम समय में इन टॉपिक्स को कर लें कंप्लीट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 4:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading