आर्ट्स स्टूडेंट्स 12वीं के बाद DU से करें ये 5 कोर्स, बेहतर बनेगा करियर

12वीं के बाद कॉलेज (College) में कौन से कोर्स (Course) उनके भविष्य के लिहाज से बेहतर रहेंगे. आर्ट्स स्ट्रीम (Arts Stream) के छात्रों में इस बात को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंता रहती है.

12वीं के बाद कॉलेज (College) में कौन से कोर्स (Course) उनके भविष्य के लिहाज से बेहतर रहेंगे. आर्ट्स स्ट्रीम (Arts Stream) के छात्रों में इस बात को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंता रहती है.

12वीं के बाद कॉलेज (College) में कौन से कोर्स (Course) उनके भविष्य के लिहाज से बेहतर रहेंगे. आर्ट्स स्ट्रीम (Arts Stream) के छात्रों में इस बात को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंता रहती है.

  • Share this:

नई दिल्ली. तमाम शिक्षा (Education) बोर्ड्स ने 12वीं की परीक्षाएं (Exams) रद्द करने के बाद अब अपनी-अपनी नीतियों के आधार पर छात्रों का रिजल्ट (Results) बनाने पर काम शुरू कर दिया है. अगले 10 से 15 दिनों में विभिन्न शिक्षा बोर्ड्स (Boards) के रिजल्ट्स जारी होने शुरू हो जाएंगे. ऐसे में अब तमाम छात्र ग्रेजुएशन (Graduation) के लिए दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) में दाखिले (Admission) के सपने देख रहे होंगे. छात्रों के मन में सबसे बड़ा सवाल यही रहता है कि 12वीं के बाद कॉलेज (College) में कौन से कोर्स (Course) उनके भविष्य के लिहाज से बेहतर रहेंगे. आर्ट्स स्ट्रीम (Arts Stream) के छात्रों में इस बात को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंता रहती है. चलिए आज जानते हैं DU में आर्ट्स के ऐसे 5 कोर्सेज के बारे में जो कैरियर (Career) के लिहाज से काफी लोकप्रिय हैं:

1. बीए ऑनर्स इन जर्नलिज्म (B.A. Hons. In Journalism):

खबरों की दुनिया मे रुचि रखने और इसे समझने वाले छात्रों के लिए DU का यह कोर्स एक बेहतर विकल्प है. DU में अंडर ग्रेजुएट स्तर पर हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में जर्नलिज्म कोर्स चलाया जाता है. इस तीन वर्षीय कोर्स के दौरान छात्र पत्रकारिता, उसके प्रकार, उसके विभिन्न आयाम और उससे संबंधी विभिन्न बारीकियों के बारे में जानते और सीखते हैं. इस कोर्स के दौरान छात्रों को ट्रेनिंग के जरिए अनुभव का अवसर भी मिलता है जिससे कोर्स के बाद उन्हें जॉब मिलने में आसानी हो सके. इस कोर्स में दाखिले के लिए 12वीं में आर्ट्स विषयों के साथ हिंदी (Hindi) और इंग्लिश (English) भाषा सहित 50 प्रतिशत अंक होना जरूरी है.

2. बीए ऑनर्स इन सोशल वर्क (B.A. Hons. In Social Work):
समाज सेवा और दूसरों की सहायता में रुचि रखने वाले छात्रों के लिए DU का यह कोर्स एक बेहतर विकल्प है. अंडर ग्रेजुएट स्तर पर 3 साल का यह फुल टाइम कोर्स काफी हद तक प्रैक्टिस पर आधारित है. इस कोर्स के दौरान छात्र साइकोलॉजी, कम्युनिटी आर्गेनाइजेशन, फिजिकल-मेंटल और कम्युनिटी हेल्थ जैसे विषयों के बारे में काफी नजदीकी से जानते और सीखते हैं. कोर्स में थ्योरी से ज्यादा महत्व प्रैक्टिकल ट्रेनिंग को दिया जाता है. इस कोर्स के बाद छात्रों के पास विभिन्न सरकारी, गैर सरकारी, प्राइवेट कंपनियों और NGO में जॉब्स की बेहतर संभावनाएं होती हैं. इस कोर्स में दाखिले के लिए 12वीं में 50 प्रतिशत अंक होना जरूरी है.

3. बीए इंग्लिश ऑनर्स (B.A. Hons. In English):

अगर आपकी इंग्लिश भाषा पर अच्छी पकड़ है और आप इंग्लिश साहित्य में रुचि रखते हैं तो 12वीं के बाद छात्रों के लिए DU का यह कोर्स एक बेहतरीन विकल्प है. इस कोर्स के तहत छात्र ड्रामा, पोएट्री, नॉवेल्स और नाटकों के जरिए मॉडर्न सोसाइटी में इंग्लिश भाषा और साहित्य के विकास के बारे में जानते-समझते हैं. इस तीन वर्षीय कोर्स में मैरिट और कट ऑफ के आधार पर दाखिला होता है. इस कोर्स के बाद छात्रों के पास, कंटेंट रायटिंग, क्रिएटिव रायटिंग, स्कूल टीचिंग, मीडिया जैसे क्षेत्रों में कैरियर के बेहतर विकल्प होते हैं.



4. बीए साइकोलॉजी ऑनर्स (B.A. Hons. In Psychology):

अगर आपको दूसरों के व्यवहार को जानने पढ़ने समझने का शौक है तो मानव व्यवहार के अध्ययन पर आधारित DU का यह 3 वर्षीय अंडर ग्रेजुएट कोर्स आपके लिए ही है. आर्ट्स स्ट्रीम के इस कोर्स की छात्रों में काफी डिमांड होती है. इस कोर्स के तहत छात्र व्यवहार और मानसिक विज्ञान, फीलिंग्स, मानसिक स्थितियों और सामाजिक समस्याओं के विषय में जानते और सीखते हैं. इस कोर्स में दाखिले के लिए 12वीं में कम से कम 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए. इस कोर्स के बाद छात्रों के पास साइकोलोजिस्ट, लर्निंग एंड डेवलपमेंट स्पेशलिस्ट, रिलेशनशिप मैनेजर और एचआर मैनेजर जैसे बेहतर कैरियर विकल्प होते हैं.

ये भी पढ़ें-

UPPSC Jobs: यूपी के 10 सरकारी विभागों में 130 पदों पर भर्तियां, देखें सैलरी सहित अन्य डिटेल

Sarkari Jobs: बिहार में सीनियर रेजिडेंट की 1700 से अधिक वैकेंसी, देखें डिटेल

5. बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स (BFA):

किसी छात्र को पेंटिंग, फोटोग्राफी, स्केचिंग या एनीमेशन जैसी आर्ट्स का शौक है तो 12 वीं के बाद DU का यह कोर्स आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प है. यह 4 वर्षीय डिग्री कोर्स आपकी इन सभी स्किल्स को निखारने और विकसित करने में मदद करता है और आपके अंदर के आर्टिस्ट को उभारकर बाहर लाता है. ये आपको प्रतिष्ठा के साथ-साथ नाम और शोहरत भी दिलाता है. इस कोर्स के बाद छात्रों के पास आर्ट टीचर, फाइन आर्टिस्ट, मल्टीमीडिया आर्टिस्ट, आर्ट डायरेक्टर, राइटर, पेंटर और फोटोग्राफी जैसे कैरियर के बेहतर विकल्प मौजूद होते हैं.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज