golden jubilee year of JNU: यूनिवर्सिटी में आयोजित होगा 6 दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय अपने स्थापना के स्वर्ण जयंती समारोह आयोजित करने जा रहा है. इस अवसर पर यूनिवर्सिटी में एक छह दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा.

News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 9:23 PM IST
golden jubilee year of JNU: यूनिवर्सिटी में आयोजित होगा 6 दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 9:23 PM IST
जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय अपने स्थापना के स्वर्ण जयंती समारोह आयोजित करने जा रहा है. इस अवसर पर यूनिवर्सिटी में एक छह दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. यह सम्मेलन 3 से 9 जून तक चलेगा. 2019 में जेएनयू स्वर्ण जयंती वर्ष मनाने के लिए कई तरह के प्रोग्राम आयोजित किए जाएंगे. इस कार्यक्रम के दौरान यूनिवर्सिटी में अकादमिक व्याख्यान और प्रदर्शनी के साथ-साथ कई तरह के सांस्कृतिक समारोह और प्रदर्शनियों का प्रदर्शन होगा. इसके अतिरिक्त खेल गतिविधियों और प्रदर्शनियों के माध्यम से यूनिवर्सिटी अपनी उपलब्धियों को प्रदर्शित करेगा.

कार्यक्रम का उद्देश्य विविधता में एकता का संदेश


गौरतलब है कि यूनिवर्सिटी के इस कार्यक्रम का उद्देश्य विविधता में एकता का संदेश देना है. साथ ही यूनिवर्सिटी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय सहयोगों के क्षेत्रों में उसके द्वारा किए जा रहे कार्यों पर भी प्रकाश डाला जाएगा. जेएनयू के इस वर्ष के प्रोग्राम में भारत और विदेश के करीब 1500 युवा प्रतिनिधि भाग लेंगे. जेएनयू स्वर्ण जयंती कार्यक्रम में भारतीय शास्त्रीय संगीत के कर्नाटक और हिंदुस्तानी दोनों की संगीत विधावों का प्रदर्शन होगा.

सांस्कृतिक और लोक कलाओं का होगा आयोजन

संगीत के अलावा शास्त्रीय नृत्य का भी आयोजन होगा. जिसमें शास्त्रीय नृत्य के साथ ही लोक नृत्य की भी प्रस्तुति होगी. प्रख्यात लेखकों और चित्रकारों द्वारा वार्ता आयोजित की जाएगी. इसके अलावा सिनेमा क्लासिक स्क्रीनिंग के बाद एक चर्चा, हेरिटेज वॉक, लोक कला और कला में कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी. इस सम्मेलन के दौरान शिल्प, योग, नाद योग और अन्य विभिन्न गतिविधियां इस आयोजन का हिस्सा होंगी.

जेएनयू स्वर्ण जयंती समारोह का आयोजन गैर-राजनीतक संस्था द्वारा
जेएनयू के स्वर्ण जयंती समारोह में होने वाले कार्यक्रमों का आयोजन SPIC MACAY द्वारा किया जा रहा है. जो एक गैर-लाभकारी और गैर-राजनीतिक आंदोलन से जुड़ी संस्था है. यह संस्था समृद्ध और विविध सांस्कृतिक धरोहरों को संरक्षित करने का काम करती है. साथ ही यह युवाओं में इनको प्रचारित करने का काम भी करती है. जिससे इन सांस्कृतिक विरासतों को और समृद्ध किया जा सके.
Loading...

ये भी पढ़ें: UGC NET Admit Card 2019: आज ntanet.nic.in पर जारी होने की संभावना, जानिए कैसे करना है चेक
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...