Good News : शिक्षित बेरोजगारों को मिलेगा 5000 रूपए भत्ता, देने होंगे ये दस्तावेज

Good News : झारखंड में शिक्षित बेजगारों को 5000 रूपए भत्ता देने का ऐलान.

Good News : झारखंड में शिक्षित बेजगारों को 5000 रूपए भत्ता देने का ऐलान.

सीएम हेमंत सोरेन ने ऐलान किया है कि राज्य के शिक्षित बेरोजगारों को पांच हजार रुपए बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा. इसके लिए 1 अप्रैल 2021 से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 1, 2021, 12:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नौकरी की चाह रखने वाले शिक्षित बेरोजगारों को संबल देते हुए झारखंड सीएम हेमंत सोरेन ने बेरोजगारी भत्‍ता देने का एलान किया गया है. इसके लिए आज यानी 1 अप्रैल से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो रही है.

सरकारी व प्राइवेट नौकरी के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाने वाले और करियर में बेहतरी की चाह रखने वाले शिक्षित बेरोजगारों को संबल देते हुए बेरोजगारी भत्‍ता देने का एलान किया गया है. इसके लिए आज 1 अप्रैल से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो रही है. झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने 5000 रुपए बेरोजगारी भत्‍ता देने का बड़ा एलान किया है. अगर आप युवा हैं, तो नए वित्‍तीय वर्ष 2021-22 में झारखंड में बेरोजगारी भत्ता के लिए अप्लाई करने के लिए तैयार हो जाइए, आज से इन कागजातों के साथ आप अपना आवेदन जमा कर सकते हैं.

आवेदन के लिए यह दस्तावेज है जरूरी

बेरोजगारी भत्‍ता के लिए उम्मीदवारों को इन 10 अहम कागजातों की जरूरत पड़ेगी. मुख्‍यमंत्री प्रोत्‍साहन योजना के लिए आवेदन जमा करने के दौरान योग्‍य अभ्‍यर्थियों को ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करना होगा. झारखंड के सरकारी संस्‍थानों में पढ़े-लिखे नौजवान बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना के जरिए आवेदन दे सकते हैं. आज से आवेदन प्रक्रिया शुरू हो गई है. इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदन करने के दौरान कई कागजातों को जमा करना बेहद जरूरी है.
यह  भी पढ़ें -

UPSC Success Story : कॉलेज में अंग्रेजी को लेकर बनता था मजाक, पहले ही प्रयास में बने आईएएस टॉपर

Jharkhand Education : सरकार के इस फैसले से 11 हजार से अधिक बच्चों को मिलेगा लाभ



सरकार की ओर से कहा गया है कि मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना के लिए जो भी अभ्‍यर्थी अपना आवेदन जमा कर रहे हों, उन्‍हें एफिडेविट के जरिए सही सूचनाओं के बारे में उद्घोषणा करनी होगी. आवेदन में सिर्फ और सिर्फ सही और सटीक जानकारी देना बेहद आवश्यक है.आगे की जांच-पड़ताल में यदि आवेदकों की ओर से कोई गलत जानकारी देने का प्रमाण मिलता है, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज