फाइनल ईयर एग्जाम को लेकर यूजीसी सर्कुलर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कल होगी सुनवाई

फाइनल ईयर एग्जाम को लेकर यूजीसी सर्कुलर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कल होगी सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को यूजीसी के सर्कुलर को लेकर सुनवाई होगी.

पूरे देश से अलग अलग यूनिवर्सिटीज के करीब 31 छात्रों ने सर्कुलर को रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है. सर्कुलर 6 जुलाई को जारी किया गया था जिसमें सभी यूनिवर्सिटीज से 30 सितंबर तक परीक्षा खत्म करने के लिए कहा गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 26, 2020, 10:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) में 27 जुलाई को विश्वविद्यालय चयन आयोग (University Grants Commission, UGC) के एक सर्कुलर को लेकर सुनवाई होगी. सर्कुलर में कोविड-19 (Coronavirus Pandemic) के दौरान परीक्षा करवाने के लिए गाइडलाइन (UGC Guidelines) जारी किया गया है. याचिका में इस सर्कुलर को रद्द करने की मांग की गई है. जस्टिस अशोक भूषण (Justice Ashok Bhushan) की अध्यक्षता वाली बेंच सोमवार को इस मामले में सुनवाई करेगी.

सुप्रीम कोर्ट में पड़ी है याचिका
पूरे देश से अलग अलग यूनिवर्सिटीज के करीब 31 छात्रों ने सर्कुलर को रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है. सर्कुलर 6 जुलाई को जारी किया गया था जिसमें सभी यूनिवर्सिटीज से 30 सितंबर तक परीक्षा खत्म करने के लिए कहा गया था. याचिका में छात्रों ने कहा कि परीक्षा कैंसिल की जानी चाहिए और रिजल्ट को इंटरनल असेसमेंट या पास्ट परफॉर्मेंस के आधार पर घोषित किया जाना चाहिए. छात्रों की ये भी मांग है कि मार्कशीट 31 जुलाई के पहले पहले रिलीज कर दी जानी चाहिए.

सीबीएसई मॉडल को छात्र बता रहे हैं बेहतर
याचिका दायर करने वाले छात्रों में से एक छात्र का कहना है कि यूजीसी को सीबीएसई मॉडल को अपनाना चाहिए और बाद में उन छात्रों के लिए परीक्षा करवाई जानी चाहिए जो लोग अपने अभी के रिजल्ट से संतुष्ट नहीं हैं. याचिका में कहा गया है कि परीक्षा छात्रों के हित में कैंसिल की जानी चाहिए क्योंकि कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं.



ये भी पढ़ें-
MHRD ने बनाई समिति, देश में रहकर छात्रों के पढ़ाई करने पर देगी सुझाव
COMEDK UGET Exam 2020 फिर से स्थगित, अब 19 अगस्त को दो शिफ्ट्स में होगा आयोजित


यूजीसी ने यूनिवर्सिटीज़ से किया था संपर्क
यूजीसी का कहना है कि परीक्षा करवाने को लेकर 818 यूनिवर्सिटीज़ को संपर्क किया गया था जिनमें 603 यूनिवर्सिटीज़ या तो परीक्षा करवा चुकी हैं या तो परीक्षा करवाने की योजना बना रही हैं. जबकि 209 विश्वविद्यालय पहले से ही परीक्षा करवा चुके हैं और 309 अगस्त या सितंबर में परीक्षा करवाने की योजना बना रहे हैं. यूजीसी ने कहा कि इनमें से 35 ऐसी यूनिवर्सिटीज़ भी हैं जिनका इस साल पहला बैच फाइनल ईयर की परीक्षा के योग्य होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading