• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • महाराष्ट्र में ग्रेजुएशन फाइनल ईयर मेडिकल एग्जाम पर रोक लगाने से बंबई हाई कोर्ट का इनकार

महाराष्ट्र में ग्रेजुएशन फाइनल ईयर मेडिकल एग्जाम पर रोक लगाने से बंबई हाई कोर्ट का इनकार

बॉम्बे हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को इस मामले में नोटिस जारी किया है (फाइल फोटो)

बॉम्बे हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को इस मामले में नोटिस जारी किया है (फाइल फोटो)

अदालत ने अपने आदेश में कहा, “हमारे विचार में याचिकाकर्ता आखिरी समय में अदालत के समक्ष पहुंचे हैं. इसलिये, हम परीक्षा पर स्थगन के रूप में कोई अंतरिम राहत देने के इच्छुक नहीं हैं.”

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. महाराष्ट्र में आठ सितंबर से शुरू हो रही स्नातक चिकित्सा छात्रों की अंतिम वर्ष की परीक्षा भौतिक रूप से कराए जाने पर बंबई उच्च न्यायालय ने शनिवार को रोक लगाने से इनकार कर दिया.

    Graduation Final Year Medical Exam: नौ छात्रों की याचिका पर सुनवाई
    न्यायमूर्ति ए ए सैयद और न्यायमूर्ति एस पी तावड़े की एक खंडपीठ महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (एमयूएचसी) के विभिन्न वर्गों के नौ स्नातक छात्रों द्वारा दायर एक याचिका पर सुनवाई कर रही थी.

    Graduation Final Year Medical Exam: ऑफलाइन एग्जाम को चुनौती
    याचिका में एमयूएचसी द्वारा 21 अगस्त को जारी उस परिपत्र को चुनौती दी गई थी जो अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा भौतिक रूप से कराने से संबंधित था.

    Graduation Final Year Medical Exam: याचिकाकर्ता आखिरी समय में अदालत पहुंचे
    अदालत ने अपने आदेश में कहा, “हमारे विचार में याचिकाकर्ता आखिरी समय में अदालत के समक्ष पहुंचे हैं. इसलिये, हम परीक्षा पर स्थगन के रूप में कोई अंतरिम राहत देने के इच्छुक नहीं हैं.”

    ये भी पढ़ें-
    UPPSC Recruitment 2020: यूपीपीएससी ने विभिन्न पदों के लिए निकाली 610 वैकेंसी, आवेदन शुरू
    जेईई एडवांस 27 सितंबर को, परीक्षा के लिए होंगी ये तैयारियां, एडमिट कार्ड की जांच बार कोड स्कैनर से

    Graduation Final Year Medical Exam: 17 अगस्त के आदेश में neet, jee टालने से इनकार 
    पीठ ने इस संदर्भ में उच्चतम न्यायालय द्वारा 17 अगस्त को दिये गए आदेश का भी जिक्र किया जिसके तहत उसने नीट और जेईई-मेन्स की परीक्षाओं को टालने से इनकार कर दिया था. अदालत ने कहा था कि यद्यपि महामारी की स्थिति है लेकिन जिंदगी चलती रहेगी और छात्रों के करियर को लंबे समय तक संकट में नहीं डाला जा सकता.

    अदालत ने इस याचिका पर आगे की सुनवाई के लिये 17 सितंबर की तारीख तय दी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज