महाराष्ट्र: यूनिवर्सटी फाइनल ईयर एग्जाम को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री राज्यपाल से मिले

महाराष्ट्र: यूनिवर्सटी फाइनल ईयर एग्जाम को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री राज्यपाल से मिले
फाइनल ईयर की परीक्षा को लेकर यूजीसी ने दिए थे निर्देश

पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के दिशानिर्देशों को बरकरार रखते हुए कहा था कि कोई भी राज्य विश्वविद्यालय अंतिम वर्ष की या सेमेस्टर परीक्षा कराए बिना छात्रों को प्रोन्नत नहीं कर सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2020, 7:31 PM IST
  • Share this:
मुंबई: महाराष्ट्र के मंत्री उदय सामंत ने विश्व विद्यालयों में परीक्षा पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर बुधवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और विश्वविद्यालयों में अंतिम वर्ष की परीक्षा कराने के मुद्दे पर चर्चा की. आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री सामंत ने राजभवन में कोश्यारी से मुलाकात की. इस मौके पर उनके साथ राज्यमंत्री प्रजक्त तानपुरे भी मौजूद थे.

सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसी के दिशा निर्देशों को रखा था बरकरार
गौरतलब है कि पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के दिशानिर्देशों को बरकरार रखते हुए कहा था कि कोई भी राज्य विश्वविद्यालय अंतिम वर्ष की या सेमेस्टर परीक्षा कराए बिना छात्रों को प्रोन्नत नहीं कर सकता है. न्यायालय ने यह भी आदेश दिया कि यूजीसी द्वारा विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों को 30 सितंबतर तक परीक्षा कराने का दिया गया दिशा निर्देशों उसके अधिकार क्षेत्र में है.

ये भी पढ़ें
दिलचस्प: बेटी को देना था JEE एग्जाम,किसान पिता ने यूं तय कराया 300 किमी का सफर


देशभर मे स्कूल खोलने को लेकर नई पहल, अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी...

बता दें कि सामंत ने सोमवार को कहा था कि महाराष्ट्र की 13 गैर कृषि विश्वविद्यालयों में से अधिकतर ने राज्य सरकार से 31 अक्टूबर तक परीक्षा कराकर नतीजे घोषित करने की समयसीमा बढ़ाने का आग्रह किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज