Home /News /career /

जानें कैसे बनते हैं IAS! ये है एग्जाम पैटर्न, सेलेक्शन प्रोसेस और सैलरी

जानें कैसे बनते हैं IAS! ये है एग्जाम पैटर्न, सेलेक्शन प्रोसेस और सैलरी

जानिए, कैसे चुने जाते हैं इंडियन एडमिनिस्ट्रैटिव सर्विस यानी IAS ऑफिसर के लिए.

जानिए, कैसे चुने जाते हैं इंडियन एडमिनिस्ट्रैटिव सर्विस यानी IAS ऑफिसर के लिए.

भारतीय सिविल सेवा के लिए पहले प्रारम्भिक परीक्षा, आब्जेक्टिव होती है. इसमें सफल मेन्स में बैठते हैं. इन परीक्षाओं के बाद परीक्षार्थी का इंटरव्यू होता है. इंटरव्यू में सफलता के बाद चयन की प्रक्रिया पूरी होती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    UPSC यानी संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) के लिए हर साल लगभग 10 लाख आवेदन किए जाते हैं. जिसमें से लगभग 1 हजार सेलेक्ट होते हैं.  सरकारी अफसर बनने की चाह रखने वाले बहुत से लोगों का सपना IAS ऑफिसर बनना होता है. IAS ऑफिसर के लिए एग्जाम संघ लोक सेवा आयोग द्वारा कराया जाता है.  IAS के लिए एग्जाम पैटर्न क्या है. आइए जानते हैं...

    सबसे पहले होती है प्रारंभिक परीक्षा
    इंडियन एडमिनिस्ट्रैटिव सर्विस यानी IAS ऑफिसर बनने के लिए UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) का एग्जाम क्लियर करना पड़ता है. इस एग्जाम की तीन स्टेज होती है. पहली स्टेज में Preliminary एग्जाम होता है. ये एग्जाम होने की घोषणा हर साल फरवरी-मार्च में की जाती है. पेपर जून-जुलाई में होता है और रिजल्ट मिड-अगस्त में आता है.

    परीक्षा के तीनों स्टेज के पेपरों में करंट अफेयर्स से जुड़े सवाल पूछे जाते हैं.

    एग्जाम की दूसरी स्टेज Main एग्जाम है. ये पेपर हर साल अक्टूबर में होता है. एग्जाम की तीसरी स्टेज Personality Test (इंटरव्यू) है. ये एग्जाम हर साल दिसंबर में होता है.

    मुख्य परीक्षा में इन्हें मिलता है मौका
    Preliminary एग्जाम के स्कोर के आधार पर Main एग्जाम के लिए क्वालीफाई माना जाता है. Main एग्जाम और PT टेस्ट के आधार पर ही रैंक तय की जाती है.

    - Preliminary एग्जाम का पैटर्न 2010 तक कोठारी आयोग (1979) की सिफारिशों पर आधारित था. इसमें दो परीक्षाएं शामिल थीं, जिनमें से 150 अंकों के पेपर में जनरल स्टीज और दूसरे में 23 वैकल्पिक विषयों में से एक का 300 नंबरों का पेपर. फिर Preliminary एग्जाम के तरीके में कुछ बदलाव हुआ और अब इसे सिविल सर्विस एप्टिट्यूड टेस्ट (CSAT) कहा जाता है. (आधिकारिक तौर पर इसे अभी भी जनरल स्टीज पेपर -1 और पेपर -2 कहा जाता है.) नए पैटर्न में दो घंटे की अवधि में दो पेपर होते हैं. हर एक में 200 अंक शामिल होते हैं.

    - मेन एग्जाम में नौ पेपर होते हैं. जिसमें दो क्वालिफाई करने होते हैं और सात रैंकिंग वाले होते हैं. इन पेपर्स में सवाल एक से 60 नंबर्स तक हो सकते हैं. जिनके जवाब 20 शब्दों से 600 के बीच दिया जा सकता है. क्वालिफाईंग पेपर्स पास करने वाले उम्मीदवारों को अंकों के अनुसार रैंक दिया जाता है. सेलेक्टेड कैंडीडेट्स को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है. यहां व्यक्तित्व परीक्षण किया जाता है.

    ये होते हैं 9 पेपर्स
    Paper A- 300 नंबरों का पेपर होता है. ये पेपर कैंडीडेट द्वारा चुनी किसी भी भारतीय भाषा या इंग्लिश में हो सकता है.
    Paper B- ये भी 300 नंबरों का पेपर होता है, क्वालीफाईंड एग्जाम होता है.
    Paper I- 250 नंबरों का पेपर होता है. जिसमें Essay लिखना होता है.
    Paper II- 250 मार्कस का पेपर होता है, इसमें सामान्य अध्ययन I (भारतीय विरासत और संस्कृति, इतिहास और विश्व और समाज का भूगोल).
    Paper III- सामान्य अध्ययन II (शासन, संविधान, राजव्यवस्था, सामाजिक न्याय और अंतर्राष्ट्रीय संबंध) ये पेपर भी 250 मार्कस का होता है.
    Paper IV- सामान्य अध्ययन III (प्रौद्योगिकी, आर्थिक विकास, जैव-विविधता, पर्यावरण, सुरक्षा और आपदा प्रबंधन) ये पेपर भी 250 मार्कस का होता है.
    Paper V- सामान्य अध्ययन IV (नैतिकता, अखंडता और योग्यता)
    Papers VI, VII- 500 नंबरों का पेपर. वैकल्पिक विषयों की सूची से उम्मीदवार द्वारा चुने जाने वाले विषयों पर दो पेपर (प्रत्येक पेपर के लिए 250 अंक)
    लिखित पेपरों के कुल नंबर- 1750 नंबरों की सभी लिखित परीक्षाएं. पर्सनेलिटी टेस्ट (इंटरव्यू) 275 नंबरों का होता है.
    कुल नंबर : 2025

    IAS परीक्षा का पैटर्न और चयन प्रक्रिया
    यूपीएससी मुख्य परीक्षा का पैटर्न
    प्रारम्भिक परीक्षा छात्रों की छटनी करनी वाली परीक्षा होती है. प्रारम्भिक परीक्षा में सफल होने वाले मेन्स परीक्षा में बैठते हैं. मेन्स परीक्षा में दो पेपर क्वालीफाइंग होते हैं- पेपर-A भारतीय भाषाओं होता है. पेपर-B अंग्रेजी भाषा को होता है. प्रत्येक पेपर 300 अंकों का होता है. लेकिन इसमें प्राप्त किए गए अंक टोटल मेरिट टिस्ट में काउंट नहीं होते हैं. परीक्षार्थियों को केवल इसमें पास होना होता है.

    यूपीएससी जीएस मुख्य परीक्षा का पैटर्न
    क्लीफाइंग पेपर के बाद मेरिट लिस्ट में काउंट होने वाले पेपरों की परीक्षा होती है. निबंध की परीक्षा 250 नंबर की होती है. अगला पेपर सामान्य अध्ययन का होता है, जो चार हिस्सों में होता है. जीएस के पहले पेपर में भारतीय संस्कृत, विश्व इतिहास, भूगोल और समाज को लेकर प्रश्न बनते हैं. जीएस के दूसरे पेपर में संविज्ञान, प्रशासन, अंतर्राष्ट्रीय संबंध, नीतियां और सामाजिक न्याय से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं. जीएस के तीसरे पेपर में जैव-विविधता, आपदा प्रबंधन, आर्थिक विकास, पर्यावरण, सुरक्षा और टेक्नोलोजी के प्रश्न आते हैं. जीएस के चौथे पेपर में योग्यता, अखंडता और नीति शास्त्र से संबंधित प्रश्न आते हैं. जीएस के प्रतेक पेपर 250 अंकों का होता है.

    आईएएस मेन्स परीक्षा में ऑप्शनल पेपर
    आईएएस मेन्स परीक्षा में ऑप्शनल विषय का पेपर होता है, जिसको अभ्यर्थी अपनी मर्जी से चुनता है. आईएएस मेन्स परीक्षा में ऑप्शनल विषय के दो पेपर होते हैं और दोनों ही पेपर 250-250 नंबर के होते हैं. आईएएस मेन्स लिखित परीक्षा कुल 1750 अंकों की होती है. इसके बाद इंटरव्यू होता है. जिसको व्यतित्व टेस्ट कहते हैं. इंटरव्यू का कुल 275 अंको का होता है. इस तरह से देखें तो आईएएस की परीक्षा कुल 2025 अंकों की होती है.

    चयन प्रक्रिया
    भारतीय सिविल सेवा के लिए पहले प्रारम्भिक परीक्षा, आब्जेक्टिव होती है. इसमें सफल मेन्स में बैठते हैं. इन परीक्षाओं के बाद परीक्षार्थी का इंटरव्यू होता है. इंटरव्यू में सफलता के बाद चयन की प्रक्रिया पूरी होती है.

    IAS सैलरी 7th Pay Commission के मुताबिक
    UPSC सिविल सेवा या IAS उम्मीदवारों को वेतन 56,100 रुपये से लेकर 2,50,000 तक मिलता है. IAS के लिए सभी उम्मीदवार sub-divisional magistrate level/ undersecretary/assistant secretary के तौर पर चयनित होते हैं, जिनका वेतन 56,100 रुपए होता है. उम्मीदवार इस पद पर लगभग 1 से 4 साल तक रहते हैं. सेवा में बिताए गए सालों के आधार पर, पद के साथ वेतन में वृद्धि जारी रहती है. सर्वोच्च पद भारत के कैबिनेट सचिव का है, जिसे 2,50,000 रुपए प्रति माह वेतन मिलता है.

    ये भी पढ़ें-
    Govt Job: यहां 12वीं पास को सातवें वेतन आयोग के मुताबिक मिलेगी सैलरी
    ग्लोबल रैंकिंग में घटा इंडियन यूनिवर्सिटीज का स्कोर
    DUSU Election 2019: अध्यक्ष सहित तीन पदों पर ABVP काबिज, NSUI एक सीट पर विजयी

    Tags: IAS exam, UPSC, UPSC Exams

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर