• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • Career Guidance: दूसरों की थेरेपी में आपका बेहतर करियर

Career Guidance: दूसरों की थेरेपी में आपका बेहतर करियर

थेरेपी में बनाएं कर‍ियर

थेरेपी में बनाएं कर‍ियर

फिजियोथेरेपिस्‍ट को करियर की शुरुआत में 25 से 30 हजार रुपये वेतन के रूप में आसानी से मिल जाते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. मेडिकल साइंस (Medical Science) के पैरामेडिकल (Paramedical) फील्ड के कोर्सेज (Courses) की डिमांड काफी तेजी से बढ़ती जा रही है. 12वीं के बाद ऐसे तमाम कोर्सेज हैं जो आपको न सिर्फ बेहतर करियर (Career) बनाने में मदद करते हैं, बल्कि आप इनसे अच्छी अर्निंग (Earning) भी करते हैं. ऐसा ही एक कोर्स है- फिजियोथेरेपी (Physiotherapy). फिजियोथेरेपी के तहत एक्सरसाइज (Exercise) और मसाज (Massage) की मदद से पेशेंट्स (Patients) का ट्रीटमेंट (Treatment) किया जाता है. इस कोर्स के बाद स्टूडेन्ट्स (Students) के लिए करियर की बेहतर संभावनाएं (Opportunities) हैं. आइए जानते हैं कि क्या हैं ये संभावनाएं.

    फिजियोथेरेपी का मतलब:
    जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि यह एक शारिरिक थेरेपी है. फिजियोथेरेपी के अंतर्गत एक्सरसाइज, मसाज और एलेक्टरोथेरेपी की मदद से पेशेंट्स के शरीर के बाहरी रोगों का ट्रीटमेंट किया जाता है. इससे कई पुरानी और लाइलाज बीमारियों (Diseases) का ट्रीटमेंट भी संभव है. ये थेरेपी पेशेंट को शारीरिक और मानसिक, दोनों तौर पर मजबूत (Strong) बनाती है. खास बात ये है कि इस ट्रीटमेंट में मेडिसिंस (Medicines) का इस्तेमाल नहीं किया जाता.

    डिप्लोमा और डिग्री कोर्स हैं उपलब्ध:
    फिजियोथेरेपी में डिप्लोमा (Diploma) और डिग्री (Degree), दोनों तरह के कोर्सेज उपलब्ध हैं. इनमें पहला है डिप्लोमा कोर्स इन फिजियोथेरेपी (DPT) और दूसरा है बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी (BPT). DPT कोर्स की अवधि 2 वर्ष है और BPT कोर्स की अवधि 4 वर्ष. इन दोनों कोर्सेज के लिए PCM या PCB विषयों के साथ 12वीं पास होना जरूरी है. इन कोर्सेज के बाद आपको फिजियोथेरेपी फील्ड में कम से कम 6 महीने की इंटर्नशिप करना आवश्यक है.

    ये है करियर स्कोप:
    फिजियोथेरेपी कोर्स के बाद स्टूडेंट्स के लिए गवर्नमेंट और प्राइवेट, दोनों सेक्टर्स में जॉब (Jobs) के अच्छे ऑप्शन्स मौजूद रहते हैं. आप गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स (Hospitals), प्राइवेट हॉस्पिटल्स, नर्सिंग होम्स (Nursing Homes), स्पोर्ट्स एकेडमी, जिम (Gym) और रिहैबिलिटेशन सेंटर्स आदि में फिजियोथेरेपिस्ट (Physiotherapist) के तौर पर जॉब्स कर सकते हैं. करियर के शुरुआती दौर में आपको 25 से 30 हजार रुपए सैलरी आसानी से मिल सकती है. इसके अलावा आप खुद का फिजियोथेरेपी सेन्टर भी खोल सकते हैं.

    ये भी पढ़ें-
    RRB NTPC 7th Phase Exam 2021 Date: 7वें फेज की परीक्षा 23 से 31 जुलाई तक, जानें एडमिट कार्ड के बारे में 

    BPSC: 31वीं न्यायिक सेवा मेन्स परीक्षा की डेट जारी, 2379 उम्मीदवार होंगे शामिल

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज