CBSE Board:पहली से दसवीं के छात्रों के लिए HRD मंत्री ने किया बड़ा ऐलान, पाठ्यक्रम में जुड़ेगा ये खास प्रोजेक्ट

इस नए बदलाव से बच्चों में सृजनात्मकता बढ़ेगी.
इस नए बदलाव से बच्चों में सृजनात्मकता बढ़ेगी.

CBSE Board Exam Update: मौजूदा सत्र से सीबीएसई के सभी स्कूलों में पहली क्लास से 10वीं क्लास के स्टूडेंट्स के लिए आर्ट बेस्ड प्रोजेक्ट कार्य शामिल किया जाएगा. शिक्षा मंत्री ने यह जानकारी ट्वीट के जरिए दी.

  • Share this:
नई दिल्लीः शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल लगातार कोशिश कर रहे हैं इसी कड़ी में उन्होंने घोषणा की है कि मौजूदा सत्र से सीबीएसई के सभी स्कूलों में पहली क्लास से 10वीं क्लास के स्टूडेंट्स के लिए आर्ट बेस्ड प्रोजेक्ट कार्य शामिल किया जाएगा. शिक्षा मंत्री ने यह जानकारी ट्वीट के जरिए दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा,"वर्तमान सत्र से सभी सीबीएसई स्कूलों में कक्षा 1-10 के छात्रों के लिए कला आधारित प्रोजेक्ट कार्य शामिल किया जा रहा है."

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने किया ट्वीट-
इस प्रोजेक्ट के जरिए छात्रों के सीखने की क्षमता को और ज्यादा आनंदपूर्ण बनाया जा सकेगा. इतना ही नहीं, कक्षा पहली से लेकर आठवीं तक के छात्रों को भी नए शैक्षणिक वर्ष में कम से कम एक कला आधाारित प्रोजेक्ट कार्य (ट्रांस-अनुशासनात्मक परियोजना) लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा.





क्या कहता है सीबीएसई का नोटिफिकेशन-
सीबीएसई के नोटिफिकेशन के मुताबिक, "कोविड-19 की वजह से पूरा देश चुनौतीपूर्ण समय का सामना कर रहा है. यह अभूतपूर्व हालात हैं. बच्‍चे घरों में बंद हैं. उनके स्‍कूल बंद हैं. वे मानसिक तनाव और बेचैनी महसूस कर रहे हैं. अभिभावकों को वेतन और परिवार के स्‍वास्‍थ्‍य की चिंता है. ऐसे मुश्किल समय में जो बच्‍चे स्‍कूल परीक्षाओं में पास नहीं हो पाए हैं वे और भी ज्‍यादा दुखी होंगे. सीबीएसई को लगातार ऐसे छात्रों की ओर से सवाल मिल रहे हैं. लगातार अभिभावकों के सवाल भी मिल रहे हैं. ऐसी मुश्किल घड़ी में छात्रों को तनाव को दूर करने और उनकी घबराहट को कम करने के लिए हम सभी को मिलकर प्रयास करने होंगे." इस अधिसूचना के साथ ही अब पहली से लेकर दसवीं कक्षा तक के लिए सीबीएसई का सिलेबस अपडेट हो गया है.

बता दें कि इससे पहले सीबीएसई ने घोषणा की थी कि 9वीं और 11वीं क्लास के स्टूडेंट्स जो कि पिछली परीक्षा में असफल रह गए हैं उनके लिए फिर से परीक्षा करवाई जाएगी. इस तरह से बोर्ड लगातार छात्रों के तनाव को कम करने की कोशिश कर रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज