Final Year Exams 2020: HRD मिनिस्टर का स्टूडेंट्स के लिए खास मैसेज, कही ये बात

Final Year Exams 2020: HRD मिनिस्टर का स्टूडेंट्स के लिए खास मैसेज, कही ये बात
केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, सेहत और करियर दोनों जरूरी हैं.

डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, यदि विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षा में टर्मिनल सेमेस्टर/अंतिम वर्ष का कोई भी विद्यार्थी उपस्थित होने में असमर्थ रहता है, चाहे जो भी कारण रहा हो, तो उसे विशेष परीक्षाओं में बैठने का अवसर दिया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 12, 2020, 10:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने नई यूजीसी गाइडलाइन्स के आधार पर फाइनल ईयर यूनिवर्सिटी एग्जाम्स के नए डेवलपमेंट पर ट्विटर के जरिए जानकारी दी. स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ गृह मंत्रालय को एमएचआरडी द्वारा परीक्षा संचालन के लिए एसओपी (Standard Operating Procedures, SOP) के साथ आने के लिए कहा गया है.

हाल ही में यूजीसी ने सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को अपने अंतिम वर्ष की परीक्षा 30 सितंबर, 2020 तक आयोजित करने को कहा था. तब से छात्रों, शिक्षकों और राजनीतिक नेताओं से एमएचआरडी के आधिकारिक ट्विटर पर कई ट्वीट चल आए, परीक्षा शुरू होने के बाद सरकार से स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए अनुरोध किया गया.

डॉ रमेश पोखरियाल ने अब ट्विटर के जरिए कहा, हमारे लिए विद्यार्थियों का स्वास्थ्य, उनकी सुरक्षा, निष्पक्षता और समान अवसर के सिद्धांतो का पालन करना सर्वोपरि है. साथ ही, विश्व स्तर पर विद्यार्थियों की शैक्षणिक विश्वसनीयता, करियर के अवसरों और भविष्य की प्रगति को सुनिश्चित करना भी शिक्षा प्रणाली में बहुत मायने रखता है.



उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा, यदि विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षा में टर्मिनल सेमेस्टर/अंतिम वर्ष का कोई भी विद्यार्थी उपस्थित होने में असमर्थ रहता है, चाहे जो भी कारण रहा हो, तो उसे ऐसे पाठ्यक्रम(पाठ्यक्रमों)/प्रश्नपत्र(प्रश्नपत्रों) के लिए विशेष परीक्षाओं में बैठने का अवसर दिया जा सकता है. ये परीक्षाएं ऑफ़लाइन पद्धति(पेन एवं पेपर)/ऑनलाइन/मिश्रित (ऑनलाइन + ऑफ़लाइन) किसी भी माध्यम से कराई जा सकती हैं.
पढ़ें ट्वीट्स-
1.
2.


ये भी पढ़ें-
मनीष सिसोदिया का बड़ा ऐलान- दिल्ली में सभी यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं रद्द
CBSE Result 2020: 10वीं, 12वीं के स्टूडेंट्स को ऐसे मिलेगी डिजिटल मार्कशीट

बता दें कि डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने शनिवार को ऐलान किया कि राज्य भर के सभी विश्वविद्यालयों में छात्रों के लिए कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी. छात्रों का मूल्यांकन पिछली परीक्षाओं के आधार पर किया जाएगा. यह निर्णय तीसरे वर्ष के छात्रों पर भी लागू होता है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज