HRD Minister रमेश पोखरियाल ने इनोवेशन के लिए स्टूडेंट्स की 23 टीमों को किया सम्मानित

कोरोना वायरस के चलते देशभर में शैक्षिक कार्यक्रम प्रभावित हुआ है.

AICTE के अधिकारी ने बताया कि पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान 23 टीमों को 8 अलग-अलग उप-श्रेणियों के तहत पुरस्कार के लिए एक जूरी द्वारा चुना गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल "निशंक" ने सोमवार को अलग-अलग क्षेत्रों में इनोवेशन करने वाले 23 स्टूडेंट्स की टीम को 'विश्वकर्मा' अवार्ड से सम्मामित किया. बता दें कि ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ टेक्निकल एजुकेशन ने साल 2017 में विश्वकर्मा अवार्ड की शुरुआत की थी.

    एचआरडी मिनिस्टर ने पुरस्कार समारोह में कहा कि इस अवार्ड के लिए 6,676 टीमों का नाम सामने आया था. इसमें से 117 टीमों को फाइनल के लिए चयनित किया गया है. 23 टीमों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार मिले हैं. इससे पता चलता है कि भारत में बहुत प्रतिभा है.

    ये छात्र देश के लिए संपत्ति हैं. उन्होंने कहा कि विभिन्न टीमों के छात्रों द्वारा बनाई गई परियोजनाएं आम आदमी की समस्या को हल करती हैं. एआईसीटीई ने 2017 में समाज के समग्र विकास के लिए अभिनव भावना और वैज्ञानिक स्वभाव को बढ़ावा देने के लिए इस पुरस्कार की स्थापना की थी.

    पुरस्कारों के 2019 संस्करण के लिए, इंडियन सोसाइटी ऑफ टेक्निकल एजुकेशन (ISTE) और एनआईटीआई के अटल इनोवेशन मिशन ने भी AICTE के साथ सहयोग किया था. AICTE के अधिकारी ने बताया कि पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान 23 टीमों को 8 अलग-अलग उप-श्रेणियों के तहत पुरस्कार के लिए एक जूरी द्वारा चुना गया. प्रत्येक उप-श्रेणी में शीर्ष तीन टीमों को प्रशंसा प्रमाण पत्र और नकद मूल्य (51,000 रुपये, 31,000 और 21,000 रुपये) दिए गए.

    ये भी पढ़ें-

    UPSC पर्सनल इंटरव्यू से पहले क्यों भरवाया जाता है DAF फॉर्म, कितना मह्त्वपूर्ण है यह

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.