HRD लॉन्च करेगा काउंसलिंग हेल्पलाइन 'मनोदर्पण', दूर करेगा स्टूडेंट्स का मानसिक तनाव

HRD लॉन्च करेगा काउंसलिंग हेल्पलाइन 'मनोदर्पण', दूर करेगा स्टूडेंट्स का मानसिक तनाव
मनोवैज्ञानिक मुद्दों के समाधान के लिये एक नि:शुल्क टॉलफ्री नंबर भी जारी किया जायेगा.

छात्र अपने परिवार के साथ बातचीत और जुड़ाव पर ध्यान दें. हर दिन अपने लिये समय निर्धारित करें. भ्रामक समाचारों और अफवाहों से बचें.

  • Share this:
नई दिल्ली, कोविड-19 संक्रमण के कारण स्कूल और कॉलेज बंद होने के बीच छात्र-छात्राओं की बढ़ती मानसिक परेशानियों के समाधान के लिये मानव संसाधन विकास मंत्रालय ‘‘मनोदर्पण’’ कार्यक्रम शुरू करेगा . इसमें ऐसे कई रचनात्मक कार्य एवं सुझाव हैं जिससे विद्यार्थियों को मानसिक तनाव से बाहर निकलने में मदद मिलेगी.

मनोवैज्ञानिक मुद्दों का समाधान 
मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने अपने ट्वीट में कहा, छात्रों, अभिभावकों... अगले दो दिन (मंगलवार) मनोदर्पण पेश करेंगे . आपके मनोवैज्ञानिक मुद्दों के समाधान के लिये एक नि:शुल्क टॉलफ्री नंबर भी जारी किया जायेगा.





21 जुलाई से होगा शुरू
अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक 21 जुलाई को मनोदर्पण की शुरूआत करेंगे . इसमें स्कूल से लेकर कॉलेज तक के विद्यार्थियों की समस्याएं को लेकर दिशानिर्देश एवं सुझाव दिये गए हैं.

मनोदर्पण में विद्यार्थियों, शिक्षकों एवं परिवारों के लिये परामर्श भी दिये गए हैं . इसमें कहा गया है कि कोरोना (कोविड-19) वास्तव में सम्पूर्ण विश्व के लिए एक चुनौतीपूण समय है. यह वैश्विक महामारी न केवल एक गंभीर चिकित्सा चिंता है, बल्कि सभी के लिये मिश्रित भावनाएं और मनो-सामाजिक तनाव भी लाती है. बच्चों और कशोरों पर विशेष ध्यान देने के साथ, मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताएं उभर रही हैं .

सहानुभूतिपूर्ण दृष्टिकोण से दूर होगा तनाव
अधिकारियों ने कहा कि बच्चे और किशोर अधिक संवेदनशील होते हैं और तनाव, चिंता और भय के बढ़े स्तर का अनुभव कर सकते है. इस तरह के अप्रत्याशित और अचानक बदलाव को सभी शैक्षिक मंचों से संबोधित करने की आवयकता होगी. इसलिए, शिक्षकों के साथ-साथ परिवार के सदस्यों के सहानुभूतिपूर्ण और धैर्यशील दृष्टिकोण से बच्चों और कशोरों की ऐसी समस्याओं को दूर किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें-
UP BEd Entrance Exam 2020: यूपी बीएड परीक्षा के लिए कब जारी होगा एडमिट कार्ड
NATA 2020 ऑनलाइन एग्जाम स्थिगत, संशोधित तारीखों के लिए देखें nata.in

मनोदर्पण के तहत परामर्श में सुझाया गया है कि छात्र प्रभावी ढंग से संवाद करें. अपने परिवार के साथ बातचीत और जुड़ाव पर ध्यान दें . हर दिन अपने लिये समय निर्धारित करें . भ्रामक समाचारों और अफवाहों से बचें .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज