Home /News /career /

स्कूल के जंजाल से मुक्ति पाना चाहते थे इरफान खान, छोटे भाई को देखकर होती थी जलन

स्कूल के जंजाल से मुक्ति पाना चाहते थे इरफान खान, छोटे भाई को देखकर होती थी जलन

इरफान खान ने कहा था कि उनके एक्टिंग करियर में उनकी ग्रेजुएशन का कोई योगदान नहीं रहा.

इरफान खान ने कहा था कि उनके एक्टिंग करियर में उनकी ग्रेजुएशन का कोई योगदान नहीं रहा.

Irrfan Khan Passes Away : अभिनेता इरफान खान (Irrfan Khan) ने एक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में अपने स्कूली दिनों पर खुलकर बात की थी.

    नई दिल्ली. हिंदी मीडियम और अंग्रेजी मीडियम जैसी फिल्मों के चलते चर्चा में रहे अभिनेता इरफान खान (Irrfan Khan) का बुधवार को निधन हो गया. वह इस दुनिया में नहीं रहे, लेकिन अपने पीछे अपनी फिल्मों के जरिये कई ऐसी बातें छोड़ गए हैं, जो सोचने पर मजबूर करती हैं. हिंदी और अंग्रेजी मीडियम में काम करने के दौरान अक्सर इरफान के सामने भी उनके स्कूल के दिनों से जुड़े कई सवाल आए, जिनके जवाब भी उन्होंने दिलचस्प और बेबाक अंदाज में दिया.

    जब टीचर मेरा नाम पूछते थे तो...
    एक फिल्म मैगजीन को दिए इंटरव्यू में अपने स्कूल के दिनों को याद करते हुए इरफान (Irrfan Khan) ने बताया था, 'मेरे टीचर और क्लामेट्स को पता भी नहीं था कि मैं कौन हूं या मेरा नाम क्या है. मैं एकदम लॉस्ट चाइल्ड था. किसी को मेरे बारे में पता नहीं था. जब मेरे टीचर मुझसे मेरा नाम पूछते थे, तो मेरा जवाब इतना धीमा होता था कि वे शायद ही सुन पाते हों. तब मुझे डांट पड़ती थी और जोर से बोलने के लिए कहा जाता था. मैं बहुत शर्मीला बच्चा था. मुझे आज भी याद है कि मैं बचपन में सिर्फ एक चीज चाहता था और वो ये कि बड़ा होकर मुझे स्कूल के जंजाल से मुक्ति मिल जाए. ऐसा इसलिए भी था कि हमें हर रोज सुबह सवेरे स्कूल जाना होता था.

    छोटा भाई पतंग उड़ाता था और मैं...
    इरफान (Irrfan Khan) के अनुसार, सुबह 6 बजे घर से निकलकर ही मैं सही समय पर स्कूल पहुंच पाता था. फिर दोपहर 3 बजे तक स्कूल चलता था लेकिन हम सिर्फ 4.30 बजे ही स्कूल छोड़ पाते थे. जब तक मैं घर पहुंचता था दिन खत्म हो जाता था. तब मेरा छोटा भाई मुझे बताता था कि वो किस तरह पूरे दिन घर पर पतंग उड़ाता था और मजे करता था. मगर मुझे ऐसा करने का मौका नहीं मिलता था. मुझे ऐसा लगता था कि मैं पता नहीं कब पतंग उड़ा पाऊंगा.'

    इरफान की पढ़ाई
    स्कूल के बाद की पढ़ाई की बात करें, तो ग्रेजुएशन करने के बाद इरफान खान (Irrfan Khan) एम.ए. की पढ़ाई कर रहे थे जब सन 1984 में उन्हें नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप मिली. इसके बाद उन्हें पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ा. मुंबई आकर उन्होंने चाणक्य और भारत एक खोज जैसे टीवी शोज से शुरुआत की और एक ऐसे अभिनेता के रूप में सामने आए, जो हर दिल अजीज था और हमेशा रहेगा

    Tags: Education, Graduatin, Irrfan Khan, School

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर