• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • IAS SUccess story: सृष्टि ने यूपीएससी की तैयारी के लिए अपनाया ये तरीका, पहले ही प्रयास में बनीं IAS

IAS SUccess story: सृष्टि ने यूपीएससी की तैयारी के लिए अपनाया ये तरीका, पहले ही प्रयास में बनीं IAS

2018 में सिविल सेवा परीक्षा में सृष्टि महिला अभ्यर्थियों में पहले स्थान पर रही थीं.

2018 में सिविल सेवा परीक्षा में सृष्टि महिला अभ्यर्थियों में पहले स्थान पर रही थीं.

सृष्टि ने यूपीएससी (UPSC) की तैयारी करने वाले स्टूडेंटेस को बताया कि सबसे पहले पिछले 6-7 साल के पेपर को उठाकर देखना और समझना चाहिए कि परीक्षा में कैसे सवाल आते हैं.

  • Share this:
    IAS SUccess story: 2018 की UPSC परीक्षा में सृष्टि जयंत देशमुख (Srushti jayant Deshmukh) काफी चर्चा में रहीं. हों भी क्यों न सबसे प्रतिष्ठित सिविल सेवा परीक्षा में सृष्टि महिला अभ्यर्थियों में पहले स्थान पर रही थीं. वहीं, उनकी ऑल इंडिया रैंक पांचवी रही थी. परीक्षा का परिणाम आते ही उनके परिवार में जश्न सा माहौल बन गया, लेकिन एक बात जो उन्हें खास बनाती है, वह है उनकी तैयारी का तरीका.

    मध्यप्रदेश की रहने वाली सृष्टि ने अपनी सफलता पर कहा कि संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा काफी लंबी होती है और इसके लिए आपको कम से कम एक-डेढ़ साल तैयारी को देने होते हैं. मेरे परिवार, अभिभावक, दोस्तों और शिक्षकों ने मुझे खूब सपोर्ट किया. इसलिए इसका श्रेय उन्हें भी जाता है.

    पहले प्रयास में सफलता पाने के सवाल पर सृष्टि ने कहा कि मैंने यह सोच लिया था कि मेरा पहला प्रयास ही मेरा अंतिम प्रयास होगा. मैंने निश्चय कर लिया था कि इस परीक्षा को पहले ही प्रयास में पास करना है. आखिर कैसे की परीक्षा की तैयारी, जिससे पहले प्रयास में ही पाई सफलता. बता रही हैं सृष्टि.

    सृष्टि ने बताया कि किसी भी अभ्यर्थी को अपनी शुरुआत पुराने छह से सात साल के पेपरों से करनी चाहिए. हर रात उन सवालों को आधे घंटे देखें, जिससे तैयारी करते समय आपको आइडिया हो जाए कि ऐसे भी प्रश्न परीक्षा में आ सकते हैं.

    सृष्टि ने बताया कि इंटीग्रेटेड प्रिपरेशन ज्यादा जरूरी है. प्रीलिम्स की तैयारी करें तो ऑब्जेक्टिव, मेन्स के लिए जरूरी टॉपिक्स और इंटरव्यू के लिए करंट अफेयर्स पढ़ते रहें. अपने वैकल्पिक विषय को अपनी जरूरत के हिसाब से नहीं, बल्कि अपनी पसंद के हिसाब से चुनें. सृष्टि बताती हैं कि उन्हें केमिकल इंजीनियरिंग पसंद थी, लेकिन विकल्प न होने के कारण उन्होंने समाजशास्त्र लिया. हालांकि ये भी उनके पसंद का ही विषय था.

    ये भी पढ़ें- मिसाल : झुग्गी में रहने वाली लड़की की अनोखी कहानी, ऐसे लिया डीयू में एडमिशन, फिर UPSC एग्जाम पास कर बनी IAS

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज