अपना शहर चुनें

States

मेडिकल और इंजीनियरिंग की कोचिंग करने कोटा जा रहे तो ध्‍यान में रखें ये 5 जरूरी बातें

अभिभावक किसी भी हॉस्‍टल को फौरन फाइनल न कर दें. कोशिश करें कम से कम पांच-छह हॉस्‍टलों को देख लें. वहां कैसी सुविधाएं हैं? इसको ध्‍यान में रखें.
अभिभावक किसी भी हॉस्‍टल को फौरन फाइनल न कर दें. कोशिश करें कम से कम पांच-छह हॉस्‍टलों को देख लें. वहां कैसी सुविधाएं हैं? इसको ध्‍यान में रखें.

अभिभावक किसी भी हॉस्‍टल को फौरन फाइनल न कर दें. कोशिश करें कम से कम पांच-छह हॉस्‍टलों को देख लें. वहां कैसी सुविधाएं हैं? इसको ध्‍यान में रखें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2019, 4:14 PM IST
  • Share this:
12वीं के परिणाम घोषित होना शुरू हो गए हैं. आगाज बिहार बोर्ड से हो चुका है. धीरे-धीरे और अन्‍य राज्‍य भी अपने परिणाम घोषित करने जा रहे हैं. जहां एक तरफ हर किसी को स्‍टूडेंट्स को अपने परिणाम का बेसब्री से इंतजार हैं, वहीं आगे की भविष्‍य के लिए भी वे सपने संजो रहे हैं. अब ऐसे में अगर  आप मेडिकल और इंजीनयरिंग की कोचिंग करने के लिए कोचिंग हब यानी कि कोटा जाने का सपना देख रहे हैं तो कुछ बातों को ध्‍यान में रखना जरूरी है, जिससे घर से दूर रहकर हॉस्‍टल और कोचिंग में बच्‍चों को कोई परेशानी न उठानी पड़े. आइए जानते हैं, क्‍या हैं वो जरूरी 5 बातें.

यह भी पढ़ें : UP Board Results: रिजल्‍ट को लेकर परेशान बच्‍चे में नजर आए ये 5 बातें, तो तुरंत उठाएं यह कदम

-अभिभावक सबसे पहले तो ये बात ध्‍यान में रखें कि कोचिंग और हॉस्‍टल के बीच ज्‍यादा दूरी न हों. इससे बच्‍चे को कोचिंग तक जाने में समय के साथ-साथ थकान भी कम होगी. इसके अलावा ध्‍यान रखें कि जरूरी  सामान जैसे कॉपी, किताब, स्‍टेशनरी और फल, दूध, मैगी जैसे सामान खरीदने के लिए बाजार भी बहुत पास हो. ज्‍यादा छात्रों को इसके लिए भटकना न पड़े.



-किसी भी हॉस्‍टल को फौरन फाइनल न कर दें. कोशिश करें कम से कम पांच-छह हॉस्‍टलों को देख लें. वहां कैसी सुविधाएं हैं? माहौल कैसा है? खासतौर पर खाने और पीने की क्‍वालिटी की जांच कर लें, क्‍योंकि सबसे ज्‍यादा समस्‍या बच्‍चों को घर से दूर रहकर खाने में परेशानी उठानी पड़ती है. इसके साथ-साथ हॉस्‍टल कितना सुरक्षित हैं. वहां सुरक्षा के इंतजाम कैसे हैं. इस पर भी अपनी नजर दौड़ाने के बीच ही हॉस्‍टल को फाइनल करें.
UP Board Result 2019: इन 3 तरीकों से देख सकते हैं अपना रिजल्ट, जानिये

 -पैरेंट्स ये भी ध्‍यान में रखें इमरजेन्‍सी स्‍तर पर हॉस्‍टल में क्‍या सुविधाएं हैं. इसके अलावा हॉस्‍टल से हॉस्‍पटिल तक की दूरी कितनी है. इस बात पर भी जरूर गौर फरमाएं.

-लड़कियों के लिए हॉस्‍टल फाइनल करते वक्‍त ध्‍यान रखें कि वहां फीमेल वार्डन और अन्‍य स्‍टॉफ फीमेल हो. लड़कियों की सुरक्षा के लिए पूरे इंतजाम हो. इसके अलावा बेटी के मोबाइल में कोचिंग टीचर, हॉस्‍टल वॉर्डन,  रूममेट और स्‍थानीय पुलिस के नंबर सेव कराएं.

UP Board Result 2019: बच्‍चों पर ना डालें अपनी उम्‍मीदों का बोझ

-इसके अलावा पैरेंट्स इस बात को भी ध्‍यान में रखें कि हॉस्‍टल के आस-पास अगर कोई पार्क या गॉर्डन हो तो स्‍टूडेंट्स के लिए अच्‍छा रहेगा. इससे वो तरोताजा महसूस कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: इलेक्‍शन ड्यूटी से बचने के लिए यूनिवर्सिटी के 100 प्रोफेसरों ने निकाला ये उपाय

यह भी पढ़ें: TN HSC Result 2019: गुड फ्राइडे के दिन जारी होगा तमिलनाडु बोर्ड 12वीं का रिजल्‍ट 

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज