10वीं के छात्र ये परीक्षा पास कर PhD तक पा सकते हैं स्कॉलरशिप!

कई बार पेरेंट्स पैसों के बोझ के चलते भी बच्चों पर कई करियर विकल्प छोड़ने का दबाव डालते हैं. ऐसे बच्चों के लिए यह स्कॉलरशिप बहुत मददगार बन सकती है.

News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 7:34 PM IST
10वीं के छात्र ये परीक्षा पास कर PhD तक पा सकते हैं स्कॉलरशिप!
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर
News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 7:34 PM IST
यूपी बोर्ड के दसवीं और बारहवीं के नतीजे आ चुके हैं. ऐसे में अपने बच्चे को उच्च शिक्षा दिलाने के लिए पेरेंट्स काफी सोच-विचार करते हैं. बच्चे अगर खुद किसी स्ट्रीम को नहीं चुन पा रहे तो पेरेंट्स के गाइडेंस से ही आगे के करियर को चुनना होता है. लेकिन करियर के कई विकल्प परिजनों को अपनी आर्थिक हालत के चलते टालने पड़ते हैं. ऐसे में स्टूडेंट्स का सहारा बनती है स्कॉलरशिप.

ऐसी ही एक स्कॉलरशिप के बारे में हम आपको बता रहे हैं. नेशनल टैलेंट सर्च परीक्षा (NCERT) एक राष्ट्रीय स्तर के छात्रवृत्ति कार्यक्रम को कराता है. इसके साथ-साथ माध्यमिक विद्यालय स्तर पर नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) भी एक परीक्षा आयोजित करता है. यह भारत की सबसे पुरानी और प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक है. इसका उद्देश्य पढ़ाई में अच्छे बच्चों की पहचान कर उन्हें स्कॉलरशिप देना होता है ताकि उनकी पढ़ाई के खर्च के कारण उनपर बोझ न पड़े और उनकी पढ़ाई बंद न हो और ठीक ढंग से चलती रहे.


यूपी बोर्ड रिजल्ट 2019

यूपी बोर्ड रिजल्ट 2019



यह परीक्षा हर साल करवाई जाती है और कोई भी 10वीं का छात्र ही इसमें बैठ सकता है. इस परीक्षा को पास करने वाले छात्रों को 11वीं से ही स्कॉलरशिप मिलने लगती है. जो उनकी पीएचडी की पढ़ाई तक मिलती रहेगी. हालांकि इससे जुड़े कुछ नियम होते हैं, जिनको इस परीक्षा में बैठने के लिए फॉलो करना जरूरी होता है. इन नियमों की जानकारी www.ncert.nic.in पर जाकर ली जा सकती है.

# यह परीक्षा को राज्य स्तर और राष्ट्रीय स्तर पर अलग-अलग कराया जाता है.

# इसे पास करने कर लेने वाले विद्यार्थियों को स्कूल में 12वीं तक की पढ़ाई के लिए 1250 रुपये प्रति माह मिलते हैं.

# कॉलेज में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान 2000 रुपये प्रति माह मिलते हैं.

# वहीं पीएचडी में उन्हें यूजीसी के नियमानुसार स्कॉलरशिप दी जाती है.
जैसा कि बताया गया कि इस परीक्षा को दो भागों में लिया जाता है. पहला टेस्ट, 'मेंटल एबिलिटी टेस्ट' (मैट). इसे पास करने वाले छात्र ही दूसरा टेस्ट दे सकते हैं. इसे सैट कहा जाता है. जिसका मतलब होता है 'स्कॉलैस्टिक एप्टीट्यूड टेस्ट'. इस साल होने वाली परीक्षा की पूरी जानकारी आप यहां से पा सकते हैं - http://www.ncert.nic.in/programmes/talent_exam/pdf_files/Information_Brochure_2019.pdf

ये भी पढ़ें:

UP Board Results 2019: जानिए क्या कर रहे हैं पिछले साल के टॉपर आकाश मौर्या

UP Board Result 2019: यूपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट 1 और 10वीं का 1:30 बजे Upmsp.edu.in पर

UP Board Result 2019: देश के सबसे बड़े हिन्‍दीभाषी प्रदेश में 11 लाख से ज्यादा छात्र हुए थे हिन्‍दी में फेल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Web title: UP Board Result, UP Board Result 2019, UP Result 2019, UP Board 10th Result, UP Board 12th Result, UP Board Ka Result, यूपी बोर्ड रिजल्ट, यूपी बोर्ड रिजल्ट २०१९
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर