लाइव टीवी

भारतीय मीडिया पर अपनी रिसर्च के लिए IIT खड़गपुर के प्रोफेसर ने जीता फेसबुक अवॉर्ड

News18Hindi
Updated: September 29, 2019, 3:40 PM IST
भारतीय मीडिया पर अपनी रिसर्च के लिए IIT खड़गपुर के प्रोफेसर ने जीता फेसबुक अवॉर्ड
इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट और कंप्यूटर साइंस के एसोसिएट प्रोफेसर अनीमेष मुखर्जी को इस अवॉर्ड के लिए चुना गया है.

ये अवॉर्ड-विनिंग प्रोजेक्ट Prof Pawan Goyal और PhD स्टूडेंट Souvic Chakraborty के सहयोग से किए गए काम का हिस्सा है. इसके जरिए उन्होंने फेक न्यूज से संबंधित काम किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2019, 3:40 PM IST
  • Share this:
IIT खड़गपुर के प्रोफेसर का नाम 'Ethics in AI Research Award' के लिए चुना गया है. ये अवॉर्ड जो फेसबुक की पहल का हिस्सा है. इस रिसर्च के जरिए प्रोफेसर ने भारतीय मीडिया में पूर्वाग्रह से निपटने पर प्रोजेक्ट किया. इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट और कंप्यूटर साइंस के एसोसिएट प्रोफेसर अनीमेष मुखर्जी को आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) रिसर्च अवॉर्ड operationalizing ethics कैटेगिरी में Targeted Bias in Indian Media Outlets प्रोजेक्ट के लिए चुना गया है. इसकी जानकी IIT खड़गपुर की ओर से जारी स्टेटमेंट में दी गई.

ये अवॉर्ड-विनिंग प्रोजेक्ट Prof Pawan Goyal और PhD स्टूडेंट Souvic Chakraborty के सहयोग से किए गए काम का हिस्सा है. इसके जरिए उन्होंने फेक न्यूज से संबंधित काम किया.

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) एरिया में काम करने वाले एसोसिएट प्रोफेसर अनीमेष मुखर्जी ने बड़े डेटा एनालेटिक्स और सूचना सुधार पर काम किया. फिर वे ऑनलाइन पब्लिश मीडिया पर उपलब्ध जानकारी से न्यूज मीडिया आर्टिकल्स में फर्जी समाचार की पूर्वाग्रह की पहचान की.

इस पूरे प्रोजेक्ट पर काम के दौरान प्रोफेसर के लिए सबसे बड़ी चुनौती, कौन की चीज पूर्वाग्रहों से भरी है, उसे बताना रही. इसके लिए रिसर्च टीम ने तीन राष्ट्रीय मीडिया आउटलेट का 20 साल का डेटा इकट्ठा किया. फिर उस डेटा से तीन मेट्रिक्स के आधार पर पूर्वाग्रह को पहचाना. वे तीनों मेट्रिक्स इस तरह रहे- coverage bias, word choice bias और topic choice bias.

रिसर्च टीम इसके बाद टीम आगे के लिए अध्ययन की पहुंच को स्थानीय और डिजिटल मीडिया आउटलेट तक पहुंचाने की योजना बना रही है. वे ऐसा browser extension डेवलप करने का प्लान बना रहे हैं जो रियल-टाइम में पूर्वाग्रहों को दिखा सके.

ये भी पढ़ें-
AP Grama Sachivalayam 1.6 लाख वैकेंसी: 30 सितंबर को जारी होंगे अपॉइंटमेंट लेटर
Loading...

CAT 2019 Correction window खोला गया, पढ़ें जरूरी निर्देश
गरीबी के चलते छोड़ी थी मेडिकल की पढ़ाई, अब गरीबों को कराते हैं NEET की तैयारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 3:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...