कोरोना के खिलाफ जंग: आईटीआई लिमिटेड हर महीने बना रहा पांच लाख 3डी डिजाइन वाले 'फेस शील्ड'

कोरोना के खिलाफ जंग: आईटीआई लिमिटेड हर महीने बना रहा पांच लाख 3डी डिजाइन वाले 'फेस शील्ड'
कंपनी ने माडिया को बताया कि स्वदेश निर्मित चेहरे के बाचाव वाले उत्पाद के उपयोग सांस लेने में कोई समस्या नहीं होती.

कंपनी पहले चरण में बने 'फेस शील्ड' (Face shield) को अस्पतालों, शैक्षणिक संस्थानों, गैर-सरकारी संगठों और स्थानीय प्रशासन को फ्री में बांट रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सार्वजनिक क्षेत्र आईटीआई लिमिटेट ने हर महीने पांच लाख 3डी डिजाइन वाले फेस शील्ड बनाने की बात कही है. कंपनी ने बयाता कि आगे हन इसके उत्पादन को बढ़ाकर 15 लाख प्रति माह करने की योजना बना रहे हैं. संचार मंत्रालय के अधीन आने वाली इस कंपनी का कहना है कि उसने अपने बेंगलुरू कारखाने में चेहरा ढकने के लिये उत्पाद (फेस शील्ड) बनाना शुरू कर दिया है.

कंपनी ने बताया कि उनका उत्पाद 3डी डिजाइन वाला 'फेस शील्ड है. इसकी खासियत यह है कि ये आंख, नाक और मुंह समेत चेहरे के आसपास के क्षेत्रों में संक्रमण फैलाने वाले किसी प्रकार के छिड़काव या छींटे अथवा विषाणु से रक्षा करता करता है.

कंपनी ने माडिया को बताया कि स्वदेश निर्मित चेहरे के बाचाव वाले उत्पाद के उपयोग सांस लेने में कोई समस्या नहीं होती. इसका काफी आसानी से प्रयोग किया जा सकता है. कंपनी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक आर एम अग्रवाल ने कहा कि आईटीआई कोविड-19 के खिलाफ अभियान में शामिल हुई है. ऐसे समय में हमारा फर्ज बनता है कि हम कोरोना वायरस संक्रमण से लड़ाई में देश और सरकार का साथ दें.



उन्होंने कहा कि कंपनी हर महीने 5 लाख 'फेस शील्ड बनाने में सक्षम है, इसे हम आगे 15 लाख महीने करने का मन बना रहे हैं. पहले चरण में कंपनी इन 'फेस शील्ड विभिन्न अस्पतालों, शैक्षणिक संस्थानों, गैर-सरकारी संगठों और स्थानीय प्रशासन को फ्री में बांट रही है. दूसरे चरण में इसे हवाई अड्डों, नगर निगम, पुलिस विभाग, राज्य सरकारों और कंपनियों को दिया जाएगा.
ये भी पढ़ें- Bihar Board Matric Result 2020: सड़क हादसे में हुई पिता की मौत, मां आंगनबाड़ी में करती हैं काम, बेटे ने 10वीं में ऐसे किया कमाल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading