JAC 12th result 2020: झारखंड बोर्ड 12वीं का रिजल्ट जारी, जानिए किस स्ट्रीम का कैसा रहा परिणाम

JAC 12th result 2020: झारखंड बोर्ड 12वीं का रिजल्ट जारी, जानिए किस स्ट्रीम का कैसा रहा परिणाम
झारखंड बोर्ड की 12वीं क्लास में इस बार 2.34 लाख स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया.

JAC 12th result 2020: इस साल झारखंड बोर्ड की 12वीं क्लास की परीक्षा में हिस्सा लेने वाले 2.34 लाख स्टूडेंट्स अपना परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट jharresults.nic.in पर चेक कर सकते हैं.

  • Share this:
JAC 12th result 2020: झारखंड बोर्ड (Jharkhand Board) ने शुक्रवार को 12वीं क्लास की परीक्षाओं के नतीजे घोषित कर दिए हैं. झारखंड एकेडमिक काउंसिल यानी JAC ने बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट jacresults.nic.in, jac.nic.in और jharresults.nic.in पर शाम 5 बजे के बाद नतीजे जारी किए. ये पहला मौका है जब झारखंड बोर्ड ने साइंस, कॉमर्स और आर्ट तीनों स्ट्रीम के नतीजे एकसाथ जारी किए हैं. इस साल झारखंड बोर्ड की 12वीं कक्षा के एग्जाम में कुल 2,34,363 छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया था.

रिजल्ट की खास बातें
साइंस स्ट्रीम
- 59 प्रतिशत रहा रिजल्ट, 44626 स्टूडेंट्स पास.
- कुल 76,657 पंजीकृत
- 75,638 ने दी परीक्षा


- प्रथम श्रेणी में 17441 उत्तीर्ण




कॉमर्स स्ट्रीम

- 77.37 फीसदी रिजल्ट, 21765 स्टूडेंट्स सफल.
- 28,548 परीक्षार्थी पंजीकृत.
- इनमें से 28,130 परीक्षा में बैठे.
- प्रथम श्रेणी में 7195 उत्तीर्ण हुए.

आर्ट स्ट्रीम
- रिजल्ट रहा 82.53 प्रतिशत, 1 लाख 5 हजार 256 परीक्षार्थी सफल.
- 1,29,343 परीक्षार्थी पंजीकृत थे.
- इनमें से 1,27,532 ने परीक्षा दी.
- प्रथम श्रेणी में पास होने वाले स्टूडेंट्स की संख्या 15982 रही.

मेरिट लिस्ट स्क्रूटनी के बाद होगी जारी
झारखंड बोर्ड की दसवीं कक्षा के नतीजों की ही तरह 12वीं के परिणाम के बाद भी मेरिट लिस्ट जारी नहीं की गई. बोर्ड अध्यक्ष अरविंद सिंह ने पहले ही इस बात की जानकारी दे दी थी. इस बार कोरोना वायरस से उपजे हालात के चलते मेरिट लिस्ट अभी जारी नहीं करने का फैसला किया गया है. हालांकि स्क्रूटनी के बाद टॉपर लिस्ट जारी की जाएगी. झारखंड बोर्ड 12वीं के नतीजे पहले दोपहर 1 बजे जारी होने थे, लेकिन शिक्षा मंत्री के कार्यक्रम में हुए बदलाव के बाद इसे शाम 5 बजे जारी किया गया.

रिजल्ट चेक करने के लिए वेबसाइट्स की लिस्ट
Hindi.News18.com
jac.jharkhand.gov.in
jacresults.nic.in
jac.nic.in
jharresults.nic.in
jharkhand.indiaresults.com
examresults.net

ऐसे चेक करें रिजल्ट
स्टेप 1: झारखंड बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट jacresults.nic.in या jharresults.nic.in पर जाएं.
स्टेप 2: रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करें.
स्टेप 3: 12वीं के रिजल्ट के विकल्प पर क्लिक करें.
स्टेप 4: दी गई जगह पर रोल नंबर समेत बाकी विवरण भरें.
स्टेप 5: विवरण भरने के बाद सबमिट बटन दबाएं.
स्टेप 6: सबमिट बटन दबाते ही रिजल्ट आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा.
स्टेप 7: रिजल्ट को अपने पास सेव कर लें.
स्टेप 8: संभव हो तो रिजल्ट का प्रिंट भी ले लें.

एसएमएस से ऐसे पाएं परिणाम
SMS द्वारा र‍िजल्‍ट प्राप्‍त करने के ल‍िये छात्रों को 56263 पर "RESULT;JAC12ROLL CODE + ROLL NO" ल‍िखकर भेजना होगा. र‍िजल्‍ट जारी होने के बाद छात्रों के पास उनका पर‍िणाम, संदेश के रूप में मोबाइल पर ही आ जाएगा.

पिछले साल ऐसा रहा था परिणाम
झारखंड बोर्ड 12वीं के पिछले साल के एग्जाम में करीब 3.15 लाख छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया था. तब साइंस स्ट्रीम में 57 प्रतिशत, कॉमर्स में 70.44 प्रतिशत और आर्ट स्ट्रीम में 79.97 फीसदी स्टूडेंट्स सफल घोषित हुए थे. इस साल झारखंड बोर्ड को 20 मार्च से मूल्यांकन कार्य शुरू करना था, लेकिन कोरोना वायरस के चलते ऐसा नहीं हो सका और फिर 28 मई से कॉपियां जांचने का काम शुरू हो पाया.

10 से 28 फरवरी तक हुई परीक्षाएं
झारखंड बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं इस साल 10 फरवरी से शुरू हुईं और 28 फरवरी को संपन्न हुईं. 2,34,363 छात्रों की इंटरमीडिएट की परीक्षा वोकेशनल पेपर से शुरू हुई और जीव विज्ञान, भूगोल और व्यावसायिक गणित के पेपर के साथ संपन्न हुई.

सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में हुए एग्जाम
झारखंड बोर्ड की 12वीं क्लास की परीक्षाओं के लिए राज्य में 470 एग्जाम सेंटर बनाए गए. इन परीक्षा केंद्रों पर स्टूडेंट्स ने सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में एग्जाम दिए. राज्य सरकार ने नकल रोकने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे. ये सीसीटीवी कैमरे हर परीक्षा केंद्र के प्रत्येक क्लासरूम में लगवाए गए थे.

ये भी पढ़ें
NTA ने बढ़ाई JEE, NEET, UGC-NET समेत अन्य के एप्लीकेशन फॉर्म करेक्शन की डेट
केंद्रीय विद्यालय 20 जुलाई से शुरू करेगा 1st क्लास के लिए रजिस्ट्रेशन

दसवीं में 75.01 प्रतिशत रहा रिजल्ट
जेएसी ने 8 जुलाई को कक्षा 10 के परिणाम की घोषणा की थी. ज‍िसमें 75.01% छात्र पास हुए. पिछले पांच वर्षों में सबसे अच्छा परिणाम था. बोर्ड ने मई तक परिणाम घोषित करने की योजना बनाई थी, लेकिन देश में लॉकडाउन के कारण इसमें देरी हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज