• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • JEE Advance Exam 2020: जेईई एडवॉन्स परीक्षा पर बड़ी खबर, कैंडीडेट्स को कुछ यूं दिए गए सेंटर्स

JEE Advance Exam 2020: जेईई एडवॉन्स परीक्षा पर बड़ी खबर, कैंडीडेट्स को कुछ यूं दिए गए सेंटर्स

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा 11 अक्टूबर को होने वाली है. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा 11 अक्टूबर को होने वाली है. (फाइल फोटो)

JEE Advance Exam 2020: कोरोना वायरस महामारी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग को मेनटेन करने के लिए शहरों और परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ा दी गई है

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. जेईई एडवॉन्स 2020 (JEE Advance 2020) परीक्षा 27 दिसंबर को होने वाली है. पूरे देश में इसके लिए सैकड़ों परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. जेईई मेन (JEE Main) की परीक्षा क्वालीफाई करने के बाद कुल 1,60,831 कैंडीडेट्स ने जेईई एडवॉन्स परीक्षा के लिए रजिस्टर किया है. इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक कुल रजिस्टर्ड कैंडीडेट्स में से जिन्होंने अपना रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान किया है, उनमें से 97.94 फीसदी लोगों को उनकी पसंद का परीक्षा केंद्र एलॉट किया गया है. ये परीक्षा केंद्र कैंडीडेट्स के टॉप थ्री च्वाइस में से हैं. बाकी के कैंडीडेट्स यानी कि 2.06 फीसदी कैंडीडेट्स को उनके आठ च्वाइसेज में से दिया गया है.

    PwD कैंडीडेट्स को मिली पहली च्वाइस
    सभी रजिस्टर्ड PwD कैंडीडेट्स को उनकी फर्स्ट च्वाइस दी गई है चाहे उन्होंने फीस दी हो या न दी हो.

    फीस पेमेंट न करने वाले कैंडीडेट्स को क्या मिला
    कुल 5320 कैंडीडेट्स ने फीस का भुगतान नहीं किया है. ये कैंडीडेट्स परीक्षा में शामिल हो भी सकते हैं और नहीं भी. हालांकि, इन कैंडीडेट्स में से भी 62 फीसदी कैंडीडेट्स को उनकी पसंद के टॉप थ्री सेंटर्स में से दिया गया है. कुल रजिस्टर्ड 1,60,831 सेंटर्स में से 991 कैंडीडेट्स को टॉप आठ च्वाइस में से भी सेंटर्स नहीं मिल पाए हैं. पिछले सालों के रिकॉर्ड के आधार पर ये कहा जा सकता है कि जिन कैंडीडेट्स ने फीस का भुगतान नहीं किया है वे लोग परीक्षा नहीं देंगे.

    ये भी पढ़ें-
    JNUEE एडमिट कार्ड 2020 jnuexams.nta.nic.in पर जारी, इस डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड
    दिल्ली यूनिवर्सिटी के टीचर्स को मिलेगी रुकी हुई सैलरी, सरकार जारी करेगी करोड़ों का फंड


    बढ़ा दी गई है परीक्षा केंद्रों की संख्या
    कोरोना वायरस महामारी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग को मेनटेन करने के लिए शहरों और परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ा दी गई है. पिछले साल कुल 164 शहरों में 600 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे जबकि इस साल 222 शहरों में कुल एक हजार सेंटर बनाए गए हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज