JEE परीक्षा के कैंडीडेट्स ने शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र, रखी एक और अटेम्प्ट की मांग

जेईई कैंडीडेट्स ने शिक्षा मंत्री को पत्र लिखा है.
जेईई कैंडीडेट्स ने शिक्षा मंत्री को पत्र लिखा है.

JEE Exam 2020: जेईई नियमों के मुताबिक, जो छात्र 12वीं कक्षा पास हो जाता है उसे जेईई मेन्स में तीन अटेम्प्ट और जेईई एडवॉन्स में दो अटेम्प्ट दिए जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 3:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. छात्रों और पैरेंट्स के एक शिष्ट मंडल ने शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से जेईई एडवॉन्स परीक्षा में एक एक्स्ट्रा अटेम्प्ट की मांग की है. इससे पहले इंडियन इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी, आईआईटी के ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड ने कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए छात्रों को एक और अटेम्प्ट देने का फैसला किया था. जेईई नियमों के मुताबिक, जो छात्र 12वीं कक्षा पास हो जाता है उसे जेईई मेन्स में तीन अटेम्प्ट और जेईई एडवॉन्स में दो अटेम्प्ट दिए जाते हैं.

पोखरियाल से उन्होंने कहा कि जिन छात्रों का इस बार अंतिम प्रयास है उन्हें एक साल की छूट मिलनी चाहिए ताकि वे साल 2021 में फाइनल अटेम्प्ट दे सकें. इस साल जेईई मेन्स ऐर एडवॉन्स परीक्षा अप्रैल-मई के बजाय सितंबर में आयोजित की गई थी. इस परीक्षा के लिए 8.41 लाख छात्रों ने रजिस्टर किया था जिसमें से 6.35 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी. माना जा रहा है कि कोविड-19 के कारण इस बार कम छात्रों ने परीक्षा में हिस्सा लिया था.

ये भी पढ़ेंः
Schools Reopening: यूपी सहित इन राज्यों में आज से खुलेंगे स्कूल, जानें पूरा मास्टर प्लान
UPSEE Counselling 2020: एक लाख सीटों पर काउसिलिंग शुरू, भूल न जाएं ये जरूरी डॉक्युमेंट्स



हालांकि, परीक्षा के लिए एक एक्स्ट्रा अटेम्प्ट देने के पीछे ये कारण भी दिया गया है कि कोविड-19 की परिस्थितियों के साथ साथ तमाम छात्र बाढ़ की वजह से भी परीक्षा में शामिल नहीं हो पाए थे. पैरेंट्स का कहना है कि यह असाधारण परिस्थिति है इसलिए जिन छात्रों का इस बार अंतिम प्रयास था उन्हें एक और मौका दिया जाना चाहिए ताकि वे साल 2021 में फिर से परीक्षा दे सकें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज