JEE Main 2020: कोरोना वायरस के चलते लाखों कैंडीडेट्स ने नहीं दिया एग्जाम, आंकड़े जारी

JEE Main 2020: कोरोना वायरस के चलते लाखों कैंडीडेट्स ने नहीं दिया एग्जाम, आंकड़े जारी
जेईई मेन परीक्षा कोरोना वायरस के चलते दो बार स्थगित करनी पड़ी थी.

JEE Main 2020: ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन यानी (Joint Entrance Examination) जेईई मेन की परीक्षा 1 से 6 सितंबर तक देशभर में आयोजित की गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2020, 7:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस के बीच देशभर में ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (Joint Entrance Examination) यानी जेईई मेन की परीक्षा (JEE Main Exam) 1 से 6 सितंबर तक आयोजित की गई. परीक्षा के दौरान कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग समेत सभी उपायों का पालन किया गया. हालांकि बावजूद इसके लाखों कैंडीडेट्स ने इस परीक्षा में हिस्सा नहीं लिया. शिक्षा मंत्री (Education Minister) रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने खुद इस बात का खुलासा करते हुए जानकारी दी है कि इस साल जेईई मेन परीक्षा में कुल 6.35 लाख कैंडीडेट्स ने हिस्सा लिया.

25 प्रतिशत कैंडीडेट्स ने नहीं दी परीक्षा
शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बताया, इस साल सितंबर में हुई जेईई मेन परीक्षा के लिए कुल 8.58 लाख कैंडीडेट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया था. हालांकि इनमें से 6.35 लाख उम्मीदवारों ने ही परीक्षा दी. इसका मतलब ये हुआ कि 2.2 लाख स्टूडेंट्स ने जेईई मेन एग्जाम में हिस्सा ही नहीं लिया. बता दें कि परीक्षा के आयोजन के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन भी हुए थे. यहां तक कि मामला सुप्रीम कोर्ट तक भी पहुंचा था.

साल में दो बार होते हैं जेईई एग्जाम
रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर बताया, जेईई मेन एग्जाम साल में दो बार आयोजित होते हैं. इस साल जनवरी में भी परीक्षा आयोजित की गई थी. कई कैंडीडेट्स ने जनवरी में अच्छा प्रदर्शन किया, इसलिए उन्होंने सितंबर में हुई परीक्षा में हिस्सा नहीं लिया. हम ऐसे स्टूडेंट्स के आंकड़ों को इकट्ठा कर रहे हैं. उन्होंने साथ ही कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों ने परीक्षा के दौरान स्टूडेंट्स की हरसंभव मदद की जो काबिले तारीफ है.



महामारी के बीच इसलिए कराई गई परीक्षा
जानलेवा महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच परीक्षा कराने का भी शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जवाब दिया. उन्होंने कहा, परीक्षा में किसी भी तरह की देरी स्टूडेंट्स की मेहनत और कॉलेजों में एडमिशन की उनकी उम्मीदों पर पानी फेर देती. हमारी सरकार हमेशा ही छात्रों के हितों के लिए काम करती रही है.

ये भी पढ़ें
NEET 2020: आखिरी वक्त में ऐसे क्रैक करें एग्जाम, अपनाएं ये तरीका
शुरू हुआ बिटसेट काउंसिलिंग के लिए स्लॉट बुकिंग, bitsadmission.co पर करें चेक

अब नीट की बारी
ज्वाइंटर एंट्रेंस एग्जामिनेशन यानी जेईई मेन एग्जाम आयोजित हो चुके हैं. जल्द ही इसके नतीजों का भी ऐलान कर दिया जाएगा. अब देशभर में नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट यानी नीट की परीक्षा के आयोजन की तैयारी की जा रही है. नीट का एग्जाम 13 सितंबर को आयोजित किया जाएगा. इसमें करीब 15 लाख कैंडीडेट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज