• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • JNU ने जारी की अधिसूचना, कहा- 17 मई तक बंद रहेगा विश्वविद्यालय

JNU ने जारी की अधिसूचना, कहा- 17 मई तक बंद रहेगा विश्वविद्यालय

मानसून सत्र की पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन होगी. (फाइल फोटो)

मानसून सत्र की पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन होगी. (फाइल फोटो)

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) ने परिस्थिति को देखते अधिसूचना जारी कर 17 मई तक विश्वविद्यालय बंद होने की बात कही है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय ने एक अधिसूचना जारी कर 17 मई तक के लिए विश्वविद्यालय के बंद रहने के की सूचना दी है. लॉकडाउन के दूसरा चरण 3 मई को खत्म होने वाला था पर सरकार ने फिर तिथि बढ़ा दी और लॉकडाउन की आखिरी तारीख 17 मई रख दी है. ऐसे में अब जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) ने भी परिसस्थिति को देखते हुए अधिसूचना जारी की हैै.

    बता दें कि अधिसूचना में कहा गया है कि विश्वविद्यालय 17 मई, 2020 तक बंद रहेगा. यानी अब छात्र-छात्राओं को 17 मई तक विश्वविद्यालय के खुलने का इंतजार करना है. इसे लेकर एएनआई का एक ट्ववीट भी आया है. उम्मीदवार से अनुरोध है कि वे लेटेस्ट अपडेट के लिए जेएनयू की ऑफिशिल वेबसाइट पको समय-समय पर चेक करते रहें.



    ध्यान दें कि जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम (JNUEE)-2020 सत्र में दाखिले के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 15 मई तक बढ़ा दी गई है. कोरोना संकट को देखते हुए विश्वविद्यालय प्रबंधन ने यह फैसला लिया है. प्रवेश निदेशक की ओर से जारी सर्कुलर में कहा गया, कोरोना संकट को देखते हुए एनटीए ने रजिस्ट्रेशन और आवेदन जमा करने की समय सीमा 15 मई तक बढ़ा दी है. जिसके लिए जेएनयू के कुलपति जगदीश कुमार ने आवेदन से संबंधित टि्वटर किया है.

    बता दें कि देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के कुल मामले 40 हजार के पार पहुंच गए हैं. पिछले 24 घंटे में 2487 नए केस सामने आए जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 40,263 हो गई. वहीं एक दिन में 83 लोगों की मौत के बाद देश में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1306 हो गई है. देश भर में कोविड-19 (Covid-19) के 28,070 एक्टिव केस हैं. अब तक 10,887 संक्रमित ठीक हो चुके हैं और एक मरीज विदेश चला गया है. संक्रमण के कुल मामलों में 111 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

    भारत में रविवार तक कोविड 19 के 10 लाख से अधिक टेस्‍ट (Covid 19 tests) किए जा चुके हैं. सरकार द्वारा बताया जा रहा है कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के आंकड़ों के हिसाब से भारत के हालात काफी बेहतर हैं. भारत के अलावा जो 5 अन्‍य देश कोविड 19 के 10 लाख से अधिक टेस्‍ट कर चुके हैं, उनमें भारत के लिहाज से संक्रमण के मामले कहीं अधिक हैं. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के अनुसार देश में मृत्‍यु दर भी अन्‍य देशों की तुलना में कम है. यह 3.2 फीसदी है. अगर इस आकंड़े को जनसंख्या के आधार पर देखा जाए तो हर एक लाख लोगों में सिर्फ 0.09 लोगों की की मौत हो रही है.

    ये भी पढ़ें- हरियाणा में स्टूडेंट्स को नहीं पसंद आ रहा ऑनलाइन एजुकेशन, 69% छात्र ही ले रहे क्ल

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज