Karnataka 2nd PUC Result 2020: जारी हुआ 12वीं का रिजल्ट, karresults.nic.in पर करें चेक

Karnataka 2nd PUC Result 2020: जारी हुआ 12वीं का रिजल्ट, karresults.nic.in पर करें चेक
कर्नाटक में 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया गया है.

कोरोना वायरस महामारी के कारण 12वीं कक्षा की परीक्षा को बीच में ही रोकना पड़ा था जिसे बाद में जून में कंडक्ट करवाया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 14, 2020, 12:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कर्नाटक प्रि-यूनिवर्सिटी एजुकेशन डिपार्टमेंट ने 2nd PUC यानी 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है. पहले छात्रों को उनके रिजल्ट एसएमएस के जरिए भेजे गए. बाद में दोपहर 12 बजे से इसे वेबसाइट पर भी अपलोड कर दिया गया. स्टूडेंट्स अपना रिजल्ट karresults.nic.in पर चेक कर सकते हैं. इस परीक्षा में करीब 6 लाख छात्रों ने हिस्सा लिया था. इस साल कुल रिजल्ट 69.2 फीसदी रहा जो कि पिछले साल की तुलान में करीब 8 फीसदी ज्यादा है.

जून में करवाई गई बची हुई परीक्षा
बता दें कि कोरोना वायरस महामारी के कारण 12वीं कक्षा की परीक्षा को बीच में ही रोकना पड़ा था जिसे बाद में जून में कंडक्ट करवाया गया. पहले परीक्षा 3 मार्च से 23 मार्च तक होने वाली थी लेकिन लॉकडाउन की वजह से परीक्षा को बीच में ही रोकनी पड़ी. बाद में इंग्लिश का पेपर 18 जून को करवाया गया था. परीक्षा करवाने के लिए राज्य सरकार ने सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा था इसके लिए 13,528 अतिरिक्त कमरों की व्यवस्था की गई थी ताकि छात्रों में उचित दूरी बनाई रखी जा सके. छात्र अपना रिजल्ट ऑनलाइन पोर्टल - SuVidya और result.bspucpa.com भी चेक कर सकते हैं. कर्नाटक पहले पीयूसी का रिजल्ट 4 मई को जारी हो चुका है.

पिछले साल 61.73 फीसदी रहा रिजल्ट
पिछले साल 2nd PUC का रिजल्ट 61.73 फीसदी रहा था. इसमें सबसे अच्छा रिजल्ट साइंस का और सबसे खराब रिजल्ट आर्ट्स का रहा था. पिछले साल साइंस का रिजल्ट 66.58 प्रतिशत, कॉमर्स का रिजल्ट 66.39 प्रतिशत और आर्ट्स का रिजल्ट 50.53 फीसदी रहा था.



स्वास्थ्य कारणों से परीक्षा को लेकर हुआ था विरोध
बता दें कि कर्नाटक उन राज्यों में से एक है जिसनें स्वास्थ्य को लेकर विरोध के बावजूद बोर्ड परीक्षा को कंडक्ट करवाया. शिक्षा मंत्री ने खुद भी तमाम सेंटर्स का दौरा किया. हालांकि, दो बार छात्रों के कोरोना वायरस के कारण संक्रमित होने की न्यूज़ सामने आई. अगर इंग्लिश विषय की परीक्षा भी अपने निर्धारित समय पर हो गई होती तो रिजल्ट शायद और पहले ही आ गया होता.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading