Strategy to crack NEET 2020: आखिरी वक्त में रखें इन बातों का ध्यान, आसानी से क्रैक कर सकेंगे परीक्षा

नीट परीक्षा के लिए कुछ स्ट्रेटजी अपनाकर आसानी से क्रैक किया जा सकता है.
नीट परीक्षा के लिए कुछ स्ट्रेटजी अपनाकर आसानी से क्रैक किया जा सकता है.

NEET Exam 2020: किसी भी परीक्षा को पास करने के लिए अंतिम समय की तैयारी काफी महत्त्वपूर्ण होती है. ऐसे में नीट परीक्षा को क्रैक करने के लिए हम आपको कुछ ट्रिक्स बताते हैं जिसे अपनाकर आप आसानी से परीक्षा पास कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 4:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में एडमिशन के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET 2020) की परीक्षा 13 सितम्बर को आयोजित होगी. कोरोना वायरस के कारण दो बार स्थगित होने के बाद अब NEET 2020 परीक्षा की नई तारीख रखी गई है. NEET परीक्षा (Exam) के लिए 16 लाख से भी ज्यादा छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया है. किसी भी परीक्षा में तैयारी के लिहाज से अंतिम कुछ दिनों का समय काफी अहम माना जाता है. विस्तार से की गई तैयारी को कम समय में फिर से दोहराना एक चुनौती होती है. परीक्षा के अंतिम समय में विषय के नए टॉपिक पर समय खर्च करने की धारणा कई बार अभ्यर्थियों में देखी जाती है. NEET 2020 के परीक्षार्थियों को भी अंतिम समय में योजनाबद्ध तरीके से तैयारी करके एग्जाम पास करने का प्रयास करना चाहिए.

हर परीक्षार्थी के मन में एक ही सवाल रहता है कि NEET की परीक्षा में काफी कम समय बचा है और अब इसकी तैयारी कैसे करें. NEET 2020 की परीक्षा (Exam) में अंतिम समय का उपयोग करने के लिए कुछ टिप्स इस आर्टिकल में बताए गए हैं. NEET के परीक्षार्थी इनका उपयोग कर सकते हैं.

NEET 2020 की परीक्षा से पहले अंतिम समय में तैयारी के टिप्स



नए टॉपिक शुरू नहीं करें
NEET की तैयारी में अंतिम समय के दौरान नए टॉपिक समझना मुश्किल काम होता है. पाठ्यक्रम के जिन टॉपिक्स का अध्ययन पहले कर चुके हैं, उनको रिपीट करने पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए. जिस टॉपिक पर आपकी पकड़ है, उस पर ही सबसे ज्यादा ध्यान देने का प्रयास करना चाहिए. इसमें समय की बर्बादी भी नहीं होगी.

नोट्स का इस्तेमाल करें
कम समय में पाठयक्रम का अधिकांश भाग कवर करने के लिए छोटे नोट्स का उपयोग किया जा सकता है. 4 या 5 पन्नों में NEET परीक्षा के मुख्य टॉपिक्स के भाग लिखकर उसे बोर्ड या दीवार पर लगा सकते हैं. कभी भी आने-जाने के समय कुछ मिनटों में ही नोट्स से टॉपिक्स पर नजर दौड़ाई जा सकती है.

मॉक टेस्ट दें
पिछली NEET परीक्षाओं और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर मौजूद सवालों को हल करें. एक या दो मॉक टेस्ट एक दिन में दे सकते हैं. ज्यादा समय इस पर खर्च करने की जरूरत नहीं है. एक या दो मॉक टेस्ट से एक्जाम के समय से तालमेल बैठाने में आसानी रहेगी. सवालों को हल करने के समय का ज्ञान भी हो जाएगा जिससे मुख्य परीक्षा में परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

कठिन सवालों में ज्यादा न उलझें
कई बार ऐसा देखा जाता है कि कुछ कठिन सवाल हल नहीं होने की स्थिति में स्टूडेंट्स उन्हें लेकर बैठ जाते हैं. परीक्षा का अंतिम समय अहम होता है, ऐसे में इन सवालों पर ज्यादा ध्यान केन्द्रित करने का कोई अर्थ नहीं होता. NEET परीक्षा से पहले बचे हुए समय का सदुपयोग करने के लिए जिन टॉपिक्स में आपको पूरा विश्वास हो उन पर ही ध्यान देना चाहिए. ज्यादा मुश्किल सवालों में उलझने से समय की बर्बादी के अलावा आत्म-विश्वास भी गिरता है.

रिवीजन में निरन्तरता बरकरार रहे
अगर आपने तैयारी के लिए कोई समय सारणी बनाई है, तो उस पर कायम रहना महत्वपूर्ण बात है. टाइम टेबल के अनुसार चलने से NEET की तैयारी में निरन्तरता बनी रहती है और पढ़ने में मन भी लगा रहता है. समय और सब्जेक्ट के अनुसार यह तैयारी की जा सकती है. सुबह, शाम और रात के हिसाब से हर विषय को बांटकर इनसे जुड़े रह सकते हैं.

रिलैक्स रहें और पूरी तरह आराम भी करें
अंतिम समय में तैयारी करते हुए दिमाग को आराम देना जरूरी है. हर 40 मिनट के बाद दस से पंद्रह मिनट का ब्रेक लिया जा सकता है. इससे पढ़ा हुआ टॉपिक याद करने में मुश्किल नहीं आएगी. बिना थके पढ़ने से विश्वास में भी कमी नहीं आएगी.

डायग्राम और ग्राफ से पढ़ सकते हैं
NEET परीक्षा की तैयारी के लिए विशेषज्ञ डायग्राम और ग्राफ का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं. इससे किसी टॉपिक के अहम पॉइंट्स को कम समय में ही रिवाइज किया जा सकता है.

शंकाओं का समाधान विशेषज्ञ से कराएं
NEET परीक्षा के अंतिम दिनों में तैयारी के दौरान किसी विषय में आपको कोई सवाल हो या शंका हो, तो उसका समाधान किसी टीचर या विशेषज्ञ से कराएं. साथ में तैयारी करने वाले छात्रों से चर्चा करने पर समाधान की कोई गारंटी नहीं होती.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज