पंजाब के तरनतारन में बनेगी लॉ यूनिवर्सिटी, मंत्रिमंडल ने दी मंजूरी

पंजाब के तरनतारन में बनेगी लॉ यूनिवर्सिटी, मंत्रिमंडल ने दी मंजूरी
मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने ये मंजूरी दी.

मंत्रिमंडल ने 28 अगस्त को 'श्री गुरु तेग बहादुर राज्य विधि विश्वविद्यालय विधेयक-2020' को पेश किए जाने को अपनी मंजूरी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2020, 8:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पंजाब मंत्रिमंडल ने मंगलवार को सीमावर्ती जिले तरनतारन में गुरु तेग बहादुर की 400वीं जयंती के उपलक्ष्य में एक विधि विश्वविद्यालय (Law university) स्थापित करने के लिए मंजूरी दी. अधिकारियों ने यहां यह जानकारी दी.

'श्री गुरु तेग बहादुर राज्य विधि विश्वविद्यालय विधेयक-2020' 
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने प्रस्तावित राज्य विधानसभा सत्र के दौरान 28 अगस्त को 'श्री गुरु तेग बहादुर राज्य विधि विश्वविद्यालय विधेयक-2020' को पेश किए जाने को अपनी मंजूरी दी.

कानूनी शिक्षा के विकास के लिए राज्य विश्वविद्यालय स्थापित होगा
एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, उच्च शिक्षा विभाग द्वारा तैयार मसौदा विधेयक के अंतर्गत कानूनी शिक्षा के विकास और उन्नति के लिए राज्य विश्वविद्यालय स्थापित करना शामिल है.



मंत्रिमंडल ने पंजाब वस्तु एवं सेवा कर (संशोधन) विधेयक 2020 पेश किए जाने को लेकर भी अपनी मंजूरी दी.

पांच अध्यादेशों के स्थान लेने वाले विधेयक पेश होंगे
मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि एक दिवसीय विधानसभा सत्र के दौरान निजी नैदानिक प्रतिष्ठानों के नियमन सहित पांच अध्यादेशों के स्थान लेने वाले विधेयक पेश किये जाएंगा.

'पंजाब स्मार्ट कनेक्ट योजना'
पंजाब से जुड़ी खबर हाल ही में ये चर्चा में रही कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये 'पंजाब स्मार्ट कनेक्ट योजना' की शुरूआत की. बहुप्र​तीक्षित स्मार्टफोन योजना के तहत सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 12 वीं कक्षा के कुछ छात्रों के बीच मोबाइल सेट वितरित किये गए.

ये भी पढ़ें-
देशभर के स्कूलों पर बड़ी खबर, जानिए 1 सितंबर से खुलेंगे या नहीं
दिल्ली के स्कूलों पर अहम खबर, जल्द ही उठाया जाएगा ये बड़ा कदम

स्मार्टफोन देना, चुनावी वादा
इस योजना की शुरूआत पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनने के तीन साल से अधिक समय बीत जाने के बाद हुई. यीस्मार्टफोन देना, एक मुख्य चुनावी वादा है. पंजाब में 2017 में हुये विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश के युवाओं को स्मार्टफोन देना, एक मुख्य चुनावी वादा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज