Maharashtra Board 10th Result 2020: पिछले साल 20 छात्रों के आए थे 100 फीसदी अंक, ऐसा रहा था रिजल्ट

Maharashtra Board 10th Result 2020: पिछले साल 20 छात्रों के आए थे 100 फीसदी अंक, ऐसा रहा था रिजल्ट
महाराष्ट्र बोर्ड का रिजल्ट जारी होने वाला है

Maharashtra Board 10th Result 2020: पिछले साल का रिजल्ट अच्छा नहीं रहा था. साल 2019 में कुल पास प्रतिशत 77.10 फीसदी था. खास बात यह थी कि पिछले साल का रिजल्ट उसके पिछले साल के रिजल्ट यानी कि साल 2018 के रिजल्ट की तुलना में काफी गिर गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 29, 2020, 11:20 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र बोर्ड दसवीं का रिजल्ट (Maharashtra Board 10th Result 2020) जारी करने वाला है. ऐसे में रिजल्ट जारी होते ही 11 लाख छात्रों का इंतज़ार खत्म हो जाएगा. इस साल परीक्षा 3 मार्च से 23 मार्च के बीच होनी थी लेकिन कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के कारण भूगोल के पेपर को बीच में ही कैंसिल करना पड़ा. इस साल का रिजल्ट कैसा होगा इस बारे में कुछ भी कह पाना अभी मुश्किल है लेकिन हम आपको पिछले साल के रिजल्ट के बारे में जानकारी देते हैं-

कोंकण रीजन का काफी अच्छा रहा था रिजल्ट
पिछले साल का रिजल्ट अच्छा नहीं रहा था. साल 2019 में कुल पास प्रतिशत 77.10 फीसदी था. खास बात यह थी कि पिछले साल का रिजल्ट उसके पिछले साल के रिजल्ट यानी कि साल 2018 के रिजल्ट की तुलना में काफी गिर गया था. साल 2018 में कुल पास प्रतिशत 89.41 फीसदी था. इस हिसाब से देखा जाए तो रिजल्ट में करीब 12 फीसदी की गिरावट आई थी. हालांकि, पिछले साल भी कोंकण रीजन का रिजल्ट काफी अच्छा रहा था. कोंकण रीजन का कुल पास प्रतिशत 88.38 फीसदी रहा था.

लड़कियों का प्रदर्शन रहा था बढ़िया
पिछले साल लड़कियों ने लड़कों की तुलना में काफी अच्छा परफॉर्म किया था. महाराष्ट्र बोर्ड के दसवीं के रिजल्ट में लड़कियों का पास प्रतिशत 82.82 फीसदी था जबकि लड़कों का पास प्रतिशत 72.18 फीसदी था. इस तरह से लड़कियों और लड़कों के पास प्रतिशत में 10 फीसदी का अंतर था जो कि काफी बड़ा अंतर है.



ये भी पढ़ें
MP Board MPBSE 12th Result 2020: MP बोर्ड 12वीं के रिजल्ट से जुड़ी 10 बातें
Uttarakhand Board Result: 10th,12th रिजल्ट की तारीख हुई तय, जानें पूरी डिटेल


20 छात्रों के आए थे 100 फीसदी अंक
पिछले साल 20 छात्रों के 100 फीसदी अंक आए थे जिसमें से 16 छात्र या कहें कि 80 फीसदी छात्र लातूर डिवीज़न के थे. सेंट्रल महाराष्ट्र से हर साल काफी टॉपर्स होते हैं. हालांकि, पिछले सालों में इसमें थोड़ा गिरावट देखने को मिली है. पिछले साल लातूर में केशवराज स्कूल से सात बच्चों के 100 फीसदी अंक आए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading