महाराष्ट्र में MBBS छोड़कर सभी फाइनल ईयर UG मेडिकल एग्जाम स्थगित

महाराष्ट्र में MBBS छोड़कर सभी फाइनल ईयर UG मेडिकल एग्जाम स्थगित
कोरोना वायरस के चलते इस बार परीक्षा में देरी हो रही है.

उन्होंने MUHS को निर्देशित किया कि अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए इंटर्नशिप शुरू करे और स्थिति में सुधार होने पर परीक्षा आयोजित करने की अनुमति दे.

  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र विश्वविद्यालय स्वास्थ्य विज्ञान द्वारा एमबीबीएस को छोड़कर, हेल्थ साइंस में स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए सभी फाइनल ईयर की परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं. ये फैसला राज्य चिकित्सा शिक्षा मंत्री अमित देशमुख के निर्देश के बाद लिया गया. देशमुख ने कहा कि कोविड संकट के दौरान परीक्षा आयोजित करने से छात्र जीवन खतरे में पड़ेगा. अंतिम वर्ष की एमबीबीएस परीक्षा पर फैसला लेना अभी बाकी है.

मंत्री ने एमयूएचएस को पहले, दूसरे और तीसरे वर्ष के यूजी छात्रों के लिए कक्षाएं शुरू करने के लिए भी कहा. देशमुख ने कहा कि पोस्टग्रेजुएट छात्रों के लिए परीक्षा आयोजित करना कोई मुद्दा नहीं होगा क्योंकि वे पहले से ही कैंपस में हैं. उन्होंने कहा कि सुपरस्पेशियलिटी पाठ्यक्रम (NEET-SS) के लिए एंट्रेंस टेस्ट 15 सितंबर को होना तय है. सभी पीजी परीक्षाएं 17 अगस्त से होनी हैं.





उन्होंने MUHS को निर्देशित किया कि अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए इंटर्नशिप शुरू करे और स्थिति में सुधार होने पर परीक्षा आयोजित करने की अनुमति दे. उन्होंने कहा कि सभी गैर-प्रमाणित परीक्षाओं को अगले सरकारी निर्देशों तक स्थगित कर दिया जाना चाहिए.
ये भी पढ़ें-
EWS वर्ग का आय प्रमाण पत्र केंद्रीय नौकरियों, शैक्षिक संस्थानों में होगा मान्य


यूजीसी के फाइनल ईयर एग्जाम रूल के खिलाफ 31 छात्र पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

MUHS पहले ही पहले, दूसरे और तीसरे साल के एग्जाम स्थगित कर चुका है. इस हफ्ते की शुरुआत में, मेडिकल स्टूडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन ने धमकी दी थी कि अगर राज्य में यूजी और पीजी की परीक्षा रद्द नहीं हुई तो वे हड़ताल पर करेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading