जम्मू कश्मीर के मेडिकल कॉलेजों में डबल हुईं एमबीबीएस की सीटें, जानें पूरी डिटेल

जम्मू कश्मीर में सीटों की संख्या डबल कर दी गई है.
जम्मू कश्मीर में सीटों की संख्या डबल कर दी गई है.

एमबीबीएस की सीटें साल 2018-19 में 500 थीं जिन्हें इस साल बढ़ाकर 1100 कर दिया गया है. एडमिशन पॉलिसी के मुताबिक इनमें से 50 फीसदी सीटें महिला कैंडीडेट्स के लिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 5:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर के मेडिकल कॉलेजों (Jammu College Medical College) में इस साल एमबीबीएस की सीटों को बढ़ाकर डबल कर दिया गया है. प्रशासन के मुताबिक इसमें से 50 फीसदी सीटों को महिलाओं के लिए रिजर्व कर दिया गया है. एमबीबीएस की सीटें साल 2018-19 में 500 थीं जिन्हें इस साल बढ़ाकर 1100 कर दिया गया है. संघ शासित क्षेत्र की स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग को नेशनल मेडिकल कमीशन, नई दिल्ली द्वारा डोडा के सरकारी कॉलेज में 100 एमबीबीएस और अनंतनाग व बारामूला के कॉलेजों में दूसरे 100 छात्रों को एडमिशन देने की अनुमति मिल गई है.

इसी तरह से राजौरी और कठुआ मेडिकल कॉलेजों में क्रमशः 115 और 100 सीटों के लिए अनुमति मिली है. इस तरह से एमबीबीएस की कुल सीटें 500 से बढ़कर 1100 हो गई हैं. जम्मू कश्मीर के अधिकारियों ने ये जानकारी दी. इसके लिए डोडा में मेकशिफ्ट लेक्चरर, लैब, डिस्सेक्शन बॉक्स, लाइब्रेरी और फैकल्टी रूम्स, ऐडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक बनाए गए हैं.

ये भी पढ़ेंः
UPSC Civil Services Result 2020: जारी हुआ सिविल सर्विस प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट, यहां करें चेक
बिहार पुलिस लेडी कॉन्स्टेबल का रिजल्ट हुआ जारी, csbc.bih.nic.in पर करें चेक



प्रवक्ता ने कहा कि मेडिकल कॉलेजों में इन नई सीटों के लिए मेन बिल्डिंग के बनने का काम जारी है उम्मीद की जा रही है कि आने वाले कुछ महीनों में बिल्डिंग बनकर तैयार हो जाएगी. उन्होंने कहा कि अब राज्य में 1100 एमबीबीएस की सीटें उपलब्ध हैं जो कि एक बड़ी उपलब्धि है. एडमिशन पॉलिसी के मुताबिक इनमें से 50 फीसदी सीटें महिला कैंडीडेट्स के लिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज