बड़ी बात: मिस इंडिया फाइनलिस्ट रह चुकीं ऐश्वर्या ने UPSC एग्जाम किया क्रैक, मां पर दिया ये बयान

बड़ी बात: मिस इंडिया फाइनलिस्ट रह चुकीं ऐश्वर्या ने UPSC एग्जाम किया क्रैक, मां पर दिया ये बयान
यूपीएससी एग्जाम 2019 में प्रदीप सिंह ने टॉप किया है.

मॉडल रह चुकीं ऐश्वर्या ने कहा कि उनका नाम ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai) के नाम पर रखा गया था ताकि वह भी उनकी तरह मिस वर्ल्ड (Miss World) का खिताब हासिल कर सकें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2020, 10:32 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. यूपीएससी के 2019 सिविल सर्विस एग्जाम के नतीजों का ऐलान गत मंगलवार को कर दिया गया, जिसमें हरियाणा के प्रदीप सिंह ने टॉप किया है. हालांकि एग्जाम में चुने गए कुल 829 में से एक दिलचस्प नाम ऐश्वर्या श्योराण का भी है, जिन्होंने 93वीं रैंक हासिल की है. दरअसल ऐसा इसलिए है क्योंकि ऐश्वर्या न केवल अब यूपीएससी में सफल कैंडीडेट की लिस्ट में शामिल हैं, बल्कि इससे पहले वे मिस इंडिया फाइनलिस्ट भी रह चुकी हैं. आइए जानते हैं उनकी दिलचस्प कहानी.

करियर मॉडलिंग में, लेकिन सपना सिविल सर्विसेज...
टाइम्सनाउ के अनुसार, ऐश्वर्या ने यूपीएससी के चयनित उम्मीदवारों की लिस्ट में नाम आने के बाद कहा, मेरी मां ने मेरा नाम ऐश्वर्या राय के नाम पर रखा क्योंकि वह मुझे मिस इंडिया बनते हुए देखना चाहती हैं. मैं मिस इंडिया के 21 फाइनलिस्ट में चुन ली गई थी. मगर मैं हमेशा से प्रशासनिक सेवा में जाना चाहती थी. ये मेरा सपना था. इसीलिए मैंने मॉडलिंग करियर से थोड़ा ब्रेक लेकर सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी शुरू कर दी और अब सफल भी रही.

नहीं ली कोचिंग क्लास
ऐश्वर्या ने बताया, मैं पढ़ाई में शुरू से अच्छी थी और मैंने एग्जाम क्लीयर करने के लिए कोई कोचिंग क्लास नहीीं ली. पढ़ाई के लिए वक्त कैसे निकालती थीं, इसे लेकर उन्होंने कहा, मैंने अपना फोन स्विच आफ कर दिया और सोशल मीडिया से दूरी बना ली ताकि एग्जाम पर फोकस कर सकूं. मगर ऐसा नहीं है कि मैं अचानक से पढ़ाई करने लगी बल्कि मैं हमेशा से पढ़ने में अच्छी थी.



ये भी पढ़ें
यूपीएससी रिजल्ट 2019: मिलिए यूपीएससी में चौथी रैंक पाने वाले हिमांशु जैन से
सरकारी स्कूल: किस्से और कहानियों के सहारे बच्चे बन रहे अच्छे भारतीय

साइंस स्टूडेंट ऐश्वर्या
ऐश्वर्या के मुताबिक, वो एक साइंस स्टूडेंट थीं लेकिन बाद में श्रीराम कॉलेज आफ कॉमर्स में एडमिशन लिया. उनके पिता कर्नल अजय कुमार एनसीसी तेलंगाना बटालियन के कमांडिंग आफिसर हैं. ऐश्वर्या के अनुसार, आर्मी में महिलाओं को मौके दिए जाते हैं, लेकिन ये अब भी काफी सीमित संख्या में है. मगर प्रशासनिक सेवाओं में महिलाओं के लिए उपलब्धि हासिल करने की कोई सीमा नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज