Home /News /career /

लॉकडाउन के बीच स्कूल-कॉलेज खोलने पर शिक्षा मंत्री निशंक ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात

लॉकडाउन के बीच स्कूल-कॉलेज खोलने पर शिक्षा मंत्री निशंक ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक कोर्स को ऑनलाइन लॉन्च किया है.

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक कोर्स को ऑनलाइन लॉन्च किया है.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बीच देशभर के स्कूल-कॉलेज (School College) फिलहाल बंद है. ऐसे में छात्र ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाई जारी रखे हुए हैं.

    नई दिल्ली. मानव संसाधन विकास मंत्री (Human Resource Development Minister) रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने स्कूल और अन्य शैक्षिक संस्थान फिर से खोलने को लेकर बड़ा बयान दिया है. निशंक ने कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते बंद किए देश भर के शिक्षण संस्थानों को खोलने का काम इसके लिए गठित टास्क फोर्स की सिफारिशों के आधार पर किया जाएगा. निशंक के अनुसार, स्कूल समेत अन्य संस्थान खोलने का फैसला हालात, वक्त और टास्क फोर्स के सुझाव को ध्यान में रखते हुए लिया जाएगा.

    टास्क फोर्स देगी सुझाव
    इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने कहा कि इस काम के लिए बनाई गई टास्क फोर्स सभी सुरक्षा उपायों पर गौर करेगी. उसके बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकेगा. निशंक ने साथ ही कहा कि उच्च शिक्षा के लिए नया एकेडमिक कैलेंडर जारी कर दिया गया है और परीक्षा जुलाई में होगी.

    29 विषयों की परीक्षा
    मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने ये भी बताया कि जो इलाके कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित हैं, उन्हें लेकर मंत्रालय ने एक वैकल्पिक योजना बनाई है. निशंक के अनुसार, रेड जोन कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित हैं और उनके लिए हमारे पास अलग योजना है. शिक्षा मंत्री ने साथ ही कहा कि 12वीं क्लास के बचे हुए बोर्ड एग्जाम की प्रक्रिया हालात सामान्य होने के बाद आगे बढ़ाई जाएगी. बाकी बचे हुए 83 में से 29 मुख्य विषयों की परीक्षा हालात सामान्य होने पर कराई जाएगी.

    भारत में कोरोना से 1 हजार से अधिक मौतें
    निशंक के अनुसार, सरकार इस बात की पूरी कोशिश कर रही है कि इस जानलेवा महामारी से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते भारत में एक हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है, जबकि इस महामारी के संक्रमण में आने वाले लोगों की संख्या करीब 34 हजार तक पहुंच गई है.

    UP Board रिजल्ट पर बड़ी खबर, छात्रों के लिए 25 मई की तारीख बेहद अहम

    CBSE ने तैयार किया सिलेबस, देश-दुनिया से पहले घर का इतिहास जानेंगे बच्चे

    Tags: College education, Education, HRD ministry, Ramesh Pokhriyal Nishank, School

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर