• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • MP में स्कूल के साथ ही 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए 5 अगस्त से खुल सकेंगी कोचिंग

MP में स्कूल के साथ ही 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए 5 अगस्त से खुल सकेंगी कोचिंग

एमपी में 5 अगस्त से कोचिंग खोलने की छूट दे दी गई है.

एमपी में 5 अगस्त से कोचिंग खोलने की छूट दे दी गई है.

MP Education: मध्य प्रदेश में कल से स्कूल खुलने के साथ-साथ 12वीं के विद्यार्थियों के लिए कोचिंग संस्थानों को भी खोलने की छूट दे दी गई है. हालांकि स्कूलों के खुलने से पहले वैक्सीनेशन की शर्त भी सरकार ने रखी है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में सवा साल के लंबे इंतजार के बाद 26 जुलाई से स्कूल खुल रहे हैं. इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए कोचिंग खोलने के निर्देश भा जारी कर दिए हैं. आगामी 5 अगस्त से कोचिंग खोलने की अनुमति दी गी है. हालांकि कोरोना की रोकथाम के मद्देनजर बच्चों की सुरक्षा के लिए सभी शिक्षकों और कर्मचारियों का वैक्सीनेशन अनिवार्य किया गया है. मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि स्कूल खुलने से पहले सभी शिक्षकों और कर्मचारियों का वैक्सीनेशन हो जाए, यह सुनिश्चित करें.

मुख्य सचिव के निर्देशों के मुताबिक स्कूल-कॉलेजों में शिक्षकों और कर्मचारियों का वैक्सीनेशन कार्यक्रम पूरा कराने के लिए 6 दिन का समय दिया गया है. कलेक्टरों को दिए निर्देश में कहा गया है कि 26 से 31 जुलाई के बीच वैक्सीनेशन पूरा कराया जाए. वैक्सीनेशन स्कूल या कॉलेज परिसर में ही सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे के बीच कराया जाए.

नीट, जेईई की तैयारियों के लिए खुलेंगे कोचिंग
मध्य प्रदेश में कक्षा 12वीं तक के स्कूल खुलने के साथ ही छात्र-छात्राओं की सहूलियत के लिए कोचिंग संस्थान खोलने के निर्देश स्कूल शिक्षा विभाग ने दिए हैं. इससे नीट, जेईई और अपने विषयों की तैयारी करने में छात्रों को सुविधा होगी. कोचिंग संस्थान में क्लास रूम में सैनेटाइजेशन और पोस्ट रूम की साफ-सफाई को लेकर सख्त निर्देश दिए गए हैं. कोचिंग संस्थानों में कार्यरत सभी टीचर्स और स्टाफ  का वैक्सीनेशन भी अनिवार्य  किया गया है. स्थानीय प्रशासन कोचिंग संस्थानों के संचालन की नियमित रूप से कोविड गाइडलाइंस के पालन को लेकर जांच करेगा.

जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी लेगी निर्णय
स्कूलों को खोलने को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा के बाद स्कूल शिक्षा विभाग ने भले ही स्कूलों को खोलने का आदेश दे दिया है, लेकिन इस मामले पर अंतिम फैसला जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी ही लेगी. बताया गया है कि स्कूलों के साथ हॉस्टल और कोचिंग संस्थानों को निर्धारित कैलेंडर के अनुसार खोलने के संबंध में स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए यह कमेटी बैठक करेगी, जिसमें इस बारे में अंतिम फैसला होगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज