MPBSE 12th Result 2020: फेल छात्रों के लिए जरूरी खबर, इन 3 विकल्पों से होगा बेड़ा पार!

MPBSE 12th Result 2020: फेल छात्रों के लिए जरूरी खबर, इन 3 विकल्पों से होगा बेड़ा पार!
फेल होने वाले छात्र निराश न हों. आगे की राह बंद नहीं हुई है.

mp board class 12 result 2020: एमपी बोर्ड की 12वीं क्लास का रिजल्ट जारी कर दिया गया है. जो स्टूडेंट्स फेल हो गए हैं, उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं हैं, बल्कि वे इन हालात में अन्य विकल्पों को आजमा सकते हैं.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश बोर्ड (Madhya Pradesh Board Results) की 12वीं क्लास का रिजल्ट जारी कर दिया गया है. इस साल प्रदेश के साढ़े आठ लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं ने 12वीं की परीक्षा दी थी. मगर सब पास हो जाएं ऐसा तो मुमकिन होता नहीं है. ऐसे में कुछ स्टूडेंट्स के हाथ निराशा भी लगती ही है. हालांकि साल भर की मेहनत के बाद किसी वजह से फेल हुए छात्र-छात्राओं के लिए ये दुनिया का अंत नहीं है. बल्कि फेल होने वाले स्टूडेंट्स के पास अब भी 3 विकल्प मौजूद हैं. हम आपको इन्हीं रास्तों के बारे में बताने जा रहे हैं.

'रुक जाना नहीं' योजना का मिलेगा फायदा
कक्षा 12वीं में फेल होने वाले छात्रों के लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने 'रुक जाना नहीं' योजना तैयार की है. इस योजना के तहत कोई स्टूडेंट 05 सब्जेक्ट में से तीन विषयों में फेल हो जाता है या दो विषयों में फेल हो जाता है तो योजना के तहत परीक्षा में बैठ सकता है. मध्य प्रदेश राज्य ओपन बोर्ड द्वारा 'रुक जाना नहीं' योजना में परीक्षा फॉर्म भरने वाले परीक्षार्थियों की परीक्षा आयोजित की जाती है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि जो भी स्टूडेंट कक्षा 12वी में मुख्य परीक्षा में दो से तीन विषयों में फेल हो जाते हैं उन्हें दोबारा परीक्षा दिलाकर पास होने का एक और मौका दिया जाए.

योजना के तहत साल में दो बार परीक्षा का मौका
'रुक जाना नहीं' योजना के तहत छात्रों को साल में एक बार नहीं बल्कि दो बार पास होने का मौका दिया जाता है. दरअसल, मध्य प्रदेश राज्य मुक्त ओपन बोर्ड के तहत साल में दो बार यानी हर 6 महीने में एक बार परीक्षा आयोजित की जाती है. अगर कक्षा 12वीं के स्टूडेंट्स मुख्य परीक्षा के बाद 'रुक जाना नहीं' योजना के तहत पहले 06 महीने में आयोजित परीक्षा में एक से दो विषयों में फेल हो जाते हैं तो अगले 06 महीने में आयोजित परीक्षा में छात्र फिर बैठ सकते हैं.



ये भी पढ़ें
MP Board MPBSE 12th Result 2020: MP बोर्ड 12वीं के रिजल्ट से जुड़ी 10 बातें
Uttarakhand Board Result: 10th,12th रिजल्ट की तारीख हुई तय, जानें पूरी डिटेल


सप्लीमेंट्री परीक्षा और रिटोटलिंग कराकर भी पास होने का विकल्प
कक्षा 12वी के छात्रों के पास पूरक परीक्षा का भी विकल्प है. एक विषय में फेल होने पर छात्र पूरक परीक्षा दे सकते हैं. तो वहीं छात्रों के लिए रिटोटलिंग का भी विकल्प है. रिटोटलिंग और रिचेकिंग का फॉर्म भरकर भी स्टूडेंट्स कम नंबर आने पर कॉपी चेक कराने के साथ ही नंबर की मार्किंग भी दोबारा करा सकते है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading