नेशनल एजुकेशन पॉलिसी पर अब प्रकाश जावडेकर ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी पर अब प्रकाश जावडेकर ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात
नई शिक्षा नीति का एक प्रमुख लक्ष्य है कि उच्च शिक्षा में वर्ष 2035 तक जीइआर यानि सकल नामांकन अनुपात को 50 प्रतिशत तक पहुंचाना है.

केंद्र सरकार ने हाल ही में करीब 84 साल पुरानी व्यवस्था को बदलते हुए नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (New National Education Policy) की घोषणा की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 8:07 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी (New National Education Policy) यानी एनईपी (NEP) को लेकर अब केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर (Prakash Javadekar) ने अहम बयान दिया है. उन्होंने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में अलग-अलग माध्यमों से रिसर्च और इनोवेशन पर जोर दिया जाएगा. बता दें कि करीब 84 साल से चली आ रही व्यवस्था को बदलते हुए केंद्र सरकार ने हाल ही में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने का ऐलान किया था.

अगले साल से लागू होगी नई शिक्षा नीति
प्रकाश जावडेकर (Prakash Javadekar) ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (New National Education P{olicy) के पांच मुख्य स्तंभ हैं, जिनमें एफॉर्डेबिलिटी, एक्सेसिबिलिटी, क्वालिटी, इक्युटी और अकाउंटीबिलिटी शामिल हैं. च्वाइस आधारित शिक्षा के जरिये नई शिक्षा नीति में लचीलेपन का नया आयाम जोड़ा गया है. केंद्र सरकार द्वारा जिस नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति का ऐलान किया गया है, उसे अगले साल से लागू किया जाएगा.

ये भी पढ़ें
नीट परीक्षा एग्जाम क्रैक करने के लिए आखिरी समय में अपनाएं ये ट्रिक्स


UGC NET 2020 Admit Card Release: कब खत्‍म होगा एडमिट कार्ड का इंतजार, जानें

जीईआर 15 सालों में 50 प्रतिशत तक...
देश के सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि ग्रॉस एनरॉलमेंट रेशियो यानी जीईआर अगले 15 सालों में मौजूदा 26 प्रतिशत से बढ़कर 50 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा. बता दें कि ग्रॉस एनरॉलमेंट रेशियो एजुकेशन के क्षेत्र में मापी जाने वाली अहम इकाई है. इसके अनुसार ये मापा जाता है कि अलग-अलग कक्षाओं में देशभर में कितने छात्र-छात्राओं ने स्कूलों में दाखिला लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज