नौकरी की बात : नए ट्रेंड और फ्यूचर के अपडेट से मिलेगी नई जॉब और तरक्की, इस मंत्र के बारे में जानें सबकुछ

युवाओं को किसी भी कोर्स में दाखिला लेने से पहले उन्हें पैशन को ध्यान में रख रियल प्रोजेक्ट पर अधिक से अधिक काम करना चाहिए.

युवाओं को किसी भी कोर्स में दाखिला लेने से पहले उन्हें पैशन को ध्यान में रख रियल प्रोजेक्ट पर अधिक से अधिक काम करना चाहिए.

नौकरी की बात (Naukari Ki Bat) सीरिज में पैडलस्टार्ट (PedalStart) के को-फाउंडर मानस पाल (Manas Pal) ने डिजाइन थिंकिंग में नौकरियों के मौके बताए.

  • Share this:
करियनौनई दिल्ली. कोविड-19 (Covid-19) की दूसरी लहर ने फिर से देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुुंचाया है. कई राज्यों में फिर से लॉकडाउन लग गया है. ऐसे दौर में नौकरियां कैसे पाई जाएं और छंटनी से कैसे बचा जा सकता है. इसके लिए युवा पाठकों के लिए न्यूज18 ने देश के टॉप एचआर लीडर (HR Leader) के साथ खास सीरिज "नौकरी की बात" (Naukari ki bat) शुरू की है.

"नौकरी की बात" (Naukari Ki Bat) सीरिज में पैडलस्टार्ट (PedalStart) के को-फाउंडर मानस पाल (Manas Pal) ने कहा 'युवाओं से किसी भी कोर्स में दाखिला लेने से पहले मैं उनके पैशन को ध्यान में रखने की सलाह दूंगा और कहूंगा कि रियल प्रोजेक्ट पर अधिक से अधिक काम करें.' उनके मुताबिक कई कंपनियां ऑनलाइन कोर्स को सैद्धांतिक ज्ञान होने का प्रमाण मानती हैं लेकिन प्रोजेक्ट के अनुभवों को दोहरा लाभ मानती हैं.

यह भी पढें :  नौकरी की बात: पुरानी कंपनी, बॉस और सहकर्मियों के संपर्क में रहिए, लग सकती है जॉब्स की लॉटरी 

सवाल : सबसे पहले हमें बताइए कि महामारी के दौर में नौकरी गंवाने वाले लोग क्या करें?
जवाब : मेरा हमेशा से यह मानना है कि नौकरी तो अस्थायी है पर स्किल, विशेषज्ञता और क्षमता स्थायी है. कम्पनी किसी भी कारण से कर्मचारी की छुट्टी कर सकती है जो कभी-कभी उचित होता है और कभी-कभी नहीं. हालांकि आपके कौशल, विशेषज्ञता और क्षमता हर बार आपको एक बेहतर अवसर पाने में मदद करेगी कभी चाहे कर्मचारी हैं या फिर इम्प्लायर. इसलिए खुद को अधिक सक्षम बनाने का प्रयास करें और एक नया अवतार में महामारी, मंदी आदि किसी भी संकट से लड़ने के लिए तैयार रहें.

यह भी पढें : नौकरी की बात : टेक्नोलॉजी की वजह से इन जगहों पर नौकरियों की भरमार, जानें सबकुछ 

सवाल : नई स्किल कैसे विकसित कर सकते हैं?



जवाब : मेरी सोच यह कहती है कि हर इंसान न केवल इस महामारी के दौर में बल्कि तेजी से बढ़ते और विकासशील देश के साथ कदम से कदम मिला कर चलने के लिए नए कौशल प्राप्त करे या कौशल बढ़ाए. आज ऑनलाइन सीखने के लिए कई विकल्प हैं. आपको बस यह देखना है कि इनमें कौन आपके भविष्य के अनुरूप है. ट्रेंड और फ्यूचर के अपडेट के लिए अपने सीनियर्स और मेंटर्स के संपर्क में रहें.

यह भी पढ़ें :  नौकरी की बात : फोन या कम्प्यूटर की बजाय नौकरी खोजने के लिए एम्प्लायर्स से ईमेल व Linkdin पर करें सीधे बात

सवाल : महामारी के बाद से बहुत सारे कोर्स ऑनलाइन उपलब्ध है. अगर कोई इन कोर्स को करता है तो क्या उन्हें कंपनियां काम पर रखेंगी? 

जवाब : हां. लेकिन युवाओं से किसी भी कोर्स में दाखिला लेने से पहले मैं उनके पैशन को ध्यान में रखने की सलाह दूंगा और कहूंगा कि रियल प्रोजेक्ट पर अधिक से अधिक काम करें. कई कंपनियां ऑनलाइन कोर्स को सैद्धांतिक ज्ञान होने का प्रमाण मानती हैं लेकिन प्रोजेक्ट के अनुभवों को दोहरा लाभ मानती हैं.

सवाल : जब मार्केट धीरे-धीरे खुल रहा है तो कहां और कैसे युवाओं को नौकरी की तलाश करनी चाहिए?

जवाब : अपने सीनियर्स और मेंटर्स के संपर्क में रहें. अपने लिंक्डइन प्रोफाइल को अपडेट करते रहें और विभिन्न कंपनियों के एचआर, स्टार्टअप के फाउंडर और लीडरशिप टीम से संपर्क करने की कोशिश करें. नौकरी तलाशने के लिए बहुत सारे ऑनलाइन पोर्टल हैं. इसलिए अपनी प्रोफाइल अपडेट करते रहें ताकि रिक्रूटर्स की आप पर नजर पड़ें.

यह भी पढ़ें : सालों में एक बार मिलता है मौका, पैसा कमाना चाहते हैं तो तुरंत करें यह काम



सवाल : क्या आपको लगता है कि कोविड-19 के बाद भर्ती प्रक्रिया में बदलाव होंगे?

जवाब : यह जॉब प्रोफाइल पर निर्भर करेगा. कुछ पहले की तरह रहेगी और कुछ में थोड़ा बदलाव हो सकता है लेकिन मोटे तौर पर नियुक्ति की प्रक्रिया पहले की तरह रहेगी.

मानस पाल (Manas Pal)
पैडलस्टार्ट (PedalStart) के को-फाउंडर मानस पाल (Manas Pal)


सवाल : इस कठिन समय में इंटरव्यू के लिए कैसे तैयारी करनी चाहिए? 

जवाब : मेरा मानना है कि उन्हें 80 प्रतिशत समय कौशल पर और शेष 20 प्रतिशत समय करेंट अफेयर्स, कंपनी प्रोफाइल और नौकरी के लिए आवश्यक पहलुओं पर देना चाहिए.

यह भी पढ़ें : नौकरी की बात : दस साल में 100 करोड़ नौकरियों की स्किल बदल जाएंगी, इसलिए सीखें नई स्किल और करें रि-स्किलिंग

सवाल : आज के हालात में किस तरह के नए रोज़गार के अवसर मिलेंगे और करियर का क्या रूप होगा? अगर आने वाले समय में काफी बदलाव होंगे तो?

जवाब : हम खास कर कोविड काल के बाद की बात करें तो एजुकेशन, हेल्थकेयर, ई-रिटेल / ई-कॉमर्स, फिनटेक / फाइनेंशियल सर्विसेज और ओटीटी और ऑनलाइन गेमिंग सबसे तेजी से बढ़ने वाले सेक्टर होंगे. इन सेक्टरों के अंदर आईटी से एकाउंट्स और सेल्स से ऑपरेशंस तक बहुत सारे अवसर पैदा हांेगे. इसलिए आवश्यकतानुसार स्किल के साथ अपडेट रहें और संबंधित स्टेकहोल्डरों के संपर्क में रहें.

यह भी पढ़ें : नौकरी की बात : अगले पांच साल में इस क्षेत्र में होंगे 7.5 करोड़ जॉब्स, बस करनी होगी यह तैयारी

सवाल : क्या आप हमारे पाठकों को बता सकते हैं कि इस क्षेत्र में नौकरी की कितनी संभावनाएं हैं और भविष्य का परिदृश्य क्या होगा?

जवाब : मेरा मानना है कि आर्टिफिशियल इंटेलीजेंट, मशीन लर्निंग, बिग डेटा नए वर्टिकल हैं. इनमें बहुत सारे लोग विभिन्न दृष्टिकोणों और संभावनाओं के साथ बहुत सी चीजें तलाश रहे हैं. अब तक की उपलब्धियां अविश्वसनीय लगती हैं इसलिए निस्संदेह इन वर्टिकल में बहुत अच्छा भविष्य है.

सवाल : क्या आप हमें बता सकते हैं कि इस क्षेत्र में विभिन्न पदों के लिए क्या योग्यताएं और कौशल जरूरी हैं?

जवाब : स्किल्स के विवरण की सुनिश्चित जानकारी नहीं है लेकिन आजकल डिजाइन थिंकिंग का बहुत चलन है और यह बहुत महत्वपूर्ण है.

सवाल : अपनी कंपनी के हाइरिंग प्रोसेस के बारें में बताएं?

जवाब : हम सबसे पहले पैशन देखते हैं. दूसरा यह देखते हैं कि सीखने के लिए जरूरी खुलापन हो और तीसरा कौशल है. आप ईमेल और लिंक्डइन के जरिये हमारे संपर्क में रह सकते हैं. वेबसाइट पर सभी जरूरी जानकारियां और संपर्क के विवरण उपलब्ध हैं.

सवाल : आप किस प्रकार का कौशल चाहते हैं और आप उसका मूल्यांकन कैसे करते हैं?

जवाब : हम अधिकतर डिजाइन थिंकिंग पर ध्यान देते हैं. यह देखते हैं कि हम ने उम्मीदवार से जो प्रश्न किए उसका उत्तर उसने कितने गहन विचार के साथ दिया. उसके बताये समाधान किस तरह के हैं? उसकी सोच दीर्घकालिक है या अल्पकालिक?

यह भी पढ़ें : सालों में एक बार मिलता है मौका, पैसा कमाना चाहते हैं तो तुरंत करें यह काम

सवाल : आपकी कंपनी में और इस सेक्‍टर में विकास की क्या संभावनाएं हैं?

जवाब : हम उद्यमियों का एक समुदाय बना रहे हैं, जो हमारे प्री-इनक्युबेशन और वर्चुअल इनक्युबेशन सिस्टम का लाभ उठा सकते हैं. अन्य शब्दों में उन्हें हर दिन बहुत से लोगों से बात-संपर्क करने का अवसर मिलेगा और हमारा विश्वास है कि हम जितने लोगांे से जुड़ेंगे और गहन बात-विचार करेंगे हमारे ज्ञान का फलक अपने आप बड़ा होगा.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज