Home /News /career /

Naukari Ki Bat : ‘ग्रेट रेजिग्नेशन’ के दौर में खूब हैं नौकरियां, बस इन मंत्रों पर करें फोकस

Naukari Ki Bat : ‘ग्रेट रेजिग्नेशन’ के दौर में खूब हैं नौकरियां, बस इन मंत्रों पर करें फोकस

Naukari Ki Bat :  हाइब्रिड इंजन की तरह खुद को घर से, ऑफिस से या कहीं से भी काम करने की कला में ढालें

Naukari Ki Bat : हाइब्रिड इंजन की तरह खुद को घर से, ऑफिस से या कहीं से भी काम करने की कला में ढालें

नौकरी की बात (Naukari Ki Bat) सीरिज में Netcore Cloud की चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर भावना जैन (Bhavana Jain) बता रही हैं नई नौकरियों के अवसर खोजने की तरीके...

    नई दिल्ली. कोरोनावायरस महामारी (Covid-19) की तीसरी लहर आने की आशंका से एक बार फिर बाजार में उथल-पुथल मची है. फिर भी, नई नौकरियां के लिए स्थितियां बेहतर हुई हैं. कंपनियां नई नौकरियों के लिए अपने आप को खोलने लगी हैं. न्यूज18 की नौकरी की बात (Naukari Ki Bat) सीरिज में Netcore Cloud की चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर भावना जैन (Bhavana Jain) ने कोरोना काल में सास/मार्टेक (SaaS / Martech) क्षेत्र में नौकरियों के अवसर खोजने के तरीके शेयर किए हैं. उनके मुताबिक, आज कर्मचारी बड़ी संख्या में नौकरी छोड़ या बदल रहे हैं, जिसे कुछ अर्थशास्त्री ‘ग्रेट रेजिग्नेशन’ (Great Resignation) कहते हैं. इसलिए, नौकरियों के लिए नई स्ट्रटजी की जरूरत है. प्रस्तुत है उनसे बातचीत के प्रमुख अंश… यह भी पढ़ें: Naukari Ki Bat : टीचर हैं तो ई लर्निंग, सेल्स में सोशल मीडिया मार्केटिंग जैसे कोर्सेस से अपने आपको अपडेट करें

  • महामारी के बाद जो ऑनलाइन कोर्स चल रहे हैं, उन्हें कंपनियाें से कितनी तरजीह मिल रही है?
    नौकरी के इच्छुकों को अपनी रुचि को समझना चाहिए और उसी के अनुसार कोर्स का चयन करना चाहिए. खुद को दूसरों से बेहतर बनाने के लिए किसी योग्यता का चयन करना या उसमें विशेषज्ञता प्राप्त करने का समय आज और अभी है. योग्य व्यवसायियों की मांग सदैव बहुत ज़्यादा रहती है, लेकिन यह बात समझना भी ज़रूरी है कि आज के जॉब मार्केट में प्रतिस्पर्धा पहले के मुकाबले ज्यादा है. कंपनियां ऐसे कोर्सों को खासकर इस विकसित दौर में ज्यादा मान्यता दे रही हैं. नेटकोर क्लाउड में हम इन सर्टिफ़िकेशंस और कोर्सों को वरीयता देते हैं, क्योंकि मार्टेक (Marteck) और सास (SaaS, सॉफ्टवेयर एज ए सॉल्यूशन) के क्षेत्र ग्राहकों के ट्रेंड आदि के साथ निरंतर अपग्रेड होते रहते हैं.
  • जिन लोगों ने महामारी के दौरान अपनी नौकरी खो दी है, उन्हें क्या करना चाहिए?
    अब इस परिदृश्य (Scenerio) में काफ़ी बदलाव आया और आज हम एक ऐसे बिंदु पर खड़े हैं, जहां बाजार कर्मचारियों से जाना जाता है. प्रतिभाओं के बीच संघर्ष हो रहा है, न केवल भारत में, बल्कि पूरी दुनिया में बिना किसी भौगोलिक दायरे के अवसरों का तेज़ी से विस्तार हो रहा है. कर्मचारियों को उनकी नौकरियां वापस मिल गई हैं, लेकिन आज उनके पास यह तय करने का भी विकल्प मौजूद है कि अपनी व्यक्तिगत और व्यवसायिक महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने में उन्हें कौन सी नौकरी मदद करेगी.
  • जब मार्केट धीरे-धीरे खुल रहा है तो कहां और कैसे युवाओं को नौकरी की तलाश करनी चाहिए?
    अपनी खासियत को पहचानें, उस कंपनी का चयन करें, जहां आप काम करना चाहते हैं, और उनके एक्टिव प्लेटफ़ॉर्म्स पर उन्हें फ़ौलो करें. जैसे, लिंक्डइन (LinkedIn) नेटकोर क्लाउड में प्रतिभाओं के स्रोत के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. पिछली तिमाही में हमारी 37 प्रतिशत भर्तियां लिंक्डइन से हुई हैं, जबकि 32 प्रतिशत भर्तियां कर्मचारी के रिफ़रल द्वारा हुई हैं. साथ ही हम बाहरी कंसल्टेंट्स के साथ भी काम करते हैं. मैं यही कहूँगा कि ट्विटर, लिंक्डइन, व्हाट्सऐप (Whatsapp), और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म नए युग के नियोक्ताओं एवं नौकरी तलाश करने वालों के लोकप्रिय माध्यम हैं. इसके अलावा, रिफरल भी आज काफी कारगर है.
  • naukari ki bat: there are a lot of jobs in the era of great resignation just focus on these mantras

    Netcore Cloud की चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर भावना जैन (Bhavana Jain)

  • क्या आपको लगता है कि COVID-19 के बाद भर्ती प्रक्रिया में कोई बदलाव होगा?
    महामारी की शुरुआत से ही एक डिजिटल परिवर्तन आ चुका है. डिजिटाईजेशन आने वाले सालों के लिए एक अपेक्षित ट्रेंड नहीं, बल्कि नियुक्ति की प्रक्रिया की आज की सच्चाई बन गया है. हाईब्रिड हायरिंग (Hybrid Hiring), किसी भी स्थान पर बैठकर काम संभालने वाले पदों, मिश्रित फेस-टू-फेस एवं वर्चुअल मीटिंग्स, इन सभी से नियुक्ति की प्रक्रिया में और तेजी आएगी.
  • यह भी पढ़ें : Gold Jewelry Update: मेकिंग चार्ज के नाम पर 10% महंगी हुई ज्वैलरी, इन तरीकों को अपनाएंगे तो सस्ते पड़ेंगे गहने
  • इंटरव्यू की तैयारी कैसे करें?
    आज की परिस्थिति ने प्रतिभाशाली लोगों को अपने स्थान, डिग्री आदि से अलग रहकर नौकरी पाना आसान बना दिया है. आज कर्मचारी बड़ी संख्या में नौकरी छोड़ या बदल रहे हैं, जिसे कुछ अर्थशास्त्री ‘ग्रेट रेजिग्नेशन’ कहते हैं. इसलिए, प्रतिभाओं की इस होड़ में सबसे आगे बने रहने के लिए प्रत्याशियों के मुकाबले कंपनियों को अपनी नीतियों की समीक्षा करने की ज्यादा जरूरत होगी. कंपनियों को कर्मचारियों के लिए काम के लचीले मॉडल, उनकी ग्रोथ, सीखने के माकूल वातावरण, कंपनियों से जुड़ाव व स्वामित्व की भावना बढ़ाना पड़ रहा है. साथ ही वेतन के अलावा भी कुछ अन्य चीजों के माध्यम से कंपनियां प्रतिभाओं को आकर्षित कर उन्हें थामकर रख रही हैं. नौकरी के प्रत्याशियों को इस नई सामान्य व्यवस्था में सफलता के लिए इंटरव्यू की तैयारी के लिए कुछ चीजें उपयोगी होंगी. सफलता के लिए योग्यता बढ़ानाः आज इंटरनेट पर कई विश्वसनीय सशल्क एवं निशुल्क कोर्स उपलब्ध हैं, जो किसी विशेष पद के लिए आवेदन करने के लिए आपको अन्य प्रत्याशियों के मुकाबले बेहतर बनाते हैं. सोशल एवं इंटरपर्सनल स्किल पर काम करें : ये स्किल आज के हाईब्रिड कार्यस्थल में सफ़लता पाने के लिए ज़रूरी हैं. वीडियो पर होने, पॉज़िटिव बॉडी लैंग्वेज़ बनाए रखने, मुस्कुराने आदि जैसी सामान्य चीज़ों द्वारा आप इंटरव्यू में एक प्रभावशाली मौजूदगी दर्ज कर सकते हैं.
  • प्रतिस्पर्धी बने रहने के लिए उम्मीदवार को क्या करना चाहिए?
    आपकी तत्कालिक प्राथमिकता यही होनी चाहिए कि मौजूदा समय में आप जिस भूमिका में काम कर रहे हैं, उसमें उत्तम प्रदर्शन करें. आप अपना लक्ष्य/केपीआई हासिल करके या उससे बेहतर प्रदर्शन करके ऐसा कर सकते हैं. इसके बाद आप उन क्षेत्रों की पहचान करें, जिनमें आपको योग्यता अर्जित करने या बढ़ाने की जरूरत है, फिर इस दिशा में काम करें. अपने मैनेजर और एचआर लीडर से बात करें और अपनी योग्यता बढ़ाने की अपनी इच्छा के बारे में उन्हें बताएं.
  • क्या आप हमारे पाठकों को बता सकते हैं कि सास/मार्टेक (SaaS / Martech) के क्षेत्र में रोजगार की कितनी संभावनाएं हैं और भविष्य का परिदृश्य क्या होगा?
    मैककिंसे एंड कं. की हाल की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में सास उद्योग 2030 तक 1 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच जाएगा, तथा लगभग आधा मिलियन नई नौकरियों का सृजन करेगा. वास्तव में, नई रिपोर्ट प्रदर्शित करती हैं कि विदेशी बाज़ारों की नजर भारत के विकसित होते हुए सास के परिवेश पर है. भारत में सास का बाज़ार पिछले कुछ सालों में तेज़ी से बढ़ा है और कई अन्य उद्योगों द्वारा मिलकर उत्पन्न नौकरियों के मुकाबले इसने नौकरियों के ज़्यादा अवसरों का सृजन किया है.
  • क्या आप हमें बता सकते हैं कि सास/मार्टेक सेक्टर को कौन सी योग्यताओं और कौशल की ज़रूरत होगी?
    मूलभूत शैक्षणिक योग्यता और आवश्यक अनुभव के अलावा, इस विकसित होते हुए क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए क्रिएटिविटी, एनालिटिकल एफ़िनिटी, प्रॉब्लम सॉल्विंग क्षमताओं और निरंतर कुछ अलग सोचने की प्रेरणा की ज़रूरत होती है.
  • हमें अपनी कंपनी की भर्ती प्रक्रिया के बारे में बताएं और नौकरी चाहने वाले आपकी कंपनी तक कैसे पहुंच सकते हैं?
    हम 2022 तक भारत और विश्व में 700 से ज़्यादा लोगों की अपनी बढ़ती हुई टीम में 800 से ज्यादा प्रोफेशनल्स को शामिल करने की योजना बना रहे हैं. हम विभिन्न विभागों, जैसे एंजीनियरिंग, प्रोडक्ट, प्रि-सेल्स एवं सेल्स, मार्केटिंग, आरएंडडी, कस्टमर सक्सेस, और भौगोलिक विस्तार में अपनी टीम को मजबूत करेंगे. नौकरी के प्रत्याशी हमें careers@netcorecloud.com (सभी के लिए) और recruitmentteam@netcorecloud.com (हमारे कर्मचारियों के लिए, जो रेफ़र करना चाहते हैं) पर ईमेल कर सकते हैं. वो हमारे लिंक्डइन पेज से भी आवेदन कर सकते हैं. मार्टेक सॉल्यूशंस की बढ़ती मांग के अनुरूप, हम सास, कस्टमर एक्सपीरियंस, एवं एंटरप्रेन्योरियल स्किल्स में अनुभवी प्रत्याशियों को तलाश रहे हैं. हम सास समुदाय से सीनियर रिसोर्सेस को नियुक्त करते हैं, और फ्रेशर्स के लिए, हम मैनेजमेंट संस्थानों, एंजीनियरिंग कॉलेजों, एवं ग्रेजुएट स्कूल्स के विस्तृत नेटवर्क का इस्तेमाल करते हैं. हम अपनी नियुक्तियों द्वारा एआई एवं एमएल, डेटा साईंस और बिग डेटा की योग्यता वाले कर्मचारियों की संख्या बढ़ाना चाहते हैं. आंतरिक रूप से हम प्रतिभा के आंकलन के लिए विभिन्न तरह के मैट्रिक्स का इस्तेमाल करते हैं. इसमें प्रॉब्लम-सॉल्विंग, एफ़िशियंसी, कम्युनिकेशन, महत्वाकांक्षा, असाईनमेंट, प्रोजेक्ट, टेस्ट आदि द्वारा स्वयं को दिशा देना शामिल है. जब चीजों के इंजीनियरिंग के पक्ष की बात आती है, तो डीएस एवं एल्गो (डेटा स्ट्रक्चर्स एवं एलगोरिद्म्स) टेस्ट तकनीकी प्रतिभा का आंकलन सही-सही करते हैं.
  • आपकी कंपनी और इस सेक्टर में ग्रोथ की क्या संभावना है?
    नेटकोर क्लाउड को इस साल लगातार 4 साल ग्रेट प्लेस टू वर्क का सम्मान मिला है. यह मुख्यतः इसलिए हुआ क्योंकि नेटकोर क्लाउड में हम सही एक्सपोज़र, वृद्धि का स्कोप और वैल्थ क्रिएशन प्रदान करते हैं. उदाहरण के लिए, हमने सन 2006 में ईसॉप प्रोग्राम (ESOP program) शुरू किया ताकि नेटकोरियंस को ज़्यादा मूल्य मिले. इस समय 48 प्रतिशत नेटकोरियंस इस कार्यक्रम का हिस्सा हैं, जिसमें हर स्तर के कर्मचारी शामिल हैं. इसके अलावा, नेटकोर क्लाउड में, हमारे पूर्ण मार्टेक सॉल्यूशंस एवं जॉब्स रोटेशन (Martech Solutions & Jobs Rotation) के कारण कर्मचारियों को सास के विभिन्न पक्षों को सीखने के लिए विविध अवसर मिलते हैं. हमारे भौगोलिक विस्तार की वजह से हमारे कर्मचारियों को ज़्यादा अंतर्राष्ट्रीय एक्सपोज़र और विभिन्न बाज़ारों के साथ मिलकर काम करने का अवसर मिलता है.
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, बिग डेटा और ऑटोमेशन जैसी तकनीकों से क्या बदलाव संभावित हैं?
    बेन एंड कंपनी की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में फंडेड सास कंपनियों (SaaS companies) की संख्या पिछले पांच सालों में दोगुनी से ज़्यादा हो गई है और कंपनी द्वारा प्राप्त सीरीज-सी या लेट-स्टेज कैपिटल में चार गुना बढ़ोत्तरी हुई है. सासबूमी के परिणाम दर्शाते हैं कि यदि भारतीय सास प्रदाता अपनी पूरी क्षमता का उपयोग करने लगें, तो वो 2030 तक प्रतिवर्ष 50 बिलियन से 70 बिलियन डॉलर का वार्षिक रेवेन्य उत्पन्न करेंगे और विश्व के सास बाजार में 4 से 6 प्रतिशत का योगदान देंगे. इसलिए इस उद्योग से जुड़े सभी लोगों व सहयोगी सेगमेंट्स में वृद्धि व विस्तार की अपार संभावनाएं हैं.
  • Tags: How to be successful in your job and company, How to protect your job, Job and career, Job news, Job opportunity, Jobs in Corona era, Jobs in india, नई नौकरी

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर