लाइव टीवी
Elec-widget

NEET 2020: सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता, फर्जीवाड़े से MBBS डिग्री हासिल करना नामुमकिन

News18Hindi
Updated: December 1, 2019, 6:20 AM IST
NEET 2020: सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता, फर्जीवाड़े से MBBS डिग्री हासिल करना नामुमकिन
नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) 3 मई 2020 को होगा.

NEET के पेपर में निगेटिव मार्किंग होती है. हर सही जवाब के लिए +4 नंबर दिए जाते हैं. हर गलत जवाब के लिए 1 नंबर काटा जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2019, 6:20 AM IST
  • Share this:
NEET 2020: नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट 2020 (NEET 2020) के लिए सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता किए जाने की पूरी तैयारी है. MBBS/MD कोर्स में दाखिले के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा (नीट) 2020 में डिजिटल बायोमेट्रिक सिस्टम से निगरानी रखी जाएगी. ये निगरानी सिर्फ प्रवेश परीक्षा तक के लिए ही नहीं है. एंट्रेंस से लेकर कोर्स में दाखिले के बाद, पढ़ाई के दौरान कक्षा में कभी भी बायोमेट्रिक सिस्टम से छात्र की जांच की जा सकेगी.

NEET को दूसरी बार आयोजित करने जा रही नेशनल टेस्टिंग एजेंसी डिजिटल बायोमेट्रिक का पूरा डाटा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को देगा. जिसे मंत्रालय राज्यों को कांउसलिंग में मिलान के लिए उपलब्ध कराएगा. मेडिकल कॉलेज भी छात्र का डिजिटल बायोमेट्रिक से मिलान करेंगे.

दरअसल नीट 2019 में सख्ती के बावजूद तमिलनाडु के करीब छह हजार संदिग्ध स्टूडेंट्स के एंट्रेंस टेस्ट देने पर सवाल उठे थे. ऐसे लोगों पर अंकुश लगाने के लिए डिजिटल निगरानी व्यवस्था की जाएगी. सुरक्षा के तहत ही इस बार रजिस्ट्रेशन प्रोसस में भी बदलाव हो सकते हैं.

नीट के रजिस्ट्रेशन प्रोसेस के लिए जो बदलाव प्रस्तावित हैं उन पर सहमति बन चुकी है. खबरों में कहा जा रहा है कि नीट का इंफॉरमेशन ब्रोशर जारी होने से बदलावों पर अधिकारिक मुहर लग जाएगी. दो दिसंबर को जारी किया जाएगा.

सुरक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस में बदलाव
नीट के इंफॉरमेशन ब्रोशर में लेटेस्ट फोटो की बात ही लिखी जाती है. लेकिन बदलाव यह होगा कि छात्रों को रजिस्ट्रेशन फॉर्म में लाइव फोटो अपलोड करनी होगी. इस मुताबिक स्टूडेंट्स को फॉर्म भरते समय फोटो खींचकर अपलोड करनी होगी. यह वेबकैम से जरिए एक्सटर्नल की मदद से भी क्लिक की जा सकती है. लाइव फोटो से पता चल पाएगा जिस स्टूडेंट ने फॉर्म भरा, वही एग्जाम में बैठा है.

संदेह में छात्र को परीक्षा देने से भी रोका जा सकता है. इस साल रजिस्ट्रेशन फॉर्म में 10वीं, 12वीं बोर्ड का रोल नंबर भी लिखना होगा. स्टूडेंट रजिस्ट्रेशन के समय जो आईडेंडिटी कार्ड अपलोड करेगा, परीक्षा केंद्र पर वही लेकर जाना होगा. एनटीए की ओर से एडमिट कार्ड जारी होने के बाद 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए फिर से रजिस्ट्रेशन विंडो ओपन किया जाएगा, ताकि वे अपना रोल नंबर भर पाएं. बोर्ड की क्लासेज के एडमिट कार्ड, नीट रजिस्ट्रेशन के बाद जारी होते हैं.
Loading...

नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) 3 मई 2020 को होगा. एप्लीकेशन प्रोसेस 2 दिसंबर से शुरू होकर 31 दिसंबर तक चलेगा. इंटरेस्टेड कैंडीडेट्स ntaneet.nic.in के जरिए अप्लाई कर सकते हैं.

NEET 2020 एग्जाम पैटर्न
नीट एग्जाम 3 घंटे का होता है. इस पेपर में तीन सेक्शन होते हैं- फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी. तीनों सेक्शन से कुल 180 सवाल होते हैं. जिसमें से 90 सवाल बायोलॉजी से होते हैं, 45-45 फिजिक्स, केमिस्ट्री से. तैयारी के नज़रिए से देखें तो इसके सिलेबस में 11वीं, 12वीं क्लास का NCERT किताबों के संबंधित विषयों का पूरा सिलेबस होता है.

NEET के पेपर में निगेटिव मार्किंग होती है. हर सही जवाब के लिए +4 नंबर दिए जाते हैं. हर गलत जवाब के लिए 1 नंबर काटा जाता है. जो सवाल अटेंप्ट न किए जाएं, उनके लिए कोई नंबर नहीं काटे जाते. NEET 2019 में 15 लाख कैंडीडेट्स उपस्थित हुए थे. ये एग्जाम 5 मई को आयोजित किया गया था.

ये भी पढ़ें-
Success Story: इंजीनियर की नौकरी छोड़कर बना IAS, ऐसे पाई 13वीं रैंक
Indian Railway में 10वीं से ग्रेजुएट और इंजीनियर तक के लिए बंपर वैकेंसी
Indian Navy में 10+2 (B.Tech) कैडेट एंट्री स्कीम के लिए आवेदन शुरू

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 6:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...