TN NEET Quota: मेडिकल दाखिले में 7.5% कोटे के लिए AIADMK के साथ प्रदर्शन को तैयार DMK

15 सितंबर को इस संबंध में पारित विधेयक को तुरंत मंजूरी देने की मांग की.
15 सितंबर को इस संबंध में पारित विधेयक को तुरंत मंजूरी देने की मांग की.

इस विधेयक में राष्ट्रीय अर्हता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) उत्तीर्ण करने वाले सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को क्षैतिज आधार पर 7.5 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 6:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तमिलनाडु में मुख्य विपक्षी दल द्रमुक ने बुधवार को कहा कि वह अन्नाद्रमुक सरकार के साथ राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को मेडिकल दाखिले में 7.5 प्रतिशत कोटा देने की मांग को लेकर प्रदर्शन करने को तैयार हैं.

मेडिकल दाखिले में 7.5 प्रतिशत कोटा देने की मांग
द्रमुक ने यह घोषणा सत्तारूढ़ दल द्वारा राज्यपाल से संबंधित विधेयक को यथाशीघ्र मंजूरी देने की मांग किए जाने के एक दिन बाद की.

मुख्यमंत्री को विरोध प्रदर्शन की घोषणा करनी चाहिए
द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने ट्वीट कर कहा कि मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी को सामने आना चाहिए और विपक्षी पार्टियों से मामले में परामर्श कर विरोध प्रदर्शन की घोषणा करनी चाहिए.



विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने कहा, ‘‘इस मामले में द्रमुक, राज्य की अन्नाद्रमुक सरकार के साथ मिलकर विरोध प्रदर्शन करने को तैयार है. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री को सामने आकर एवं पार्टियों से परामर्श कर प्रदर्शन की घोषणा करनी चाहिए.’’

ये भी पढ़ें-
BPSC 66th Prelims 2020: प्री एग्‍जाम के लिए आवेदन की तारीख बढ़ी, रिक्तियों की संख्या भी बढ़ाई
12th supplementary result : मध्य प्रदेश बोर्ड ने जारी किया 12वीं सप्लीमेंट्री का रिजल्ट, यहां करें चेक

7.5 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान 
स्टालिन ने राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को भी पत्र लिखकर विधानसभा से 15 सितंबर को इस संबंध में पारित विधेयक को तुरंत मंजूरी देने की मांग की. इस विधेयक में राष्ट्रीय अर्हता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) उत्तीर्ण करने वाले सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को क्षैतिज आधार पर 7.5 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज