NEET results 2020: NEET परीक्षा में सबसे अधिक यूपी के छात्र हुए सफल, इस स्कूल के 166 छात्रों ने भी किया कमाल

नीट रिजल्ट जारी हो चुका है.
नीट रिजल्ट जारी हो चुका है.

नीट परीक्षा में राजस्थान के 65,758 छात्र, केरल के 59,404 छात्र और कर्नाटक के 55,009 छात्र उत्तीर्ण हुए हैं. दिल्ली से 23,554 और हरियाणा से 22,395 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 5:20 PM IST
  • Share this:
NEET results 2020: NEET परीक्षा में सबसे अधिक यूपी के छात्र हुए सफल, इस स्कूल के 166 छात्रों ने भी किया कमालनई दिल्ली. मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट में इस वर्ष सबसे अधिक उत्तीण होने वाले विद्यार्थी उत्तरप्रदेश से हैं, जबकि दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र के छात्र हैं. राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) की तरफ से मुहैया कराए गए आंकड़ों में यह जानकारी मिली है.

88,889 विद्यार्थी उत्तरप्रदेश से उत्त्तीर्ण 
देश भर में एमबीबीएस के पाठ्यक्रमों में नामांकन के लिए करीब 13.66 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी जिसमें से करीब 7.7 लाख छात्र पास हुए हैं. एक अधिकारी ने बताया, ‘‘इस वर्ष नीट में सर्वाधिक 88,889 विद्यार्थी उत्तरप्रदेश से उत्त्तीर्ण हुए हैं जबकि महाराष्ट्र से 79,974 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं.’’

ये है राजस्थान, कर्नाटक, दिल्ली, हरियाणा का रिजल्ट
नीट परीक्षा में राजस्थान के 65,758 छात्र, केरल के 59,404 छात्र और कर्नाटक के 55,009 छात्र उत्तीर्ण हुए हैं. दिल्ली से 23,554 और हरियाणा से 22,395 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं. राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) का परिणाम शुक्रवार को जारी किया गया था.



छात्राओं के उत्तीर्ण होने का प्रतिशत ज्यादा
अधिकारी ने बताया, ‘‘परीक्षा में छात्राओं के उत्तीर्ण होने का प्रतिशत ज्यादा है. परीक्षा में जहां 4.27 लाख छात्राएं पास हुई हैं वहीं 3.43 लाख छात्र उत्तीर्ण हुए हैं. परीक्षा में बैठने वाले चार किन्नर विद्यार्थियों में से एक पास हुआ है.’’

77 फीसदी से अधिक छात्रों ने अंग्रेजी में परीक्षा दी 
नीट परीक्षा को कोविड-19 महामारी के कारण कड़े एहतियात के साथ 13 सितम्बर को आयोजित किया गया था. इस बार परीक्षा का आयोजन 11 भाषाओं -अंग्रेजी, हिंदी, असमी, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मराठी, ओडिया, तमिल, तेलुगू और उर्दू में किया गया था. शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार,77 फीसदी से अधिक छात्रों ने अंग्रेजी में परीक्षा दी जबकि करीब 12 फीसदी ने हिंदी में और 11 फीसदी ने अन्य भाषाओं में .

छत्तीसगढ़ के ‘प्रयास’ स्कूल के 166 छात्र नीट में सफल
छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से संचालित ‘प्रयास’ आवासीय स्कूल के 166 छात्र राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) में सफल हुए हैं. इनमें से कई छात्र नक्सल प्रभावित इलाकों से हैं. यह जानकारी रविवार को एक अधिकारी ने दी. राज्य आदिवासी कल्याण विभाग की निदेशक शम्मी आबिदी ने कहा कि इन स्कूलों के 367 छात्रों ने नीट की परीक्षा दी थी.

स्थानीय प्रशासन की पहल के तहत शिक्षा दी जा रही है
उन्होंने कहा, ‘‘परीक्षा में पास होने वाले 166 विद्यार्थियों में से 38 छात्राएं प्रयास कन्या आवासीय स्कूल रायपुर की, 33 दुर्ग से, 26 बस्तर से, 24 बिलासपुर से, 19 रायपुर से, 17 अंबिकापुर से और नौ कांकेर से हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसके अलावा 34 छात्र नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा और 15 जशपुर से हैं जिन्हें स्थानीय प्रशासन की पहल के तहत शिक्षा दी जा रही है और उन्होंने नीट पास की है.’’

प्रयास कार्यक्रम- आदिवासी कल्याण विभाग के तहत 2010 में शुरू
प्रयास कार्यक्रम को आदिवासी कल्याण विभाग के तहत 2010 में शुरू किया गया था, जिसका उद्देश्य नक्सल प्रभावित, आदिवासी और पिछड़े जिलों के छात्रों को शिक्षा मुहैया कराना है. वर्तमान में राज्य के आठ जिलों में इस तरह के नौ स्कूल हैं.

ये भी पढ़ें-
CUCET results 2020: इंतजार खत्‍म, cucetexam.in पर जारी हुआ परिणाम
SSC CHSL Exam 2020: कर्मचारी चयन आयोग ने जारी की जरूरी नोटिस, सीएचएसएल अभ्‍यर्थी जरूर पढ़ें

नियमित शिक्षा के साथ विशेष कोचिंग
नक्सल प्रभावित जिलों में दसवीं कक्षा की परीक्षा अच्छे अंकों से पास करने वाले छात्रों को प्रयास में 11वीं कक्षा में नामांकन दिया जाता है, जहां उन्हें नियमित शिक्षा के साथ विशेष कोचिंग दी जाती है ताकि वे मेडिकल, इंजीनियरिंग आदि की परीक्षाएं पास कर सकें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज