• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • नीट घोटाला: CB CID ने दूसरों का पेपर लिखने वाले आरोपियों की फोटो जारी की

नीट घोटाला: CB CID ने दूसरों का पेपर लिखने वाले आरोपियों की फोटो जारी की

साल 2019  में तमिलनाडु में सामने आए नीट घोटाले मामले में आरोपी छात्रों की फोटो जारी की गई हैं.

साल 2019 में तमिलनाडु में सामने आए नीट घोटाले मामले में आरोपी छात्रों की फोटो जारी की गई हैं.

तमिलनाडु क्राइम ब्रांच( Crime Branch)- क्राइम इंवेस्टिगेशन डिपार्टमेंट (सीबी सीआईडी) ने घोटाले में शामिल मेडिकल छात्रों की तस्वीरें जारी की है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. साल 2019 में तमिलनाडु में सामने आए नीट घोटाले मामले में आरोपी छात्रों की फोटो जारी की गई हैं. तमिलनाडु क्राईम ब्रांच- क्राईम इंवेस्टिगेशन डिपार्टमेंट (सीबी सीआईडी) ने घोटाले में शामिल मेडिकल छात्रों की तस्वीरें जारी की है. सीबी सीआईडी ने मंगलवार को ऐसे दस लोगों की फोटो जारी की जिनकी परीक्षा उनकी जगह दूसरे लोग दे रहे थे. मामला तमिलनाडु के एक मेडिकल कॉलेज का है, जहां एक की जगह दूसरा आदमी परीक्षा दे रहा था.

    नीट घोटाला सामने आने के बाद से ही मामले की जांच सीबी सीआईडी कर रही थी. सीबी सीआईडी ने मंगलवार को तमिलनाडु राज्य के इन उम्मीदवारों के लिए नीट परीक्षा देने वाले संदिग्ध नकलचियों की तस्वीरें सार्वजनिक की है. इन कुल 10 फोटो में दो महिलाएं भी शामिल हैं. साथ ही पुलिस ने जनता से इनकी पहचान कर 9443884395 पर या depccwcbcid@tn.gov.in पर जानकारी देने को भी कहा है.

    ऐसे सामने आया था घोटाला
    तमिलनाडु में हुआ यह घोटाला पिछले साल सितंबर में सामने आया था. यहां के स्थानीय थेनी मेडिकल कॉलेज के एक मेडिकल छात्र केवी उदित सूर्या के नीट कार्ड पर लगी तस्वीर एग्जाम देने आए अभ्यर्थी से मैच नहीं करने पर शिकायत की थी. इसके बाद जांच में सामने आया कि सूर्या नीट में दो बार फेल हो चुका था. उसने हाल ही में मुंबई को परीक्षा केंद्र चुना था, जहां एक प्रॉक्सी ने उसका एग्जाम लिखा था.

    14 आरोपी हो चुके हैं गिरफ्तार
    सूर्या के डॉक्टर पिता वेंकटेशन, गवर्नमेंट स्टेनली हॉस्पिटल में काम करते थे, जो बेटे के साथ घटना के बाद से ही छुपे हुए थे. पुलिस ने दोनों को तिरुपति से पकड़ लिया. मामले में पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 120 (बी) (आपराधिक साजिश), 419 (धोखाधड़ी) और 420 (धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति की डिलीवरी) के तहत मामला दर्ज किया है. वहीं मामले में अभी तक कुल 14 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. फिलहाल इस मामले की जांच जारी है, जिसके तार देश के अन्य कोनों से जुड़े हो सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- अगर आपको चाहिए नौकरी तो इन पांच एप्स पर तुरंत अपलोड कर दें रिज्यूम

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज