लाइव टीवी

Success Story: NEET एग्जाम क्लियर करने वाला राजस्थान के गांव का ये लड़का 10वीं में हुआ था फेल

News18Hindi
Updated: July 1, 2019, 5:22 AM IST
Success Story: NEET एग्जाम  क्लियर करने वाला राजस्थान के गांव का ये लड़का 10वीं में हुआ था फेल
MBBS पूरा करने के बाद, जोधाराम 'सुपर 30 के आनंद कुमार' की तरह अपने गांव में मेधावी छात्रों की मदद करना चाहते हैं.

MBBS पूरा करने के बाद, जोधाराम 'सुपर 30 के आनंद कुमार' की तरह अपने गांव में मेधावी छात्रों की मदद करना चाहते हैं.

  • Share this:
ये कहानी है राजस्थान के बाड़मेर जिले में गुढ़ामालानी तहसील के डेडावास गांव के निवासी जोधाराम पटेल की. जोधाराम ने पांच साल की कड़ी मेहनत के बाद NEET एग्जाम क्लियर किया. साल 2012 में जोधाराम 10वीं में फेल हुए थे. जिसके बाद उनके पिता ने उन्हें मुंबई में एक मैनुअल लेबर जॉब सर्च करने के लिए कहा. लेकिन जोधाराम के बड़े भाई मेवाराम पटेल और उनके प्रिंसिपल ने कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित किया.

12वीं में जोधाराम ने फिर से खराब अंक (60 प्रतिशत) हासिल किए. उन्हें असफलता की आवाज़ें फिर से घेरे थीं. 12वीं के रिजल्ट के बाद उन्हें फिर से लोगों ने छोटी-मोटी नौकरी खोजने और खेती में परिवार की मदद करने की सलाहें दीं. लेकिन वे डॉक्टर बनने का ख्वाब पाले हुए हैं. इसके लिए उन्होंने NEET exam में बेहतर रैंक पाने के लिए लगातार पांच सालों तक कड़ी मेहनत की.

इस साल जोधाराम को उनकी मेहनत का फल मिला और उन्होंने NEET exam में ऑल इंडिया 3,886 रैंक हासिल की. इस साल नीट एग्जाम क्लियर करने वाले वे अपने गांव के पहले शख्स हैं. साल 2004 में उनके गांव का एक और शख्स डॉक्टर बना था. नीट एग्जाम के अलावा जोधाराम ने AIIMS एग्जाम में भी 5,391वीं रैंक हासिल की.

अब जोधाराम को अपनी NEET रैंकिंग के जरिए जोधपुर सम्पूर्णानंद मेडिकल कॉलेज में दाखिला मिलने की उम्मीद हैं. क्योंकि उन्हें एम्स के जरिए अपनी पसंद का कोई भी कॉलेज नहीं मिल रहा.

MBBS पूरा करने के बाद, जोधाराम 'सुपर 30 के आनंद कुमार' की तरह अपने गांव में मेधावी छात्रों की मदद करना चाहते हैं. बता दें कि जोधाराम का गांव जोधपुर से 200 किलोमीटर दूर है. वहां 2010 तक बिजली भी नहीं थी. गांव की हालत शिक्षा के अनुकूल नहीं थी. इसलिए उन्होंने अपनी स्कूलिंग  के.आर.पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल, जोधपुर से की. वहां के प्रिंसिपल कुपारामजी ने उन्हें 10वीं के बाद पढ़ाई नहीं छोड़ने के लिए काफी प्रेरित किया.

जोधाराम ने तैयारी के लिए साल 2018 में कोटा का Allen Institute जॉइन किया. उन्होंने नीट एग्जाम क्लियर कराने का श्रेय इंस्टिट्यूट के टीचिंग मेथड को दिया.

ये भी पढ़ें-
Loading...

IIT-Delhi में गुजरात के डांग जिले के पहले आदिवासी ने लिया दाखिला
UPSC Civil Services Exam: IAS की तैयारी के लिए नहीं है कोई शॉर्टकट, लंबे समय तक पढ़ाई करने में मदद करेंगी ये तकनीकें
RRB NTPC Admit Card 2019: जानें कब जारी होगा एडमिट कार्ड, पासिंग मार्क्स और सेलेक्शन प्रोसेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 1, 2019, 5:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...