NIOS Board Exam 2020: नेशनल ओपन स्कूल के 10वीं-12वीं के एग्जाम फिर स्थगित, जानिए अब क्या होगा

NIOS Board Exam 2020: नेशनल ओपन स्कूल के 10वीं-12वीं के एग्जाम फिर स्थगित, जानिए अब क्या होगा
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते ये फैसला लिया गया है.

National Institute of Open Schooling यानी एनआईओएस (NIOS) की दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं की नई तारीखों का ऐलान जल्द किया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. नेशनल इंस्टीट्यूट आफ ओपन स्कूलिंग (National Institutes of Open Schooling) यानी एनआईओएस (NIOS) ने भी अब दसवीं और बारहवीं के बोर्ड एग्जाम स्थगित कर दिए हैं. एनआईओएस ने ये फैसला देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया है. परीक्षा की नई तारीखों का ऐलान जल्द कर दिया जाएगा. एनआईओएस नई तिथियों को आधिकारिक वेबसाइट nios.ac.in पर जारी करेगा. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते एनआईओएस बोर्ड की दसवीं और बारहवीं की थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों परीक्षाओं को स्थगित किया गया है.

17 जुलाई से शुरू होनी थी परीक्षा
नेशनल इंस्टीट्यूट आफ ओपन स्कूलिंग (National Institutes of Open Schooling) की दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं 17 जुलाई से शुरू होनी थी. इस बारे में जारी आधिकारिक नोटिस में छात्रों से वेबसाइट पर नजर रखने को कहा गया है. पूर्व निर्धारित शेड्यूल के मुताबिक नेशनल ओपन स्कूल की दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं 24 मार्च से आयोजित की जानी थी. मगर कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते इन परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया था. बाद में संशोधित कार्यक्रम के अनुसार ये परीक्षाएं 17 जुलाई से आयोजित करना तय किया गया. मगर अब इस तिथि को भी परीक्षाएं नहीं होंगी. नई तारीखों का ऐलान जल्द किया जाएगा.

ये भी पढ़ें
बड़ा कदम : 23 साल का इंतजार खत्म, प्रसार भारती ने गठित किया रिक्रूटमेंट बोर्ड



बड़ी खबर: प्राइमरी कक्षाओं के ल‍िए NCERT ने जारी क‍िया कैलेंडर, यहां चेक करें

सीबीएसई और आईसीएसई की परीक्षाएं हो चुकी हैं स्थगित
बता दें कि इससे पहले, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई भी जुलाई में होने वाली दसवीं और बारहवीं की लंबित परीक्षाएं रद्द कर चुका है. इसके साथ ही आईसीएसई बोर्ड ने भी परीक्षाएं रद्द करने का फैसला ले लिया था. अब नीट और जेईई मेन की परीक्षा को भी रद्द या स्थगित करने पर लगातार विचार किया जा रहा है. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर निकट भविष्य में परीक्षाएं आयोजित होने की संभावना न के बराबर नजर आ रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज