मध्य प्रदेश के इन सरकारी शिक्षकों को भी अब मिलेगा सामूहिक बीमा योजना का लाभ

जीवित रहने पर शिक्षक को रिटायरमेंट के बाद ब्याज सहित बीमा राशि दी जाएगी.

जीवित रहने पर शिक्षक को रिटायरमेंट के बाद ब्याज सहित बीमा राशि दी जाएगी.

Bhopal. अगर शिक्षक की मौत हो जाती है तो उच्च माध्यमिक शिक्षक के परिवार को 5 लाख रुपये और माध्यमिक शिक्षक और प्राथमिक शिक्षक के परिवार को ढाई लाख रुपये दिये जाएंगे.

  • Share this:

भोपाल. कोरोना संक्रमण के बीच मध्य प्रदेश (MP) में शिक्षकों (Teachers) के लिए राहत भरी खबर है. उच्च माध्यमिक शिक्षक, माध्यमिक शिक्षक और प्राथमिक शिक्षकों को भी अब सामूहिक बीमा योजना का लाभ मिलेगा. किसी शिक्षक की किसी अन्य कारण सहित अगर कोरोना से भी मौत होती है तब भी उसके परिवार को इस बीमा योजना के ज़रिए मदद दी जाएगी. लोक शिक्षण संचालनालय ने इसके आदेश जारी कर दिये हैं.

लोक शिक्षण संचालनालय ने उच्च माध्यमिक शिक्षक, माध्यमिक शिक्षक और प्राथमिक शिक्षकों को सामूहिक बीमा योजना का लाभ देने का आदेश जारी किया है. आदेश में कहा गया है कि 1 जुलाई 2018 और इसके बाद नियुक्त हुए शिक्षकों को भी इसमें शामिल किया जाए. बीमा योजना का लाभ प्रदेश भर के 2 लाख 87 हज़ार शिक्षकों को मिलेगा. उच्च माध्यमिक शिक्षक का 5 लाख का और माध्यमिक शिक्षक और प्राथमिक शिक्षक का ढाई लाख का बीमा किया जाएगा.

कोरोना से मौत का बीमा

इस बीमा योजना के लिए शिक्षकों के वेतन से हर महिने 200 रुपये काटे जाएंगे. अगर शिक्षक की मौत हो जाती है तो उच्च माध्यमिक शिक्षक के परिवार को 5 लाख रुपये और माध्यमिक शिक्षक और प्राथमिक शिक्षक के परिवार को ढाई लाख रुपये दिये जाएंगे. अगर शिक्षक जीवित रहते हैं तो रिटायर होने पर ब्याज के साथ बीमा की राशि दी जाएगी. कोरोना से मौत होने पर भी सभी अध्यापक संवर्ग के शिक्षकों को सामूहिक बीमा योजना का लाभ भी मिलेगा.


2018 में अध्यापक संवर्ग को नियमित किया गया था और उसके बाद स्कूल शिक्षा विभाग ने इन्हें राज्य शिक्षा सेवा में शामिल कर नियमित शिक्षक का दर्जा दे दिया था.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज