नवीन पटनायक ने पार्टी विधायकों से कहा- जेईई-नीट परीक्षा देने वाले छात्रों की करें मदद

नवीन पटनायक ने पार्टी विधायकों से कहा- जेईई-नीट परीक्षा देने वाले छात्रों की करें मदद
विधायकों से छात्रों की मदद करने को कहा है.

पार्टी के विधायकों से बात करते हुए नवीन पटनायक ने कहा कि 'कोविड-19 मैनेजमेंट और बाढ़ की स्थिति हमारे सामने दो बड़ी चुनौतियां हैं. छात्र समाज का भविष्य हैं. इन्हें हमारे समर्थन की जरूरत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2020, 3:24 PM IST
  • Share this:
NEET, JEE mains 2020: ओडिशा के मुख्यमंत्री (Odisha Chief Minister) और बीजू जनता दल के नेता नवीन पटनायक (Naveen Patnaik) ने रविवार को अपने पार्टी के विधायकों से कहा है कि वे जेईई और नीट की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की मदद करें. कोरोना वायरस महामारी और बाढ़ की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री ने ये प्रस्ताव रखा है. पार्टी के विधायकों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 'कोविड-19 मैनेजमेंट और बाढ़ की स्थिति हमारे सामने दो बड़ी चुनौतियां हैं. छात्र समाज का भविष्य हैं. इन्हें हमारे समर्थन की जरूरत है. इसलिए मैं आप सभी से अपने अपने क्षेत्रों में छात्रों की मदद करने की अपील करता हूं.' आगे उन्होंने कहा, 'कोविड-19 और बाढ़ की स्थिति को देखते हुए मैंने केंद्र सरकार से जेईई और नीट परीक्षा को टालने के लिए कहा था. हालांकि, परीक्षा को टाला नहीं गया. अब परीक्षा होने वाली है तो हमें अपने बच्चों को सपोर्ट करना चाहिए.'

की गई है ट्रांसपोर्टेशन और रहने की व्यवस्था
आगे उन्होंने कहा, राज्य सरकार ने फ्री ट्रांसपोर्टेशन और रहने के लिए फ्री में व्यवस्था की है ताकि बच्चे अच्छे से परीक्षा दे सकें. जो भी जरूरी है वह सब कुछ करें ताकि बच्चे अच्छी तरीके से परीक्षा दे पाएं. बता दें कि इसके पहले राज्य सरकार ने कोविड-19 की स्थिति में जेईई-नीट परीक्षा के मद्देनज़र तमाम बाध्यताओं को हटा दिया था और नोडल सेंटर्स बनाए थे ताकि छात्रों को सुविधा प्रदान की जा सके.

ये भी पढ़ें
दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल ने जेईई-नीट परीक्षा कराने की दी अनुमति!


NEET 2020: परीक्षा में रह गए हैं बस कुछ ही दिन, कम समय में ऐसे करें तैयारी

कामकाजी महिलाओं के मदद का भी दिया निर्देश
पटनायक ने विधायकों को लॉकडाउन के चलते प्रभावित हुए स्वयं सहायता समूहों और कामकाजी महिलाओं की मदद का भी निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि इसके लिए वे संबंधित अधिकारियों को एमएलए लोकल एरिया डेवलपमेंट फंड के लिए 1 करोड़ रुपये का अतिरिक्त आवंटन करने का निर्देश दे चुके हैं. उन्होंने कहा कि इस धनराशि को स्वयं सहायता समूहों और कामकाजी महिलाओं के लिए मास्क, सेनिटाइजर और अन्य सुरक्षात्मक उपायों के लिए खर्च किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज