साल 2018 में एक करोड़ से ज्यादा लोग हुए बेरोजगार, गांव में 83% लोगों की गई नौकरी!

CMIE की रिपोर्ट के मुताबिक, दिसंबर 2017 में 40.78 करोड़ लोगों के पास रोजगार था जो अब दिसंबर 2018 में घटकर 39.69 करोड़ हो गया है.

News18Hindi
Updated: January 7, 2019, 5:36 PM IST
साल 2018 में एक करोड़ से ज्यादा लोग हुए बेरोजगार, गांव में 83% लोगों की गई नौकरी!
भारत में एक करोड़ लोग हुए बेरोजगार, गांव में 83 फीसदी की गई नौकरी!
News18Hindi
Updated: January 7, 2019, 5:36 PM IST
भारतीय अर्थव्यवस्था पर निगरानी रखने वाली संस्था CMIE ने बेहद ही चौंकाने वाले आंकड़े पेश किए हैं. आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 27 महीनों में बेरोजगारी दर सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई है. वहीं साल 2018 में भारत में एक करोड़ से ज्यादा लोग बेरोजगार हुए हैं और इसका सबसे ज्यादा असर ग्रामीण इलाकों में हुआ है. दिसंबर 2018 में बेरोजगारी 27 महीनों के सबसे उच्चतम स्तर 7.38 फीसदी पर पहुंच गई. साथ ही 12 महीनों में 1.09 करोड़ लोगों को रोजगार खोना पड़ा है.

सीएमआईई के आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर 2017 में जहां 40.78 करोड़ लोगों के पास रोजगार था, वहीं दिसंबर 2018 में ये आंकड़ा घटकर 39.69 करोड़ रह गया. आंकड़ों पर नजर डालें तो ग्रामीण क्षेत्रों में 83 फीसदी लोगों ने नौकरियां खोई हैं. 2018 में जो 1.09 करोड़ नौकरियां लोगों ने खोई हैं, इनमें 91.4 लाख लोग ग्रामीण क्षेत्रों के हैं. 2017 के मुकाबले 2018 में ग्रामीण इलाकों में नौकरी खोने वाले लोगों की तादाद में बड़ा इजाफा हुआ है.

रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में शहरी इलाकों में रोजगार पाने वालों की संख्या में जहां 35.5 लाख का इजाफा हुआ था, वहीं ग्रामीण इलाकों में 2017 में 10 लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी नौकरी खोई थी.



सीएमआईई की रिपोर्ट में सामने आया है कि बेरोजगारी का स्तर बढ़ने के साथ-साथ लेबर पार्टिसिपेशन रेट में भी गिरावट आई है. नवंबर 2017 में जहां बेरोजगारी का स्तर 6.62 फीसद था वहीं सिर्फ एक महीने में दिसंबर में ये बढ़कर 7.38 फीसद हो गया. वहीं दिसंबर 2017 में बेरोजगारी का स्तर 4.78 फीसद था. ये सितंबर 2016 में बेरोजगारी के सबसे उच्चतम स्तर 8.46 के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...