पाकिस्तान ने 100 किताबों पर लगाया बैन, कहा उनमें है 'देश-विरोधी' सामग्री

पाकिस्तान ने 100 किताबों पर लगाया बैन, कहा उनमें है 'देश-विरोधी' सामग्री
बोर्ड मैनेजिंग डायरेक्टर राय मंज़ूर हुसैन नासिर ने लाहौर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी.

बोर्ड मैनेजिंग डायरेक्टर राय मंज़ूर हुसैन नासिर ने लाहौर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इन किताबों में पाकिस्तान और इसके बारे में निगेटिव तथ्य थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान के पंजाब करिकुलम & टेक्सट बुक बोर्ड ने स्कूलों में लगभग सौ पुस्तकों को पढ़ाए जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है. बोर्ड ने कहा कि इन किताबों में एंटी-पाकिस्तानी सामग्री शामिल है. बोर्ड मैनेजिंग डायरेक्टर राय मंज़ूर हुसैन नासिर ने लाहौर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इन किताबों में पाकिस्तान और इसके बारे में निगेटिव तथ्य थे.

उन्होंने कहा, इन किताबों में मुहम्मद अली जिन्ना और अल्लामा मुहम्मद इकबाल को नकारात्मक तरीके से पेश किया गया. कुछ उदाहरणों में व्याख्या करने के लिए सूअरों का उपयोग करने जैसी निन्दात्मक सामग्री भी ली गई है.





प्रतिबंधित किताबों में से ज्यादातर विदेशों से आईं थी या लोकल पब्लिशर से छपी थीं. नासिर ने कहा कि कुछ पुस्तकों में "पाकिस्तान को भारत के लिए एक हीन देश के रूप में चित्रित किया गया था. जबकि इन कुछ पुस्तकों में नक्शे में आज़ाद जम्मू और कश्मीर (AJK) को भारत के हिस्से के रूप में दिखाया गया था. उन्होंने कहा कि यह अस्वीकार्य था और यह पाकिस्तान में बच्चों के दिमाग में जहर घोलने की साजिश थी.
उन्होंने कहा कि इन किताबों में क़ैद-ए-आज़म मुहम्मद अली जिन्ना और अल्लामा मुहम्मद इकबाल को शामिल करने के बजाय महात्मा गांधी और कुछ अज्ञात लोगों के बारे में जिक्र है. उन्होंने कहा एक तरफ गांधी का महिमामंडन करना और दूसरी ओर पाकिस्तान के राष्ट्रीय नायकों को नीचा दिखाना सही नहीं था.

ये भी पढ़ें-
EWS वर्ग का आय प्रमाण पत्र केंद्रीय नौकरियों, शैक्षिक संस्थानों में होगा मान्य
यूजीसी के फाइनल ईयर एग्जाम रूल के खिलाफ 31 छात्र पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

गणित की एक किताब में, गिनती की अवधारणाओं को सूअर की तस्वीरें दिखाते हुए समझाया गया था, जो अस्वीकार्य था. एक अन्य उदाहरण में, उन्होंने कहा कि एक किताब में देश में बेरोजगारी पर जिक्र करते हुए छात्रों के बीच अपराध और हिंसा को बढ़ावा देने की कोशिश थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading